WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

21 फरवरी 2024 कक्षा 12 व्यवसाय पेपर वार्षिक परीक्षा 2024 एमपी बोर्ड

एमपी बोर्ड के परीक्षार्थियों के लिए सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि बोर्ड की तरफ से मिलने वाली कॉपी के अंतर्गत जब पेपर हल किया जाता है तो शुरुआत के पांच पेज में कोई भी गलती नहीं होना चाहिए । पेपर की शुरुआत में ही यदि विद्यार्थी थोड़ा बहुत गलत कर देता है या फिर काट देता है तो आगे वाले 15 से 20 पेज के भविष्य के बारे में या फिर लिखावट के बारे में पहले से ही शिक्षक के द्वारा यह अंदाजा लगा लिया जाता है कि आगे भी बहुत सारी गलतियां होगी ।

इस प्रकार से शुरुआत के 5 पेज में विद्यार्थी यदि कोई गलती नहीं करता है तो निश्चित रूप से वह बहुत बेहतरीन कॉपी साबित होती है । आज के आर्टिकल में हम बात करेंगे कि किस तरह से बेहतरीन कॉपी को लिखा जा सकता है और विद्यार्थियों को कौन-कौन सी सावधानियां रखना चाहिए ताकि कॉपी में कोई गलती ना हो।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

ब्लैक पेन से केवल प्रश्न की संख्या डालें –

एमपी बोर्ड की कॉपी में विद्यार्थियों को पूरा प्रश्न लिखने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि यदि कोई प्रश्न हल करने के लिए केवल प्रश्न की संख्या डाल देते हैं तो निश्चित रूप से वह सही माना जाता है । प्रश्न की संख्या डालने के लिए हम ब्लैक पेन का उपयोग कर सकते हैं इसके अलावा हम ब्लैक पेन का उपयोग हेडिंग की लिए भी कर सकते हैं।

जब किसी प्रश्न में किसी टॉपिक के अंतर्गत कोई हेडिंग हाईलाइट करनी होती है तो उसके लिए हम ब्लैक पेन का उपयोग करते हैं । इसके अलावा ब्लैक पेन का उपयोग हम सही जोड़ी में देश लगाने के लिए कर सकते हैं अर्थात अगर कहीं पर हमको हाईलाइट करना है तो हम ब्लैक पेन का उपयोग करेंगे इसके अलावा ब्लैक पेन का कोई उपयोग नहीं करेंगे ।

शुरुआती पेज में कुछ भी ना लिखें !

एमपी बोर्ड के द्वारा मिलने वाली कॉपी में सबसे पहले पेज पर हमें अपने प्रवेश पत्र की जानकारी को भरना होता है जिसमें रोल नंबर से संबंध है और विषय कोड के साथ विषय की जानकारी लिखनी होती है । इसके अलावा जब हम यह जानकारी भर देते हैं तो थोड़ी बहुत किसी कॉपी में जगह बस जाती है इसके लिए विद्यार्थियों को वह जगह छोड़ देनी है । पेपर को हल करने की शुरुआत अगले पेज से ही करना चाहिए क्योंकि पहले पेज में यदि हमने अपनी पर्सनल जानकारी भर दी है जो प्रवेश पत्र में दी गई है तो उसे पेज में पेपर को हल नहीं करना है ।

एक प्रश्न को दो बार कभी न लिखें –

कई बार विद्यार्थियों के दिमाग में होता है कि यदि किसी प्रश्न का उत्तर हम दो बार लिख देंगे तो कॉपी चेक करने वाले को पता नहीं चलेगा और वह दूसरी बार हमको अंक दे देगा। इस प्रकार की मानसिकता रखने वाले विद्यार्थी अक्सर अपनी जिंदगी में धोखा खाते हैं और असल बात में कभी सफल नहीं होते। यदि किसी को लगता है कि एक प्रश्न को दो बार लिखने के बाद हमें अंक मिलते हैं तो यह पूरी तरीके से गलत है कभी भी एक प्रश्न को दूसरी बार हल नहीं करना चाहिए केवल एक ही बार परीक्षा कॉपी में लिखें ।

पेपर वायरल कौन से होते हैं ?

इंटरनेट पर जो भी पेपर वायरल होते हैं उनसे विद्यार्थियों को कोई भी मतलब नहीं होना चाहिए क्योंकि यदि वायरल पेपर के चक्कर में विद्यार्थी पड़ गए तो निश्चित रूप से अपना बहुत ज्यादा नुकसान कर लेंगे । विद्यार्थियों को एक बहुत ही अच्छी सलाह यह है कि उनको किसी वायरल पेपर पर भरोसा नहीं करना है जो भी विद्यालय में पढ़ाया गया है जो भी किताबें हैं आपके पास इस किताबों के द्वारा परीक्षा की तैयारी करें तो आपका बेहतर होगा ।

Join telegram

Leave a Comment