WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

21 फरवरी 2024 कक्षा 12 इतिहास पेपर वार्षिक परीक्षा 2024 एमपी बोर्ड

एमपी बोर्ड की परीक्षाओं में भूलकर भी कोई गलती नहीं करना चाहिए अन्यथा उसका भुगतान पूरी जिंदगी भर भुगतना पड़ सकता है अर्थात कहने का मतलब यह है कि कोई एक ऐसी गलती जिसके लिए हम पूरी जिंदगी भर पछताएं उससे अच्छा है कि हम उसे पहले ही समझ लें ताकि हमसे कोई गलती ना हो।

आज के आर्टिकल में हम बात करेंगे की इतिहास क्या है ?और इसकी तैयारी करने के लिए विद्यार्थियों को क्या करना चाहिए । कक्षा दसवीं के बाद जब विद्यार्थी अगली कक्षाओं में जाता है तो नॉर्मल विद्यार्थी की अपेक्षा वह काफी समझदार होता है ऐसे में विद्यार्थी के लिए बहुत आवश्यक है कि अपने जीवन की आखिरी बोर्ड की परीक्षा बहुत ही अच्छे ढंग से कैसे करें ।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

पेपर देने से पहले करें यह काम –

परीक्षा में बैठने से पहले विद्यार्थियों के लिए बहुत ही जरूरी है कि वह परीक्षा देने के तरीके के बारे में जाने ताकि परीक्षा में बैठने से पहले ही वह है होने वाली गलतियों के बारे में जान पाए। परीक्षा में बैठने से पहले यदि किसी विद्यार्थी को यह पता चल जाए की परीक्षा में बैठने पर कौन-कौन सी गलतियां हो सकती हैं तो होने वाली गलती को पहले ही रोक लिया जा सकता है।

पेपर देने से पहले हमें एक बार पेपर की तरह मॉडल पेपर को सॉल्व करने की कोशिश करना चाहिए ताकि हम यह पता लगा पाए कि हमारी तैयारी कितनी है । मॉडल पेपर सॉल्व करने के बाद हम अपनी मेहनत के बारे में जान पाते हैं और यह भी पता लगा पाते हैं कि हमें अगले पेपर के लिए कितनी मेहनत करना है ।

परीक्षा में काले और नीले पन का ही करें प्रयोग –

परीक्षा में केवल कल और नीले पन का ही प्रयोग किया जा सकता है इसके अलावा पेंसिल और रबड़ का उपयोग हो सकता है अन्य किसी लाल पेन या फिर किसी अन्य कलर का पेन परीक्षा में उपयोग में नहीं लिया जा सकता। 2024 के लिए एमपी बोर्ड की आयोजित हो रही परीक्षाओं के लिए सरकार के द्वारा निर्देश जारी कर दिए गए हैं जिसमें उन्होंने कहा है की परीक्षा सरकार की निगरानी में होगी और इसकी जबरदस्त सुरक्षा की जाएगी । सरकार के द्वारा सुरक्षा की बात इसीलिए की गई है क्योंकि कई बार फर्जी पेपर के वायरल होने पर विद्यार्थी गुमराह हो जाते हैं और उनका काफी नुकसान हो जाता ।

पेपर वायरल करने वालों को होगी जेल –

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव जी के द्वारा हाल ही में एक आदेश जारी किया गया है जिसमें उन्होंने कहा है कि यदि किसी माफिया के द्वारा फर्जी पेपर को वायरल कराया जाता है और बच्चों पर इसका बुरा असर पड़ता है तो निश्चित रूप से इस प्रकार किसी को बख्शा नहीं जाएगा और उसे जेल भेजा जाएगा। माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड की तरफ से भी यह आदेश जारी किया गया है कि सुरक्षा के हर नियम का पालन किया जाएगा और फर्जी पेपर वायरल करने वालों पर कड़ी कार्यवाही करी जाएगी ।

परीक्षा में विद्यार्थियों को लाल और हर पेन का उपयोग नहीं करना है क्योंकि इस प्रकार के पेन का उपयोग करना परीक्षा में वर्जित है और यदि कोई विद्यार्थी गलती से भी इस प्रकार के पेन का उपयोग करता है तो निश्चित रूप से उसकी जिम्मेदारी वह स्वयं लेगा।

Join telegram

Leave a Comment