WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

DCA 1st Semester Open Book Exams 2022 – Fundamental of computers solutions full paper


DCA और PGDCA एग्जाम 2022 – ओपन बुक परीक्षा 2022

लैण्ड से परावर्तित किरण की तीव्रता में इतना अन्तर नहीं आता है। अब परावर्तित विद्युत संकेतों (0 और 1बिट) में परिवर्तित कर लिया जाता है, जिससे डाटा प्राप्त किया जाता है। सी.डी.रोम (CD-ROM) भी फ्लॉपी के समान एक डिस्क ड्राइव (disk drive) में डालकर कम्प्यूटर में लगाई जाती है। जिसे सी.डी. ड्राइव (CD drive CDD) कहते है।

Download Full Paper With Solutions 2022

CD एक Object readable Media है। इसमें लिखे data को एक पतली laser किरण के द्वारा read किया जाता है। इस optical media में data magnetic media की अपेक्षा अधिक सुरक्षित व विश्वसनीय रहता है, तथा इसमें store data long life होता है। जैसे कि maganetic disk media में store data ज्यादा से ज्यादा 5 year तक सुरक्षित रहता है। जबकि यही data optical media में 10 से 15 साल तक सुरक्षित रह सकता है।
है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

फण्डामेंटल ऑफ कम्प्यूटर डाउनलोड फुल पेपर सोल्युशन 2022 ओपन बुक परीक्षा

CD में 680 MB तक data store किया जा सकता है। जो कि लगभग 470 floppy disk की storage capacity के equal होता है। Magnetic media एक method पर कार्य करता है। इसमें read तथा write head होता है। CD-Rom एवं DVD का भी सबसे बड़ा advantage यह है कि यह music के क्षेत्र में बहुत अच्छी quality प्रदान करते हैं। में CD-ROM का प्रयोग video disk and Audio disks के रूप में होता है। जिसमें फिल्मों को संग्रहित करके उन्हें स्क्रीन पर देखा जा सकता है, व सुना जा सकता है। वर्तमान में CD-ROM का प्रयोग विभिन्न पुस्तकों को store करने में भी हो रहा है। छात्रों के लिये विभिन्न प्रकार की शैक्षणिक जानकारियाँ जैसे- जीव विज्ञान से संबंधित चित्रों का संकलन CD-ROM पर उपलब्ध है CD को पढ़ने तथा इस पर सूचनाएं अंकित करने की speed को दर्शाने हेतु अक्षर x का प्रयोग किया जाता है। वर्तमान में 52x तक की CDROMDrive भी उपलब्ध है।

वायरस एक कम्प्यूटर से दूसरे कम्प्यूटर पर नेटवर्क (Network) के द्वारा किस प्रकार पहुँचते हैं? समझाइये।

उत्तर Virus on Network : Virus o system qurt system online network TGRT communicate या transfer होते हैं। Network computer का एक जाल होता है, जिसमें बहुत से Computer आपस में एक-दूसरे से जुड़े होते हैं। जिसके कारण किसी भी data या information को एक computer system से दूसरे computer system पर आसानी से transfer कर सकते हैं। अतः यदि किसी system पर virus युक्त programme है, और यदि दूसरे system या computer उस computer से data or programme accept करते हैं, तो ये virus युक्त programme इस network के द्वारा उस computer पर transfer हो जाते हैं।

वायरस निरोधक सॉफ्टवेयर क्या हैं ? विभिन्न वायरस निरोधक प्रोग्रामों (Anti-Virus Program) को समझाइये।

उत्तर – Anti-Virus Software : ऐसे software जो computer system को- virus से संक्रमित होने से बचाते हैं, Antivirus software कहलाते हैं। यह सत्य है, कि वायरस के अविष्कार के साथ ही पारंपरिक एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर एवं वायरस निरोधक सॉफ्टवेयर ने अपना एक उद्योग जगत स्थापित किया है। यह भी सत्य है, कि जो लोग वायरस निरोधक सॉफ्टवेयर के निर्माता है, वहीं नए-नए वायरस के जन्मदाता भी हैं।

Website Home ( वेबसाइट की सभी पोस्ट ) – Click Here
———————————————————-
Telegram Channel Link – Click Here
Join telegram

Leave a Comment