WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

इंदिरा गांधी गृह ज्योति योजना के अंतर्गत आएगा केवल ₹100 बिजली बिल, भरें ये फॉर्म

कांग्रेस सरकार के द्वारा चलाई गई सरल बिजली स्कीम योजना जो की भारत के हर घर में उजाला देने के लिए शुरू की गई थी लेकिन अब इस योजना का नाम बदलकर इंदिरा गांधी गृह ज्योति योजना कर दिया गया है। अर्थात कांग्रेस सरकार के द्वारा संबल योजना को खत्म कर दिया गया है और नई योजना जिसे इंदिरा गांधी गृह ज्योति योजना कहा गया है इसका नियम बदल दिया गया है कि जो भी परिवार 100 यूनिट की बिजली की खपत करता है उसके लिए यह योजना बहुत ही लाभदायक रहेगी इसके बारे में हम आज के आर्टिकल में बात करेंगे।

अब हर परिवार का बिजली बिल आएगा केवल ₹100–

इंदिरा गांधी गृह ज्योति योजना के अंतर्गत ऐसे परिवार की बिजली की खपत 100 यूनिट रहती है तो उनको केवल ₹100 ही देने पड़ेंगे इसके अलावा बिजली बिल का कोई भी पैसा नहीं लगेगा । 100 यूनिट तक की बिजली का पैसा केवल ₹100 ही निर्धारित किया गया है और इन पैसे को कभी नहीं बढ़ाया जाएगा। मध्य प्रदेश में ज्यादातर परिवार ऐसी योजना का लाभ ले रहे हैं क्योंकि उनकी बिजली की खपत केवल ₹100 है । इस तरह की योजना लोगों को बहुत ही लाभ प्रदान करती है और प्रेरित करती है कि हमको ज्यादा बिजली खर्च नहीं करना चाहिए ।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

बिजली की आवश्यकता –

एक जमाना था जब हमारे देश में बिजली की बहुत ही समस्या हुआ करती थी लेकिन धीरे-धीरे देश तरक्की की ओर बढ़ा और सबसे पहले बिजली को हमारे देश की सरकार ने घर-घर जाकर पहुंचा दिया। बिजली हमारी पहली आवश्यकता है और आज के समय में बिजली के बिना हमारा कोई भी काम पूरा नहीं होता ।

वर्तमान समय में बिजली पर इतना ज्यादा काम किया गया है कि 24 घंटे बिजली हमारे पास उपलब्ध रहती है और यह व्यवस्था प्रदेश के हर कोने तक पहुंच गई है ऐसा शायद ही कोई गांव बचा होगा जहां पर 24 घंटे बिजली नहीं पहुंच पाई हो । प्रदेश के 98% गांव ऐसे हैं जहां पर बिजली पूरी तरीके से पहुंच गई है और जहां पर नहीं पहुंची है वहां पहुंचना जारी किया है।

बिजली से किसानों को हुई ऐतिहासिक सफलता–

बिजली बिल माफ हो जाने से और बिजली 24 घंटा प्राप्त होने से सबसे ज्यादा फायदा किसानों को हुआ है क्योंकि किसानों को बिजली बिल बहुत महंगा पड़ता था लेकिन आज के समय में किसान बहुत ही कम पैसों में अपना बिजली बिल भुगतान कर देते हैं । एक समय था जब किसानों को ज्यादातर रात के समय में सिंचाई करनी पड़ती थी मगर अब आज के समय में 24 घंटे किसानों के पास बिजली उपलब्ध है और वह रात में ना जाग कर दिन में सिंचाई कर लेते हैं ।

100 यूनिट से अधिक बिजली होने पर देना पड़ेगा आधा बिल–

100 यूनिट तक की बिजली को सरकार के द्वारा माफ किया गया है और इसके अलावा अगर कोई बिजली खर्च करता है तो उसे उतने हिस्से की आधी बिजली का भुगतान करना पड़ेगा अर्थात 50% भुगतान सरकार करेगी और 50% भुगतान उपभोक्ता को करना पड़ेगा। बिजली के अलावा हमारे प्रदेश में कई ऐसी योजनाएं चल रही है जिनके माध्यम से प्रदेश की जनता को बहुत लाभ हो रहा है और उनका विकास हो रहा है।

ये भी पढ़ें –

Join telegram

Leave a Comment