WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

डिफॉल्टर किसानों का ब्याज माफ करेगी सरकार, प्राइवेट क़र्ज़ वालों को करना होगा ये काम, सीएम मोहन यादव दें ध्यान

मध्य प्रदेश के जो भी किसान डिफाल्टर हो चुके हैं उनके लिए एक बार फिर मध्य प्रदेश सरकार के द्वारा यह आश्वासन दिया गया है कि उनका पूरा कर्ज सरकार माफ कर देगी इसीलिए सभी किसान निश्चिंत रहे उनका पूरा कर्ज माफ कर दिया जाएगा । आज के आर्टिकल में हम बात करेंगे कि प्राइवेट कर्ज लेने वाले किसानों को क्या करना होगा ताकि उनका भी कर्ज माफ किया जा सके और किस प्रकार फसल ऋण माफी योजना के तहत सभी किसान अपना कर्ज माफ करवा सकें।

कर्ज माफी पर किसानों की प्रतिक्रिया–

कर्ज माफी पर मध्य प्रदेश के किसान खुलकर नहीं बोल पाते और ना ही नेशनल मीडिया के द्वारा उनकी बातों को उजागर किया जा रहा है लेकिन सभी किसान बहुत ही बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं कि उनका कर्ज माफ कर दिया जाएगा। मध्य प्रदेश में कई किसान ऐसे हैं जिनके ऊपर लगभग पांच-पांच लाख रुपए तक का कर्ज है और वह कर्ज चुकाने में असमर्थ हैं उन्होंने पूरी तरीके से सरकार से गुहार लगाई है कि उनका कर्ज माफ कर दिया जाए।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

लेकिन आने वाले समय में यह अभी नहीं कहा जा सकता कि आखिर में किन किसानों का कर्ज माफ किया जाएगा और किन किसानों का कर्ज माफ नहीं किया जाएगा । सरकार के द्वारा ₹200000 तक का कर्ज तो निश्चित रूप से माफ कर दिया ही जाता है लेकिन इस बार किसानों के ऊपर लगभग 5 लख रुपए तक का कर्ज़ है इस वजह से किसानों का पूरा कर्ज माफ होना एक बहुत बड़ी दुविधा की बात है ।

फसल ऋण माफी योजना का विवरण–

फसल ऋण माफी योजना के तहत सभी किसानों को सरकार के द्वारा आर्थिक रूप से लाभ मिल जाता है लेकिन इस बार किसानों ने श्री मोहन यादव सरकार से यह आशा रखी है कि उनका पूरा कर्ज माफ किया जाएगा। विधानसभा चुनाव 2023 से पहले मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार के द्वारा यह घोषणा की गई थी कि किसानों का पूरा कर्ज माफ किया जाएगा लेकिन अब मध्य प्रदेश में भाजपा की सरकार बन चुकी है मगर योजना के बारे में पूरी तरीके से कुछ भी नहीं कहा जा सकता क्योंकि अभी योजना चालू नहीं हुई है योजना चालू होने के बाद कुछ शर्तों को सामने रखा जाएगा अगर उन शर्तों के आधार पर किस आवेदन करते हैं तो उनका कर्ज माफ किया जाएगा।

फसल ऋण माफी योजना को जनवरी महीने के शुरुआत में ही शुरू कर दिया जाएगा मगर पूरी तरीके से यह नहीं कहा जा सकता की जनवरी में ही शुरू कर दिया जाएगा हो सकता है इसे एक-दो महीने बाद शुरू किया जाए।

Read More – कृषक ब्याज माफी योजना को दी श्री मोहन यादव ने हरी झंडी, अधिकारियों को निर्देश जारी

Kisan Dooba Karj meकिसानों का हुआ बुरा हाल
सरकार के द्वारा यदि उनका कर्ज माफ किया जाएलगभग 5 लख रुपए तक का कर्ज़
सबसे पहले फसल ऋण माफी योजना को ही शुरूसरकार चुनाव से पहले जो वादा
फसल ऋण माफी योजनाजनवरी महीने के शुरुआत में

एमपी के सभी किसानों का हुआ बुरा हाल–

मध्य प्रदेश के किसानों के ऊपर लगभग 5 लख रुपए तक का कर्ज़ है और कर्ज में डूबे किसान बहुत ही निराश हैं उनको लगता है कि सरकार के द्वारा यदि उनका कर्ज माफ किया जाए तो वह अपनी जिंदगी को और बेहतर बना सकते हैं और सफल पूर्वक खेती कर सकते हैं । मध्य प्रदेश के किसानों के ऊपर इतना ज्यादा कर्ज हो गया है कि वह सरकार से कर्ज लेने में डर रहे हैं क्योंकि पुराना कर्ज तो उन्होंने चुकाया नहीं है पुराना कर्ज चुका इसीलिए नहीं पा रहे क्योंकि उनके पास इतना उत्पादन नहीं हो रहा कि वह पूरा कर्ज चुका सकें ।

मध्य प्रदेश के किसानों के ऊपर एक और संकट–

किसानों के ऊपर सबसे ज्यादा समस्या आई है कि सरकार चुनाव से पहले जो वादा कर देती है अगर उसे पूरा नहीं किया तो वह बहुत ही संकट में आ जाएंगे क्योंकि उनके ऊपर लाखों का कर्ज है और सरकार ने वादा किया था कि उनका कर्ज चुका दिया जाएगा अर्थात माफ कर दिया जाएगा और आगे चलकर अगर उनका माफ नहीं किया गया तो वह बहुत ही निराश हो जाएंगे । सभी किसानों को किसी भी तरीके से दिक्कत लेने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि विधानसभा चुनाव का परिणाम आ चुका है और सरकार भी बन गई है आने वाले समय में सबसे पहले फसल ऋण माफी योजना को ही शुरू किया जाएगा ।

Join telegram

Leave a Comment