WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

कक्षा 10 हिंदी पेपर एमपी बोर्ड 5 फरवरी 2024 ( अच्छे नंबर लाने के लिए)

एमपी बोर्ड के विद्यार्थियों के लिए परीक्षा में बेहतर से बेहतर अंक लाना बहुत मुश्किल होता है अगर उसे कॉपी लिखने का तरीका और पेपर के हल करने का तरीका पता नहीं है तो क्योंकि कई बार पेपर के हल करने के तरीके विद्यार्थियों से गलत हो जाते हैं और उनके अंक काट लिए जाते हैं। हर विद्यार्थी के लिए परीक्षा की तैयारी करने के तरीके पता होना चाहिए क्योंकि अगर परीक्षा की तैयारी करने के तरीके पता नहीं है तो निश्चित रूप से वह उतने अंक कभी हासिल नहीं कर सकता जितने उसे होना चाहिए।

विद्यार्थियों को किस तरीके से कौन से विषय का अध्ययन करना चाहिए और उसे विषय की तैयारी करने के लिए किस पैटर्न पर विश्वास करना चाहिए । परीक्षा में पुराने पेपर का क्या योगदान होता है साथ ही पुराने पेपर किस तरीके से विद्यार्थी को कम आते हैं आईए जानते हैं आज के इस आर्टिकल में ।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

बिना पैटर्न के कभी ना करें तैयारी –

बिना पैटर्न के किसी भी विद्यार्थी को कोई विषय की ऐसी तैयारी नहीं करना चाहिए इसके बारे में उसे जानकारी ना हो अर्थात यदि किसी विषय की तैयारी करना है तो उसे यह समझना जरूरी है कि आखिर में परीक्षा में किस तरीके से इस विषय के प्रश्न पूछे जाएंगे। कई बार परीक्षा का पैटर्न वही होता है जो पिछले साल देखा जाता है या फिर पिछले साल किस तरीके से पेपर पूछा गया था।

पैटर्न के बारे में यदि पता लगाना है तो सबसे पहले हर एमपी बोर्ड की परीक्षा से पहले माध्यमिक शिक्षा मंडल की तरफ से जो आदेश किया गया है जो पैटर्न जारी किया गया है उसी को समझ के परीक्षा की तैयारी करें ।

विद्यार्थियों को वर्तमान में ब्लूप्रिंट का सबसे ज्यादा लाभ –

आज से कई साल पहले ब्लूप्रिंट के आधार पर कोई भी पेपर का निर्माण नहीं किया जाता था लेकिन वर्तमान समय में बिना ब्लूप्रिंट के कोई भी पेपर नहीं बनता । विद्यार्थियों को यह समझने की जरूरत है की ब्लूप्रिंट के आधार पर किस तरीके से अध्याय का अध्ययन करना जरूरी है और यह किस तरीके से उपयोग में लिया जाएगा । सभी विद्यार्थियों के लिए आवश्यक है कि ब्लूप्रिंट को समझने के लिए अपने अध्यापक की सलाह लें और उसी के आधार पर परीक्षा की तैयारी करें तो निश्चित रूप से आपकी परीक्षा बहुत अच्छी जाएगी और अच्छे अंक आएंगे।

तैयारी करते समय स्वास्थ्य कर दें विशेष ध्यान–

तैयारी करते समय विद्यार्थियों को विशेष ध्यान देना चाहिए क्योंकि अगर विद्यार्थियों का स्वास्थ्य खराब हो जाता है तो निश्चित रूप से उनका सब कुछ खराब हो जाता है अर्थात स्वास्थ खराब होने से परीक्षा सबसे पहले खराब हो जाएगी । किसी भी तरीके से अगर परीक्षा खराब हो जाती है तो निश्चित रूप से यह मान लीजिए कि विद्यार्थी का भविष्य खराब हो जाएगा।

Note – यह पेपर इस वेबसाइट पर ( पेपर सम्पन्न होने के बाद डाला गया है) पोस्ट को अपडेट किया गया है।

पुराने पेपर का सहयोग और मॉडल पेपर के तरीके–

एमपी बोर्ड की परीक्षा में पुराने पेपर का बहुत ज्यादा योगदान होता है क्योंकि पुराने पेपर के आधार पर नए पेपर का निर्माण किया जाता है और कई तरह के ऐसे प्रश्न होते हैं जो हर बार हर परीक्षा में पूछे जाते हैं । पुराने पेपर में लगभग 20% ऐसे प्रश्न होते हैं जो निश्चित रूप से अगली परीक्षा में पूछे जाने होते हैं और पेपर का पैटर्न जो होता है वह बहुत ही आसानी से समझ में आ जाता है ।

Join telegram

Leave a Comment