WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Delhi से, Jhansi से, दतिया से दंदरौआ धाम की दूरी

हमारे देश में कई ऐसे धार्मिक स्थल हैं जहां पर जाना बहुत ही कठिन है लेकिन लोग वहां पर अपने जीवन को कठिनाई में डालकर और जिंदगी की सबसे बड़ी रिस्क लेकर दर्शन करने के लिए जाते हैं। हमारे देश में भगवान की मान्यता है तो लोग उनके दर्शन करने के लिए किसी भी हद तक आगे बढ़ जाते हैं ऐसे ही कई धार्मिक स्थल है जहां पर चमत्कार देखने को मिलता है और उसके रहस्य के बारे में किसी को पता तक नहीं चलता ।

जैसे वर्तमान समय में वायरल हो रही दंदरौआ धाम सरकार की वीडियो और बागेश्वर धाम सरकार के वीडियो क्योंकि यह दोनों ही धाम ऐसे हैं जहां पर रहस्य के बारे में पता करना बहुत मुश्किल हो जाता है। आज के आर्टिकल में हम जानेंगे कि दंदरौआ धाम सरकार का मंदिर झांसी जिले से कितनी दूर पड़ता है और दर्शन करने के लिए यह किस तरह से उपयुक्त है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

झांसी जिले से दंदरौआ धाम सरकार की दूरी–

उत्तर प्रदेश की झांसी जिले से लगभग 136 किलोमीटर की दूरी पर भिंड जिले के अंतर्गत दंदरौआ धाम स्थित है जहां पर समय-समय पर बड़े-बड़े धार्मिक आयोजन होते रहते हैं । झांसी जिले से दंदरौआ धाम के लिए हाईवे रोड जाता है जो सीधे बिल्कुल मंदिर तक पहुंचता है क्योंकि हाईवे मंदिर से बहुत ही नजदीक पड़ता है।

दिल्ली से दंदरौआ धाम मंदिर तक जाने का रास्ता हुआ बहुत शुगम –

भारत की राजधानी दिल्ली से दंदरौआ धाम की दूरी लगभग 368 किलोमीटर की है जो मध्य प्रदेश के भिंड जिले के अंतर्गत आता है जहां पर लाखों लोग डॉक्टर हनुमान के दर्शन करने के लिए जाते हैं। यहां पर डॉक्टर हनुमान की सबसे खास बात यह है कि सबके कष्ट बड़ी आसानी से हर लेते हैं इसीलिए इनका कष्ट निवारक हनुमान जी भी कहा जाता है।

एमपी के दतिया से भी जा सकते हैं दंदरौआ धाम–

मध्य प्रदेश के दतिया जिले से लखनऊ 100 किलोमीटर की दूरी पर जाना माना और प्रख्यात हिंदू तीर्थ मंदिर दंदरौआ धाम स्थित है जहां पर जाने के लिए हर वाहन उपलब्ध है इसके अलावा वहां पर ठहरने की भी पूरी व्यवस्था है। ठहरने के लिए पास में ही कई प्रकार के होटल उपलब्ध हैं जिसके लिए फैमिली सहित दर्शन करने के लिए आ सकते हैं । खाने पीने की कोई दिक्कत नहीं होती क्योंकि धाम पर भंडारा चलता है।

देश की कोने-कोने से आ रहे लाखों लोग जाने रहस्य!

हमारे देश के कोने-कोने से साधु संत इस धाम का परिक्रमा करने के लिए आते हैं और भगवान के दर्शन करके फिर से भ्रमण करने के लिए निकल जाते हैं। पूरे देश के कोने-कोने से लोग यहां पर डॉक्टर हनुमान फिर दर्शन करने के लिए आते हैं और पांच परिक्रमा लगाने के बाद कई प्रकार के रोगों से ठीक हो जाते हैं।

Join telegram

Leave a Comment