WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Bhind से दंदरौआ धाम की दूरी, Dandraua Sarkar Distance

मध्य प्रदेश के भिंड जिले में डॉक्टर हनुमान का मंदिर पूरे देश में प्रचलित है और लोगों के मन में एक अलग विश्वास पैदा करता है ऐसा इसीलिए क्योंकि यहां पर बहुत ही बड़ा चमत्कार देखने को मिलता है । कई बार लोगों के साथ होने वाले चमत्कार को अंधविश्वास के तौर पर तोल दिया जाता है । मध्य प्रदेश के भिंड जिले के अंतर्गत आने वाला यह धार्मिक स्थल लोगों की आस्था का केंद्र बन चुका है जहां पर प्रति सप्ताह है सैकड़ो की संख्या में लोग दो हनुमान के दर्शन करने के लिए जाते हैं और परिक्रमा लगाकर यात्रा का आनंद लेते हैं। आज के आर्टिकल में हम जानेंगे कि भिंड जिले के अंतर्गत आने वाला दंदरौआ धाम भिंड से कितना दूर है और इसका क्या महत्व है ?

भिंड से दंदरौआ धाम की दूरी–

भिंड जिले के केंद्र बिंदु से लगभग 30 किलोमीटर की दूरी के आसपास दंदरौआ धाम तीर्थ स्थल मौजूद है जहां पर आने जाने की सभ्यता बहुत ही उपयुक्त बन चुकी है। भिंड जिले से यदि आप फोर व्हीलर के माध्यम से जाना चाहते हैं तो आपको₹800 से लेकर ₹1200 के अंतर्गत किराए के माध्यम से फोर व्हीलर मिल सकती है ।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
स्थानदूरी (किलोमीटर)समय (आपूर्ति)
भिंड से दंदरौआ हनुमान मंदिर501 घंटा
टैक्सी का किराया (₹)₹600 से ₹800

यदि आप टैक्सी करना चाहते हैं तो आप₹600 से लेकर ₹800 के अंतर्गत टैक्सी भी कर सकते हैं और भिंड से दंदरौआ धाम हनुमान मंदिर पहुंच सकते हैं । ग्वालियर जिले से लगभग 50 किलोमीटर पड़ता है तो आप वहां से भी 1 घंटे के अंतर्गत धाम की यात्रा को कंप्लीट कर सकते हैं और यदि आप भिंड जिले से आते हैं तो आप आधा घंटे के अंतर्गत यह दूरी कंप्लीट कर सकते हैं।

दंदरौआ धाम जाने के फायदे–

मध्य प्रदेश का दंदरौआ धाम अभी बहुत ही ज्यादा प्रचलित नहीं है लेकिन धीरे-धीरे इसकी पापुलैरिटी बागेश्वर धाम की तरह बढ़ जाएगी क्योंकि यहां पर लोगों की आस्था दिनों दिन बढ़ती जा रही है । जिन लोगों ने ऐसी बीमारी से अष्ट तोड़ दी थी जो कभी ठीक नहीं होगी उन लोगों की वह बीमारी भी यहां आने के बाद ठीक हो गई । विज्ञान के अनुसार कैंसर की कोई भी दवाई अभी तैयार नहीं हो पाई है जो कैंसर को ठीक कर दे मगर प्राकृतिक रूप से भगवान के सामने की गई प्रार्थना लोगों की इस बीमारी को ठीक कर देती है ।

दंदरौआ धाम के डॉक्टर हनुमान–

दंदरौआ धाम जाने के बाद डॉक्टर हनुमान जी की परिक्रमा करनी होती है और परिक्रमा करने के बाद आपको अन्य दर्शन करने के लिए भी इजाजत मिलती है यदि आप किसी बीमारी के शिकार हैं तो आपको भभूति लेनी होगी इसके बाद आपकी हर समस्या दूर हो जाएगी । दंदरौआ के डॉक्टर हनुमान एक डॉक्टर का ही काम करते हैं क्योंकि जब किसी बीमारी से डॉक्टर हार जाता है तो उसका पूरा इलाज भगवान के भरोसे छोड़ दिया जाता है और जब किसी व्यक्ति की आस्था भगवान में बढ़ जाती है तो इस तरह की बीमारी क्या कोई भी बीमारी ठीक हो सकती है।

Join telegram

Leave a Comment