WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

7 मार्च 2024 कक्षा 11 संस्कृत का पेपर एमपी बोर्ड वार्षिक पेपर

पिछले दो सालों से लगातार पेपर इतनी ज्यादा वायरल हो रहे हैं कि बच्चे भी कंफ्यूज हो जाते हैं कि पेपर ओरिजिनल है या फिर डुप्लीकेट लेकिन ओरिजिनल और डुप्लीकेट पेपर में पता करना इतना आसान भी नहीं है। आपको वायरल पेपर में वही सब कुछ मिलेगा जो ओरिजिनल पेपर में होता है लेकिन थोड़ा बहुत अंतर आपको देखने को मिल भी सकता है क्योंकि अगर ओरिजिनल पेपर वायरल होने पर सरकार के द्वारा पुष्टि हो जाती है तो निश्चित रूप से दोबारा परीक्षा हो सकती है लेकिन अभी तक ऐसा नहीं हुआ है। आईए जानते हैं पेपर वायरल कैसे होते हैं और सरकार इन सभी कारनामों पर कोई प्रतिक्रिया व्यक्ति क्यों नहीं करती ।

पेपर वायरल होने पर सरकार क्यों रहती है मौन –

सोशल मीडिया पर संस्कृत का जो पेपर वायरल है उसके पीछे सरकार की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है इसका क्या कारण है कि पेपर के वायरल होने पर सरकार की कोई प्रतिक्रिया नहीं आती। पेपर के वायरल होने पर यदि पुलिस को भी इसके बारे में खबर हो जाती है तब भी कुछ नहीं होने वाला जब तक वायरल पेपर के ओरिजिनल होने की पुष्टि मध्य प्रदेश सरकार को यानी माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड को नहीं हो जाती तब तक कुछ भी नहीं होने वाला।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

वायरल होने वाला पेपर डाउनलोड करें –

जो पेपर टेलीग्राम अथवा व्हाट्सएप पर वायरल है उसे आप यहां से भी डाउनलोड कर सकते हैं और डाउनलोड करने के बाद आप चेक कर सकते हैं वही पेपर है या नहीं। आपको जो पेपर यहां पर प्रोवाइड कराया जाता है वह सोशल मीडिया पर हमेशा वायरल रहता है लेकिन पेपर के वायरल होने की पुष्टि हमारी वेबसाइट नहीं करती। सोशल मीडिया पर जो भी पेपर वायरल है आप उसको यहां से डाउनलोड कर सकते हैं।

टेलीग्राम से हो रहे पेपर डाउनलोड–

टेलीग्राम एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जहां पर ज्यादातर विद्यार्थी ही होते हैं और ऐसे लोग होते हैं जो शिक्षा से जुड़े हुए होते हैं। टेलीग्राम पर किसी पीडीएफ को भेजना अथवा किसी लिंक को भेजना बहुत आसान होता है और यहां पर विद्यार्थियों का ग्रुप बनाया जाता है। यह सॉफ्टवेयर व्हाट्सएप से थोड़ा एडवांस चलता है और इसे विद्यार्थी बहुत अधिक मात्रा में पसंद करते हैं वर्तमान समय में इसके लाखों यूजर्स हैं। टेलीग्राम से पेपर डाउनलोड कर सकते हैं और यहीं पर आपको विद्यार्थियों के ग्रुप भी मिल जाएंगे जहां पर विद्यार्थी वायरल पेपर के बारे में डिस्कस करते हैं।

टेलीग्राम चैनल से फैली वायरल होने की खबरें–

पेपर के वायरल होने की खबर सबसे पहले टेलीग्राम के माध्यम से ही फैली है और इसके बाद अब सोशल मीडिया के तमाम प्लेटफार्म पर पेपर के वायरल होने की खबर फैल चुकी है। पेपर ओरिजिनल है या फिर डुप्लीकेट और कौन सा पेपर वायरल हुआ है या फिर कोई मॉडल पेपर है इसके बारे में हमारी वेबसाइट कोई भी दवा नहीं करती और ना ही कोई पुष्टि करती है। आपको जो पेपर सोशल मीडिया पर दिखाया जा रहा है आप उसे यहां से डाउनलोड कर सकते हैं।

it is just a model paper imp questions नोट-This is not a viral paper, it is only a model paper. With this you can get an idea of ​​the upcoming paper and prepare better.

Join telegram

Leave a Comment