WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

बलराम तालाब योजना के अंतर्गत आवेदन शुरू : जल्दी करें आवेदन

मध्य प्रदेश में कई जगह खेती के लिए सिंचाई की पर्याप्त व्यवस्था होती है लेकिन कई जगह पर सच्चाई की पर्याप्त व्यवस्था नहीं होती इसीलिए सरकार के द्वारा खेती की उन्नत पैदावार के लिए किसानों को बलराम तालाब योजना के तहत आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती। बलराम तालाब योजना के तहत किसानों को सब्सिडी के आधार पर तालाब दिया जाता है ताकि खेती के लिए सिंचाई की उन्नत व्यवस्था हो सके।

अगर खेती में सिंचाई के लिए केवल एक ही पानी कम पड़ जाए तो निश्चित तौर पर खेती की पैदावार एक गुना कम हो जाती है इसीलिए सरकार ने यह है कदम अपनाया है। आज के आर्टिकल में हम बात करेंगे कि बलराम तालाब योजना मध्य प्रदेश सरकार की ओर से किस तरह सब्सिडी मिलती है और इसके लिए किसान आवेदन कैसे कर सकते हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

बलराम तालाब योजना का विवरण–

बलराम तालाब योजना की जब शुरुआत हुई थी तब इसका नाम बलराम ताल योजना था लेकिन समय-समय पर जब इसमें व्यवस्थाएं बनी और संशोधन हुआ तो अब जाकर इस योजना का नाम बलराम तालाब योजना पड़ गया। 2010 के आसपास ऐसी योजना के माध्यम से मध्य प्रदेश के किसानों के अंतर्गत लगभग 7518 से भी अधिक किसानों को इस योजना का लाभ दिया गया । इस योजना का प्रमुख उद्देश्य यह है कि जल संरक्षण की अच्छी व्यवस्था हो जाए ताकि समय पर खेती के लिए पानी के लिए भटकना न पड़े अच्छी सिंचाई पर्याप्त तरीके से हो सके ।

बलराम तालाब योजना से संबंधित महत्वपूर्ण तथ्य–

  1. इस योजना के माध्यम से मिलने वाली सब्सिडी का लाभ केवल मध्य प्रदेश के ही किसान और उठा सकते हैं इसके अलावा अन्य राज्य के किसान इस योजना के लिए कोई आवेदन नहीं कर सकते और ना ही उनका कोई लाभ मिल सकता है ।
  2. बलराम तालाब योजना के तहत किसानों को आर्थिक सहायता के रूप में सब्सिडी प्रदान की जाएगी जिसकी सहायता सेवा है अपने ही खेत में एक ऐसी जगह पर तालाब का निर्माण कर सकते हैं जहां पर खेती की बुवाई ना होती हो।
  3. बलराम तालाब योजना के अंतर्गत किसानों को इसीलिए उत्साहित किया जाता है क्योंकि यह बहुत बड़ा और विशाल तालाब होता है दूसरी चीज यह कि खेत के ही पास में जब इस तरह का तालाब होता है तो जल संरक्षण की व्यवस्था अच्छी हो जाती है और फिर सिंचाई के लिए कोई भी दिक्कत नहीं आती।
  4. मध्य प्रदेश के ज्यादातर किसान आर्थिक रूप से कमजोर हैं क्योंकि इनके पास बहुत बड़े क्षेत्रफल पर खेती नहीं होती छोटे-छोटे क्षेत्रफल पर खेती होती है जिस वजह से बहुत अधिक पैदावार नहीं कर पाते। इस प्रकार से आर्थिक तंगी से परेशान किसानों को यह योजना इस प्रकार का लाभ प्रदान करती है।
  5. इस योजना के माध्यम से किसानों को ₹80000 से लेकर ₹100000 तक का आर्थिक भुगतान किया जाता है और इसी पैसे की सहायता से किसान अपने ही खेत में तालाब का निर्माण कर पाते हैं।

बलराम तालाब योजना के लाभ के लिए किसानों की पात्रता–

  1. इस योजना के आवेदन करने के पहले सबसे पहले प्रक्रिया में यह देखा जाता है कि आवेदक मध्य प्रदेश का मूल निवासी है या नहीं क्योंकि इस योजना का लाभ केवल मध्य प्रदेश के मूल निवासी को ही दिया जाता।
  2. आवेदन करता एक किसान होना चाहिए अगर किसान के अलावा अन्य कोई व्यक्ति इसके लिए आवेदन करता है तो उसका आवेदन स्वीकार नहीं होगा ।
  3. आवेदन करने के लिए आप ग्राहक सेवा केंद्र की सहायता ले सकते हैं और स्वयं से भी घर बैठे लैपटॉप अथवा अन्य किसी कंप्यूटर के माध्यम से कर सकते हैं।
  4. बलराम तालाब योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए खुद की जमीन होना चाहिए क्योंकि इसके लिए बंदी के डॉक्यूमेंट भी प्रयोग में लिए जाते हैं।
  5. यह योजना कभी भी छोटा किसान या बड़ा किस नहीं देखती सभी किसानों को इस योजना का लाभ दिया जाता है।
आवेदन करें ऑनलाइन
आखिरी तारीख 10 फरवरी 2024

संबंधित खबरें भी पढ़िए-

Join telegram

Leave a Comment