WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

11 मार्च 2024 कक्षा 11 गणित पेपर एमपी बोर्ड वार्षिक पेपर

11 मार्च 2024 कक्षा 11 गणित पेपर एमपी बोर्ड वार्षिक पेपर

नमस्कार दोस्तों !

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

आज हम बात करने वाले हैं कक्षा 11 गणित की तैयारी कैसे कर सकते हैं जिसमें त्रैमासिक परीक्षा के बारे में सभी प्रकार की बातों पर चर्चा करेंगे । 11 मार्च 2024 कक्षा 11 गणित पेपर एमपी बोर्ड वार्षिक पेपर में कैसे विद्यार्थी गणित विषय में अच्छे अंक हासिल कर सकते हैं क्या इसकी सही रणनीति रहेगी किस प्रकार से विद्यार्थियों को तैयारी करना चाहिए सभी प्रकार की विस्तार से चर्चा की जाएगी । आज की पोस्ट में प्रमुख रूप से कौन-कौन से अध्याय ऐसे हैं जो त्रैमासिक परीक्षा में पूछे जाएंगे और उनकी कैसे तैयारी करना है सभी प्रकार की जानकारी दी जाएगी ।

🌗 पाठ्यक्रम के अनुसार करें तैयारी

दोस्तों 11 मार्च 2024 कक्षा 11 गणित पेपर एमपी बोर्ड वार्षिक पेपर के लिए सभी विद्यार्थियों के लिए बहुत आवश्यक है कि वे अपने सिलेबस के अकॉर्डिंग ही तैयारी करें। इसके बाद ही बेहतर तैयारी कर पाएंगे । सिलेबस के अकॉर्डिंग तैयारी करने से हमारा जो कीमती समय होता है उसे हम बचा लेते हैं और हमारा जो समय है वह किसी भी तरीके से बर्बाद नहीं होता ।

दोस्तों 11 मार्च 2024 कक्षा 11 गणित पेपर एमपी बोर्ड वार्षिक पेपर का जो भी आया है उसी के अनुसार ही सभी अध्याय को पढ़ना चाहिए ऐसा करने से आप त्रैमासिक परीक्षा में बेहतर परफॉर्मेंस कर पाएंगे ।

🌗 गणित में क्या-क्या आएगा

सबसे पहले गणित विषय की तैयारी के लिए परीक्षा से पहले आपको यह पता होना चाहिए कि परीक्षा में क्या-क्या आना है? और क्या नहीं आना है ?क्योंकि परीक्षा में गिने-चुने अध्याय ही आते हैं । दोस्तों इसका पता आप सिलेबस के आधार पर लगा सकते हैं सिलेबस एमपी बोर्ड के द्वारा जारी कर दिया गया है जिसमें आप पता कर सकते हैं कि परीक्षा में क्या आना है और क्या नहीं आना है ।

दोस्तों सिलेबस के आधार पर आप निर्धारित कर सकते हैं कि कौन-कौन से विषय परीक्षा में पूछे जाने हैं जो त्रैमासिक परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण है और उन्हीं को आप बेहतर तरीके से तैयार कर लें तो आप परीक्षा को बहुत अच्छे से दे पाएंगे ।

🌗 परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्न पर फोकस करें

दोस्तों जब आप परीक्षा की तैयारी करते हैं तब आपको सबसे महत्वपूर्ण बात यह याद रखना है कि आप जो भी सीखते हैं जो भी प्रश्न पढ़ते हैं उसे बहुत ही बारीकी से पढ़ें और समझें ।

दोस्तों परीक्षा में जो प्रश्न आते हैं उनको हल करने से पहले आप उन्हें अच्छे से समझ लें इसके बाद ही उनको हल करें क्योंकि कभी-कभी छोटी सी गलती पूरे प्रश्न को गलत कर देती है । दोस्तों प्रश्न हल करते समय प्रश्न पर ज्यादा फोकस करें तो आप बहुत अच्छा कर पाएंगे ।

🌗 कमजोर विषय को ज्यादा समय दें

दोस्तों ज्यादातर विद्यार्थी गणित में कमजोर होते हैं क्योंकि यह एक ऐसा विषय है जिसमें कैलकुलेशन होना चाहिए अर्थात दिमाग बहुत ज्यादा मात्रा में खर्च होता है । गणित को सीखने का सबसे बेहतर और आसान तरीका होता है कि उस पर बार-बार अभ्यास किया जाए ।

गणित पर जितनी ज्यादा बार अभ्यास होता है वह उतनी ज्यादा बार हमारे दिमाग में बैठ जाती है और हम उसे सीख जाते हैं ।

दोस्तों यदि आपकी गणित कमजोर है तो आप उसकी कोचिंग भी ले सकते हैं क्योंकि कोचिंग लेना कभी भी बेकार नहीं होता आप कमजोर विषय को बहुत अच्छा मजबूत कर सकते हैं । कोचिंग पढ़ने के बाद आपके लिए सबसे महत्वपूर्ण है कि आप घर जाकर जो पढ़ाया गया है उस पर बार-बार अभ्यास करें ।

🌗 प्रतिदिन पढ़ाई पर ध्यान दें

दोस्तों कभी कभी विद्यार्थी सोमवार से लेकर शनिवार तक तो पड़ता है और वह यह सोच लेता है कि शनिवार के बाद अगला दिन रविवार है तो रविवार को पूरा सोएंगे । विद्यार्थी की यही गलती धीरे-धीरे बहुत बड़ी गलती हो जाती है क्योंकि एक हफ्ते में एक दिन पूरा बर्बाद हो जाता है और 1 महीने में कम से कम 4 दिन बर्बाद हो जाते हैं ।

दोस्तों एक दिन में आप जितनी तैयारी करते हैं उस हिसाब से 1 महीने में 4 दिन की तैयारी को आप पीछे छोड़ देते हैं अर्थात आपको इतनी मेहनत और ज्यादा करनी होती है । यदि आप सोमवार से लेकर रविवार तक अर्थात प्रत्येक के दिन परीक्षा की तैयारी करें तो आप 95% से भी अधिक अंक हासिल कर सकते हैं और ऐसा करते रहने से आप अपने जिले में अथवा अपने राज्य में अभी टॉप कर सकते हैं ।

टॉप करने वाले विद्यार्थियों की सबसे खास बात यह होती है कि वे प्रत्येक दिन पढ़ाई करते हैं अर्थात उनके लिए कोई भी दिन ऐसा नहीं होता है कि वह छुट्टी पर चले जाएं । हालांकि समय-समय पर भी अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देने के लिए खेल जैसी एक्टिविटी भी करते रहते हैं । क्योंकि खेलना स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है और खेलने के बाद जब हम पढ़ते हैं तो हमारा पढ़ाई में भी मन लगता है ।

🌗 मोबाइल पर कम ध्यान दें

कई विद्यार्थियों को मोबाइल गेम की आदत पड़ जाती है हालांकि ऑनलाइन स्टडी होने के कारण कई विद्यार्थी मोबाइल का उपयोग कर रहे हैं । दोस्तों ऑनलाइन पढ़ना कक्षा 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए तब तक उचित था जब तक कोरोना का समय था ।

दोस्तों मोबाइल में ज्यादातर एक से अधिक विकल्प होते हैं और हम अपना पढ़ाई में ज्यादा समय नहीं दे पाते कभी-कभी ऐसे नोटिफिकेशन आते हैं कि हमारा एक घंटा पूरा बर्बाद हो जाता है ।

दोस्तों आपकी परीक्षा बहुत नजदीक है और परीक्षा कोई भी हो आपको परीक्षा पर ही फोकस करना चाहिए यदि आपको मोबाइल की ज्यादा आदत है तो उसे पहले धीरे धीरे कम करें और एक समय ऐसा आएगा जब आप उसे पूरा त्याग देंगे । दोस्तों जब आपको ऑनलाइन पढ़ने की आवश्यकता हो तब आपको मोबाइल का प्रयोग भी करना चाहिए परंतु मोबाइल के प्रयोग का एक निश्चित समय होना चाहिए फालतू समय बर्बाद नहीं करना चाहिए।

🌗 रोज पढ़ाई पर ध्यान दें

दोस्तों कई बार क्या होता है हम पढ़ते तो है परंतु कभी-कभी हमारा मन करता है कि हम आज पढ़ाई को छोड़ देते हैं कल कर लेंगे ।  कल कर लेने वाला जो फार्मूला होता है वह हमारे जीवन में अगर प्रवेश कर गया तो समझो हमारी जिंदगी तबाह हो गई ।

दोस्तों कोई भी काम आप कल पर बिल्कुल भी ना डालें आप जो भी करना चाहते हैं उसे आज ही करें और कोशिश यह करें कि आप जिस समय काम के बारे में सोच रहे होते हैं उसी समय से काम करना स्टार्ट कर दें । पढ़ाई करने का कोई निश्चित समय नहीं होता है आप जब चाहे जब आपका मन करे तब आप पढ़ सकते हैं परंतु पढ़ने का सबसे बढ़िया तरीका यह है कि आपको प्रतिदिन पढ़ना है ।

दोस्तों कहा जाता है बूंद– बूंद के बरसने से धीरे-धीरे 1 दिन बाद का सामना करना पड़ता है ठीक वैसे ही प्रतिदिन पढ़ते रहने से विद्यार्थी परीक्षा में टॉप कर जाता है ।

🌗 गणित की शुरुआत कहां से करें

दोस्तों कई बार विद्यार्थी कक्षा दसवीं की परीक्षा पास करने के बाद अपने लिए कक्षा ग्यारहवीं में गणित विषय का चयन करते हैं । दोस्तों किसी भी चीज का चुनाव अथवा कैरियर का चुनाव हमारे जीवन में बहुत महत्व रखता है आप अपने लिए जो चुनते हैं उसी के अनुसार उसका परिणाम भी पाते हैं ।

आप जितनी अच्छी मेहनत करेंगे उसका परिणाम भी आपको उतना अच्छा ही मिलेगा । दोस्तों गणित विषय में जितना ज्यादा अभ्यास होगा वह विद्यार्थी को उतनी ही ज्यादा आती है ।

कई विद्यार्थी सोचने लगते हैं कि उनको गणित नहीं आती है जबकि ऐसा नहीं है जब हम उसे सीखने का प्रयास करेंगे बार-बार उस पर अभ्यास करेंगे तो वह अपने आप आने लगती है ।

गणित की शुरुआत हमेशा बेसिक तरीके से करना चाहिए इसका अर्थ है कि सबसे पहले आपको ऐसी चीजें आना चाहिए जो बहुत छोटी-छोटी हैं परंतु आप को एकदम याद होना चाहिए इतना ज्यादा प्रैक्टिस होना चाहिए ।

🌗 किस तरीका से पढ़ें

दोस्तों यह बिल्कुल सत्य है कि पढ़ने के तरीके से ही विद्यार्थी परीक्षा में टॉप करता है और परीक्षा से ही अगर किसी विद्यार्थी को टॉप करने की आदत पड़ जाती है तो वह लगातार आगे भविष्य में भी टॉप करने की ही सोचता है ।

दोस्तों जब हमारी मानसिकता बन जाती है कि हमें हर हाल में वह चीज पाना है अथवा वहां तक पहुंचना है तो हम किसी न किसी रास्ते से पहुंच ही जाते हैं हालांकि परेशानियां कितनी भी हो हम हार नहीं मानते ।

दोस्तों त्रैमासिक परीक्षा से ही सबसे पहले आप अपने किसी सीनियर से जो कभी टॉप रहा हो उस से सलाह ले सकते हैं कि पढ़ने का क्या तरीका है कि मैं भी परीक्षा में टॉप कर सकूं । पढ़ने का सही तरीका ही विद्यार्थी को जीवन में आगे करता है । कई बार पढ़ते रहने से कुछ नहीं होता क्योंकि सही पढ़ने से बहुत कुछ होता है ।

🌗 गणित में कैलकुलेशन तेज होना चाहिए

विद्यार्थी के लिए सबसे महत्वपूर्ण है कि परीक्षा में उसका समय बचना चाहिए जितना समय परीक्षा के लिए दिया जाता है उससे कम समय में पूरा पेपर हल होना चाहिए । इसके लिए विद्यार्थी मॉडल पेपर हल कर सकता है और अपनी टाइमिंग सेट कर सकता है ।

दोस्तों समय से पहले पेपर करने के लिए आपके लिए सबसे बेहतर तरीका होता है कि आप अपनी कैलकुलेशन को बहुत तेज करें । कैलकुलेशन तेज करने का केवल एक ही तरीका है कि आप छोटे छोटे प्रश्नों को इतना प्रेक्टिस करने कि आपको वह हमेशा याद रहना चाहिए ।

जैसे वर्ग और वर्गमूल, घन और घनमूल, एलसीएम और एचसीएफ, परसेंटेज के मान, क्षेत्रफल तथा आयतन के बनने वाले सभी सूत्र आपके होठों पर होना चाहिए । यदि आप इतना कर लेते हैं तो कहां पर प्रत्येक प्रश्न को समय से पहले ही हल कर सकते हैं ।

🌗 अर्थमैटिक कैसे सीखे

दोस्तों अर्थमैटिक कैलकुलेशन वाला विषय होता है जिसमें ऐसे अध्याय आते हैं जो कैलकुलेशन से संबंधित होते हैं इस प्रकार के अध्याय में लगातार प्रैक्टिस की जरूरत होती है ।

परीक्षा की दृष्टि से अर्थमैटिक के बहुत कम मात्रा में प्रश्न पूछे जाते हैं परंतु सभी को पढ़ना जरूरी होता है । अर्थमेटिक के आने वाले प्रश्न ज्यादातर सरल होते हैं और उनको विद्यार्थी लगभग– लगभग हल कर लेता है । अर्थमैटिक सीखने के लिए आप अर्थमैटिक में आने वाले सभी सूत्रों को प्रैक्टिस करते रहें ।

🌗 एडवांस कैसे सीखे

दोस्तों एडवांस में ज्यादातर ऐसे प्रश्न आते हैं अथवा ऐसे अध्याय आते हैं जिनमें आकृतियां ज्यादातर बनती हैं । एडवांस मैथ के जितने भी अध्याय हैं जहां पर आकृतियों की जरूरत है आप आकृतियां बनाकर ही प्रश्नों को हल करने की कोशिश करें ।

दोस्तों एडवांस मैथ में यदि आप किसी प्रश्न की दी गई आकृति बना पाते हैं तो आप निश्चित रूप से इस प्रश्न को हल भी कर लेंगे । आकृति बनाने के बाद प्रश्न आधे से ज्यादा सॉल्व हो जाता है । एडवांस मैथ में एक अध्याय होता है त्रिकोणमिति जिसे कोई भी रट नहीं सकता इसे केवल समझ कर बार-बार अभ्यास करके ही सीखा जा सकता है ।

🌗 परीक्षा पर फोकस करें

दोस्तो सबसे पहले अगर आप की त्रैमासिक परीक्षा है तो आप का फोकस केवल परीक्षा पर ही होना चाहिए । आपके दिमाग में दुनिया भर की जितनी भी चीजें आते हैं तो आप उनको छोड़ सकते हैं अर्थात उन पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है ।

दोस्तों आपका जिस चीज पर फोकस रहेगा आप जिस चीज पर लगातार काम करते रहेंगे आप उसे हर हाल में हासिल कर सकते हैं । दोस्तों आप की परीक्षा है तो आप परीक्षा को ध्यान में रखकर ही जितनी चीजों की जरूरत है उन्हें बराबर याद कीजिएगा और परीक्षा की तैयारी करिएगा ।

🌗 जिसे गणित बिल्कुल नहीं आती वह कैसे सीखे

दोस्तों अगर गणित बिल्कुल भी नहीं आती आपने शुरुआत में ही गणित विषय को चयन किया है तो आपने गलत बिल्कुल भी नहीं किया है आपका इंटरेस्ट है इसीलिए आपने उसका चयन किया है । हालांकि सोचने वाली बात यह है कि आपको इंटरेस्ट के बाद ही किसी विषय को चयन करना चाहिए अगर आप उस विषय से इंटरेस्टेड नहीं हैं तो आपको उस विषय का चयन नहीं करना चाहिए ।

अगर आपने गणित विषय का चयन किया है और आपको बिल्कुल नहीं आती तो घबराने की बात बिल्कुल भी नहीं है सबसे पहले आपको उस विषय के प्रति अपनी जिज्ञासा जगानी होगी । गणित विषय के प्रति आपकी रुचि होना चाहिए पढ़ने का जज्बा होना चाहिए इसके बाद ही आप उसे सीख सकते हैं ।

गणित विषय में कई विद्यार्थी इतने इंटरेस्टेड होते हैं कि भी दो-दो घंटा गणित को पढ़ते रहते हैं और कभी बोर नहीं होते । शुरुआत में आप गणित पर अच्छी कैलकुलेशन और अच्छी पकड़ कर के बराबर अभ्यास करके इसे सीख सकते हैं ।

🌗 डेली रूटीन बनाएं

दोस्तों पढ़ने का डेली रूटीन होना चाहिए अर्थात आपको प्रतिदिन पढ़ने की आवश्यकता है ऐसा करते रहने से आप प्रत्येक विषय को बड़ी आसानी के साथ सीख सकते हैं और अपने समय का सही सदुपयोग कर पाएंगे। 

🌗 रिवीजन करें

दोस्तों रिवीजन करना प्रत्येक विद्यार्थी के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है एक बार पढ़ने के बाद कोई भी चीज हमेशा के लिए याद नहीं रहती इसीलिए बार-बार अभ्यास करना अर्थात पढ़ने के बाद रिवीजन करना बहुत जरूरी होता है ।

किसी भी विषय का अगर आप रिवीजन करना चाहते हैं तो सबसे पहले उसे आप एक बार पढ़ लेने के बाद 7 दिन के अंदर रिवीजन कर लें। इसके बाद जब आप दूसरा रिवीजन करें तो आप लगभग 12 दिन के पास इसका रिवीजन कर सकते हैं इसके बाद जब आप तीसरा रिवीजन करें तो 20 दिन के अंतराल पर इसका रिवीजन कर सकते हैं। ऐसा लगातार करते रहने से आप एक बेहतर तैयारी कर पाएंगे ।

it is just a model paper imp questions

नोट-This is not a viral paper, it is only a model paper. With this you can get an idea of ​​the upcoming paper and prepare better.

Join telegram

Leave a Comment