WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Khandwa District Gk Tourist Places History खंडवा जिले के पर्यटन स्थल, इतिहास, जीके

हेलो दोस्तों आज हम आपको मध्य प्रदेश के खंडवा जिले के प्रमुख पर्यटक स्थलों के बारे में  विस्तृत रूप से जानकारी देने जा रहे हैं। खंडवा खरगोन और बुरहानपुर को संयुक्त रूप से निमाड़ बोला जाता है। खंडवा पूर्वी निमाड़ के रूप में भी जाना जाता है। यह नगर नर्मदा ताप्ती के बीच में बसा हुआ है।

खंडवा जिले के प्रमुख पर्यटक स्थल
देशभारत
राज्यमध्य प्रदेश
संभाग इंदौर
जिलाखंडवा
प्रसिद्ध ओमकारेश्वर धामओमकारेश्वर खंडवा
धोनी वाले बाबा जीखंडवा
असीरगढ़ का किलाखंडवा 
इंदिरा गांधी बांध किस नदी पर बना हैनर्मदा नदी पर
संत सिंगाजी धामखंडवा
कपास उत्पादक जिलाखंडवा
नागाचून बांधखंडवा
तहसीलें5
विधानसभा4
नव चंडी देवी धामखंडवा
गौरी कुंज ऑडिटोरियमखंडवा

💟 प्रसिद्ध ओमकारेश्वर ज्योतिर्लिंग

भारत की 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक ओमकारेश्वर खंडवा जिले के अंतर्गत ही आता है । ओमकारेश्वर के अलावा महाकालेश्वर राज्य में दूसरा ज्योतिर्लिंग है । भारतीय फिल्मोद्योग के प्रसिद्ध साहित्यकार या गीतकार किशोर कुमार और अशोक कुमार दोनों का ही संबंध खंडवा जिले से है । खंडवा जिले में किशोर कुमार की स्मृति में गौरी कुंज ऑडिटोरियम बनाया गया है। इनके अलावा माखनलाल चतुर्वेदी और सुभद्रा कुमारी चौहान दोनों की कर्मभूमि खंडवा ही रही है ।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
प्रसिद्ध ओमकारेश्वर ज्योतिर्लिंग
प्रसिद्ध ओमकारेश्वर ज्योतिर्लिंग

➤➤ कपास का अधिक उत्पादन करने के कारण खंडवा और खरगोन को सुनहरा जिला भी कहा गया है।

➤➤ खंडवा मध्य प्रदेश में कपास , गांजा मिर्च और प्याज के उत्पादन के लिए प्रसिद्ध है ।

➤➤ मध्यप्रदेश में कृषि उपकरण बनाने के कारखाने यहीं पर स्थित है ।

➤➤ काजल रानी की गुफ़ा मांधाता हिल वीर झाला का शिव मंदिर और नांगचुंग बांध खंडवा जिले के अंतर्गत आते हैं ।

➤➤ वीर झाला का शिव मंदिर मानव बलि के लिए प्रसिद्ध था । अंग्रेजों के समय यह प्रथा यहां रुकवा दी गई थी।

👉 धूनी वाले बाबा खंडवा

धूनी वाले बाबा जी और तलुवा भवानी का मंदिर यहां के प्रमुख स्थल है । धूनी वाले बाबा जी और संत सिंगाजी इन दोनों की समाधिया खंडवा में ही स्थित हैं। तथा इनकी समाधियों पर प्रतिवर्ष मेलों का आयोजन किया जाता है। मध्य प्रदेश में इंदिरा सागर परियोजना के अंतर्गत आने वाला पुनासा बांध किस जिले में स्थित है। खंडवा जिले के अंतर्गत 5 तहसीलें और 4 विधानसभा  आती हैं।

धूनी वाले बाबा खंडवा
धूनी वाले बाबा खंडवा

➤➤ खंडवा में नर्मदा नदी पर ओमकारेश्वर बांध बनाया गया है।

➤➤ खंडवा में सन 2004 में ओमकारेश्वर राष्ट्रीय उद्यान स्थापित किया गया है। सन 2003 में खंडवा से अलग करके  बुरहानपुर को जिला बनाया गया था ।

➤➤ खंडवा स्थित ओम्कारेश्वर प्रदेश सरकार के द्वारा पवित्र स्थल घोषित किया गया है । जो नर्मदा नदी के किनारे स्थित है।

➤➤ खंडवा में पदमा कुंड , भीमकुंड, सूरजकुंड और रामेश्वर कुंड स्थित है।

खंडवा जिले के प्रमुख पर्यटक स्थल

खंडवा जिले के प्रमुख पर्यटक स्थल निम्न है

  • ✔️माता तालुजा भवानी माता का मंदिर
  • ✔️ धूनी वाले बाबा जी
  • ✔️ नव चंडी देवी धाम
  • 🌏गौरी कुंज ऑडिटोरियम
  • 🌏नागारचून तालाब
  • 🌏ओमकारेश्वर का गुरुद्वारा
  • 🌏काजल रानी की गुफा
  • 🌏घंटाघर
  • 🌏 मांधाता हिल
  • 🌏संभव नाथ मंदिर
  • 🌏संत सिंगाजी धाम
  • 💟इंदिरा गांधी बांध
  • 💟असीरगढ़ का किला
  • 💟 सूरजकुंड पदम कुंड रामेश्वर कुंड और भीम कुंड

▶️ माता तुलजा भवानी माता का मंदिर

माता तुलजा भवानी का मंदिर माता तुलजा भवानी को समर्पित है। यह मंदिर खंडवा मध्य प्रदेश में स्थित है। यह मंदिर खंडवा का प्राचीन मंदिर है। यहां पर प्रतिदिन भक्तों की भीड़ लगी रहती है । भगवान राम अपने वनवास के दौरान यहां आए थे। और उन्होंने यही पर 9 दिनों तक तपस्या की थी। यह मंदिर सुबह 5:00 बजे से रात 9:00 बजे तक खुला रहता है । यह मंदिर बस स्टैंड से लगभग 2.3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

*️⃣ धूनी वाले बाबा जी

धूनी वाले बाबा जी भारत के एक महान संत थे । इन्हें दादाजी डंडे वाले के नाम से भी जाना जाता है । धूनी वाले बाबा जी ने 19वीं और 20वीं सदी में भारत में यात्राएं की दुनिया भर में उनके लाखों भक्त हैं और शिव भगवान का लोग उन्हें रूप मानते हैं । दादाजी के दरबार खंडवा के दक्षिण पश्चिम में स्थित है । महान संत स्वामी केशव जी महाराज और स्वामी हरिहर नंद जी महाराज की पावन समाधि स्थल है । इन्हें दादाजी धूनीवाले के नाम से पुकारा जाता है । इस पवित्र स्थान को दादा धूनीवाले दरबार भी कहा जाता है । धूनी वाले दादा जी का दरबार मुख्य बस स्टैंड एवं रेलवे स्टेशन से मात्र 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां पहुंचना काफी आसान है

धूनी वाले बाबा जी
धूनी वाले बाबा जी

🌐 नव चंडी देवी धाम

यह मंदिर खंडवा का एक लोकप्रिय तीर्थ स्थल है। यह मंदिर खंडवा रामेश्वर क्षेत्र में स्थापित नवीनतम मंदिर है। यह एक मनोहारी धार्मिक मंदिर है । जो रेलवे स्टेशन से लगभग 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहीं पर शिव महाशिवरात्रि पर विशाल मेले का आयोजन किया जाता है।

🕳️ गौरी कुंज ऑडिटोरियम

गौरी कुंज ऑडिटोरियम संगीत और सांस्कृतिक हॉल है। जो खंडवा रेलवे स्टेशन से लगभग 1 किलोमीटर दूरी पर स्थित है । यह ऑडिटोरियम जाने माने गायक किशोर कुमार के होने की याद में बनवाया गया था । शहर के प्रमुख सांस्कृतिक कार्यक्रम इसी ऑडिटोरियम हॉल में आयोजित किए जाते हैं।

🔶 नागाचून तालाब

नागाचून तालाब नागाचून गांव में बना यह एक जाना माना पिकनिक स्थल है । यह तालाब खंडवा से लगभग 5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह बांध खंडवा की सच्चाई का प्रमुख केंद्र है। चारों ओर की हरियाली तालाब को और आकर्षण बना देती है।

🟪 ओमकारेश्वर का गुरुद्वारा

इस गुरुद्वारे को गुरु नानक देव के ओमकारेश्वर आने के दौरान बनवाया गया था । गुरु नानक देव के प्रति सम्मान प्रकट करने के लिए यह गुरुद्वारा सिखों और हिंदुओं के अनुयायियों से भरा रहता है। ओमकारेश्वर रेलवे स्टेशन से यह निकटतम है।

⚫ संत सिंगाजी धाम

संत सिंगाजी धाम एक धार्मिक एवं दर्शनीय स्थल है। खंडवा जिले से 16 किलोमीटर की दूरी पर इंदिरा सागर परियोजना के बीच में संत सिंगाजी धाम स्थित है। चारों ओर से पानी से घिरे इस समाधि स्थल का सौंदर्य अति उत्तम है।

संत सिंगाजी धाम इंदिरा सागर परियोजना
संत सिंगाजी धाम इंदिरा सागर परियोजना

🔵 मांधाता हिल

यह पवित्र पहाड़ी नर्मदा के तट पर स्थित है । यह पहाड़ी धार्मिक दृष्टि से जिले का मेन स्थल है । देश में 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक  यही पर स्थित है । ओमकारेश्वर और ममलेश्वर यहां के प्रमुख मंदिर है । मंदिर के चारों ओर से बहती हुई नर्मदा नदी यहां ओम के आकार को बनाती है। यह पहाड़ी खंडवा से करीब 75 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

♦️ संभव नाथ मंदिर

भगवान संभवनाथ मंदिर 12 मंदिर के नाम से जाना जाता है । माना जाता है कि जैन धर्म के तीसरे तीर्थ काल में यह मंदिर भूमि को खोदकर निकाला गया था । मुख्य मंदिर के अलावा चार अन्य मंदिर भगवान चंद्रप्रभु,  अजीतनाथ, पार्श्वनाथ और संभव नाथ की मूर्तियां भी यहां स्थापित हैं।

🔲 घंटाघर

घंटाघर खंडवा रेलवे स्टेशन से 1 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। घंटाघर खंडवा शहर का एक प्रमुख भूमि समय है जिसका निर्माण 1884 में अंग्रेजों ने भारत में अपने शासनकाल के दौरान करवाया था। 1883 की नगरपालिका के नियमानुसार इस इमारत का मुख्य उद्देश्य से एक कार्यालय के रूप में काम करना था । इस टॉवर का निर्माण कार्य 12 फरवरी 1884 में किया गया था और इसे पूरा करने में कुल 4 साल लग गए थे।

घंटाघर Khandwa
घंटाघर Khandwa

☑️ काजल रानी की गुफा

काजल रानी की गुफा ओमकारेश्वर से करीब 9 किलोमीटर की दूरी पर एक पिकनिक स्थल है । यहां के आसपास का क्षेत्र का सुंदर नजारा देखा जा सकता है। जुलाई से मार्च के मध्य आने के लिए यह स्थल सही माना जाता है।

➡️ देवझिरी भूतेश्वर

खंडवा से लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर भोजा खेड़ी गांव के पास एक प्राचीन शिवलिंग है । जहां पर प्राकृतिक रूप से निरंतर जल धारा प्रवाहित होती रहती है। जिसे देवझिरी भूतेश्वर के नाम से जाना जाता है।

✔️सूरजकुंड, पदम कुंड , रामेश्वर कुंड और भीमकुंड

सूरजकुंड खंडवा जिले की पूर्व में स्थित है । पदम कुंड खंडवा जिले के पश्चिम में स्थित है । रामेश्वर कुंड खंडवा जिले के उत्तर दिशा में स्थित है और भीमकुंड खंडवा जिले के दक्षिण दिशा में स्थित है । यहां पर प्रसिद्ध भोले बाबा विराजमान हैं।

🔘 इंदिरा गांधी बांध

इंदिरा गांधी बांध खंडवा का प्रमुख आकर्षण का केंद्र है। इस बांध को नर्मदा नदी पर बनाया गया है । इस बांध की पत्थर की पत्थर की नींव पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी ने रखी थी। बांध की लंबाई 653 मीटर और ऊंचाई 52 मीटर है । यह बांध खंडवा शहर से 61 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

इंदिरा गांधी बांध Khandwa
इंदिरा गांधी बांध Khandwa

✉️ असीरगढ़ का किला

असीरगढ़ का किला अहीर राजवंश के राजा आशा अहीर ने बनवाया था । पहले इस किले को आशा अहीर गढ़ कहा जाता था । लेकिन समय के साथ इस किले का नाम छोटा कर दिया गया और आज इस किले को असीरगढ़ के किले के नाम से जाना जाता है। यह कैलाश सतपुड़ा पर्वत श्रेणी में स्थित है । यह खंडवा से 69  किलोमीटर की दूरी पर स्थित है । असीरगढ़ के किले को मुगल शैली में बनाया गया था जो फारसी , तुर्की ,अफगानी और भारतीय निर्माण शैली का मिश्रण है और किले के अंदर कभी भी देखी जा सकती है।

खंडवा जिले के प्रमुख पर्यटक स्थल, जनरल नॉलेज, इतिहास संबंधित FAQ’S [ Major Tourist Places of Khandwa District, General Knowledge, History FAQ’S ]

➡️ धोनी वाले बाबा जी का प्रसिद्ध धाम किस जिले में स्थित है?

उत्तर- खंडवा।

➡️ संत सिंगाजी के मेले का आयोजन किस जिले में किया जाता है?

उत्तर- खंडवा।

➡️ इंदिरा गांधी बांध किस नदी पर बना हुआ हैं?

उत्तर- नर्मदा नदी पर।

➡️ इंदिरा गांधी बांध मध्य प्रदेश के किस जिले में बना है?

उत्तर- खंडवा।

➡️ मध्य प्रदेश का प्रसिद्ध घंटाघर किस जिले में स्थित है?

उत्तर- खंडवा।

➡️ गौरी कुंज ऑडिटोरियम किस जिले में बना है?

उत्तर- खंडवा।

➡️ खंडवा जिले में कितनी तहसीलें हैं ?

उत्तर- 5

➡️ खंडवा जिले में कितनी विधानसभा हैं?

उत्तर- 4

➡️ नव चंडी देवी धाम मध्य प्रदेश के किस जिले में स्थित है?

उत्तर- खंडवा।

➡️ प्रसिद्ध ओमकारेश्वर धाम मध्य प्रदेश के किस जिले में स्थित है और किस नदी पर बना है?

उत्तर- खंडवा और नर्मदा नदी पर।

Website Home ( वेबसाइट की सभी पोस्ट ) – Click Here
———————————————————-
Telegram Channel Link – Click Here
Join telegram

Leave a Comment