WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

17 जनवरी 2024 गाँव की बेटी योजना 500-500 रूपये प्रतिमाह मिलेगा | Gaon Ki Beti Yojana 2024 | MP Govt Scheme

हमारे देश में बेटी के लिए कई तरह की योजनाओं को शुरू किया गया है और बीते कई सालों में राज्य सरकारों के माध्यम से भी यह प्रयास किया जा रहा है कि महिलाओं को ज्यादातर ऐसी योजनाओं का लाभ दिया जाए जिससे वह अपनी प्रगति कर सके और शिक्षक क्षेत्र में एक विशेष विकास कर सकें । सरकार के द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में एक बेहतर प्रगति के लिए छात्रों को पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा गांव की बेटी योजना को शुरू किया गया था जिसके माध्यम से यह निर्णय लिया गया था कि हर बेटी को ₹500 दिया जाएगा जो की एक महीने के अंतराल पर निश्चित किया जाएगा ।

योजना का नाम2024 गाँव की बेटी योजना
राज्यमध्य प्रदेश
लाभार्थियों की संख्या500-500 रूपये प्रतिमाह
लाभार्थियों की प्रक्रियागाँव की बेटियों को
प्रतिमाह 500 रुपए मिलेंगे
योजना का आरंभ2024
स्कीम का उद्देश्यगाँव की बेटियों को आर्थिक सहायता प्रदान करना

इस प्रकार कुल मिलाकर 1 साल में ₹6000 गांव की बेटी को प्रदान किए जाएंगे। गांव की बेटी अच्छी पढ़ाई कर सके और स्किल डेवलपमेंट में आगे हो सके वह अपनी रुचि के अनुसार किसी भी क्षेत्र में शिक्षा ग्रहण कर सके और उसका अच्छे से विकास कर सके इसके लिए सरकार ने उनका आर्थिक सहयोग भी प्रदान किया है इसके कई चरण देखने को मिलते हैं इसके बारे में आज के आर्टिकल में बात करेंगे ।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

क्या है गांव की बेटी योजना–

वर्तमान समय में तो मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव हैं लेकिन इस योजना की शुरुआत पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा की गई थी मगर वर्तमान समय में ऐसा कुछ भी नहीं है कि इस योजना को अगर पूर्व मुख्यमंत्री जी के द्वारा शुरू किया गया है तो नए मुख्यमंत्री जी के द्वारा बंद किया जाएगा। नए मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने यह आश्वासन दिया है कि शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा शुरू की गई सभी योजनाओं को आगे ले जाया जाएगा और उनको पूरा किया जाएगा।

गांव की बेटी योजना के माध्यम से मध्य प्रदेश की छात्रों को यह लाभ दिया जाता है कि कोई अगर बेटी गांव से बिलॉन्ग करती है तो उसको ₹500 प्रति महीना छात्रवृत्ति के तौर पर दिए जाएंगे जो उसकी आर्थिक सहायता के लिए होंगे अर्थात पढ़ाई के दौरान सभी खर्च सरकार उठाएगी।

गांव की बेटी योजना के लिए योग्यता –

गांव की बेटी योजना के लिए कोई बहुत बड़ी योग्यताओं को डिसीजन में नहीं लिया गया है गांव की बेटी के लिए एक बेहतर शिक्षा का विकास हो सके और आने वाले समय में गांव की बेटी ही रोजगार के काबिल हो सके इसके लिए सरकार ने इस योजना को शुरू किया है।

  1. गांव की बेटी योजना के लिए आवेदन करने वाली छात्रा हमेशा मध्य प्रदेश की मूल निवासी होना चाहिए ।
  2. मध्य प्रदेश के सरकारी स्कूल में छात्र का एडमिशन होना चाहिए और उसकी पढ़ाई सरकारी स्कूल में ही होना चाहिए ।
  3. इस योजना का लाभ नहीं छात्रों को मिलता है जिनका कक्षा 12वीं में पहला स्थान आया है ।
  4. इस योजना का आवेदन करने के लिए छात्राओं को जरूरी है कि कक्षा 12वीं में उन्होंने 60% से अधिक अंक हासिल किए हैं और इसके बाद सरकारी यूनिवर्सिटी में उसका एडमिशन किया गया हो ।

गांव की बेटी योजना से छात्राओं को हुआ गहरा फायदा–

हमारे प्रदेश में गांव में बेटियों को शिक्षा प्राप्त करना बहुत ही टेढ़ी खीर है क्योंकि आज भी गांव में बेटियों को शिक्षा प्राप्त करना महंगा पड़ जाता है अर्थात जो परिवार समझदार और पढ़ा लिखा है केवल वही बेटियों को पढ़ने के लिए प्राथमिकता देता है। दूसरा बेटियों से पढ़ाई के मामले में उनका परिवार यह उम्मीद नहीं रखता कि वह आगे जाकर नौकरी भी प्राप्त कर सकती है लेकिन सरकार के द्वारा इस तरीके की समस्याओं से निपटने के लिए इस योजना को शुरू किया गया है ताकि किसी भी तरह से आर्थिक समस्या से पीड़ित होने के बाद कोई छात्र शिक्षा प्राप्त करने से वंचित न रह जाए ।

गांव की बेटी योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज –

1. आधार कार्ड

2. पासपोर्ट साइज फोटो

3. आयु प्रमाण पत्र

4. जाति प्रमाण पत्र

5. स्थाई निवास प्रमाण पत्र

6. समग्र आईडी

आज है 17 जनवरी 2024 अभी इस समय गांव की बेटी योजना के फॉर्म भर रहे हैं अंतिम तारीख 25 जनवरी है तो आप आज ही जल्द से जल्द फॉर्म भर दीजिए।

किसान कर्ज माफी के लिए सरकार ने फिर से मांगे आवेदन, 27 जनवरी आखिरी मौका

10 लाख लाडली बहनों के खाते में नहीं आया पैसा ?, (17जनवरी बड़ी खबर)

Join telegram

Leave a Comment