WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

8 फरवरी 2024 कक्षा 12 अंग्रेजी का पेपर English Paper Class 12

अंग्रेजी विषय का पेपर ही नहीं बल्कि पेपर वायरल करने वाले के उद्देश्य में केवल पैसा कमाना होता है इसके लिए वह हर वह प्रयास करता है जिससे विद्यार्थियों से संपर्क बनाया जाए। अंग्रेजी एक ऐसा विषय है जो ज्यादातर विद्यार्थियों का कमजोर ही होता है ऐसा नहीं है कि हर विद्यार्थी का कमजोर होता है लेकिन एवरेज विद्यार्थी अंग्रेजी विषय से बहुत ही कमजोर होते हैं।

अंग्रेजी विषय की कमजोर होने की पीछे सबसे बड़ा कारण है कि वह शुरुआत से ही अंग्रेजी को सीरियस नहीं लेते और ना ही वह प्रैक्टिस करते हैं जो अन्य विषय पर करते हैं। अंग्रेजी विषय के वायरल होने के पीछे वायरल करने वाला अच्छे खासे पैसे भी वसूलते है क्या कारण है कि पेपर वायरल हो जाता है आईए जानते हैं आज के इस आर्टिकल में।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

एक के बाद एक पेपर हो रहा वायरल –

एक पेपर वायरल होने के बाद दूसरा पेपर भी वायरल होने से नहीं रुक क्योंकि अगर एक पेपर वायरल होने के बाद सरकार की इस पर कड़ी निगरानी होती तो कभी पेपर वायरल होता ही नहीं लेकिन सरकार इस पर कोई भी एक्शन नहीं लेती । सरकार का एक्शन ना लेने के पीछे सबसे बड़ी वजह है कि पेपर के ओरिजिनल होने का कोई भी प्रमाण नहीं मिलता और ना ही कोई पुष्टि होती है कि पेपर जो वायरल हुआ है वह ओरिजिनल है।

पेपर वायरल होने पर शिक्षा विभाग को कड़ी चुनौती–

कक्षा दसवीं के पेपर वायरल होने के बाद अब 12वीं का पेपर वायरल हो गया है अर्थात एक के बाद एक पेपर वायरल होते जा रहे हैं जो शिक्षा विभाग को एक कड़ी चुनौती है। पेपर को वायरल होने से बचने के लिए पेपर वायरल करने वाले ने शिक्षा विभाग को कड़ी टक्कर दी है और प्रदेश की जनता ने शिक्षा विभाग पर सवाल खड़े कर दिए हैं कि एमपी बोर्ड की गोपनीयता आखिर में सुरक्षित क्यों नहीं है।

सरकार की गोपनीयता पर उठे सवाल–

कक्षा 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं के कई विषयों के पेपर वायरल हो जाते हैं लेकिन इन पर केवल जनता सवाल करती रह जाती है और सरकार कोई एक्शन नहीं लेती इसका क्या कारण है कि सरकार कोई एक्शन नहीं लेती। सरकार की गोपनीयता पर जनता सवाल तो कर देती है लेकिन जनता को भी खुद पता नहीं होता कि पेपर वायरल हुआ है जो ओरिजिनल है या नहीं। असल बात तो यह है कि जो भी पेपर वायरल हुआ है वह ओरिजिनल नहीं है क्योंकि अगर पेपर के ओरिजिनल होने की पुष्टि हो जाती है तो निश्चित रूप से परीक्षा दोबारा कंडक्ट कराई जा सकती है।

  • यह स्क्रीनशॉट पेपर होने के बाद यहां लगाए गए हैं। इंग्लिश का पेपर होने के बाद ही यह पेपर के स्क्रीनशॉट यहां अपडेट किए गए हैं।

दसवीं के बाद अब 12वीं का पेपर भी हुआ वायरल –

परीक्षा किसी भी कक्षा की हो वह महत्वपूर्ण होती है लेकिन कक्षा दसवीं के बाद आप 12वीं के पेपर भी वायरल हो रहे हैं जो कि विद्यार्थियों के लिए एक बहुत ही परेशानी की बात है क्योंकि आने वाले समय में विद्यार्थियों के परीक्षा परिणाम पर भी इसका प्रभाव आ सकता है। 12वीं की अंग्रेजी विषय का पेपर वायरल होने के बाद पेपर वायरल करने वाले ने यह दावा किया है कि 599 में आपको परीक्षा से 2 घंटा पहले ही पेपर उपलब्ध करा दिया जाएगा। हालांकि 599 में विद्यार्थियों को पेपर मिल सकता है इस बात की पुष्टि हमारी वेबसाइट नहीं करती ।

Join telegram

Leave a Comment