WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

मुख्यमंत्री लाड़ली लक्ष्मी योजना में 2024 में आवेदन करने का बदल गया तरीका: मिलेंगे ₹1,43,000

मध्य प्रदेश में जब से शिवराज सिंह चौहान का कार्यकाल शुरू हुआ उसकी शुरुआती समय से ही महिलाओं को प्राथमिकता दी गई है और उनकी सरकार में शुरू होने वाली योजनाओं में भी महिलाओं को आगे रखा गया है । चाहे शिक्षा का क्षेत्र हो या फिर स्वास्थ्य का क्षेत्र हो या फिर कोई भी सरकारी कार्य जिसमें जनता को लाभान्वित किया जाना हो तो इस प्रकार की प्रक्रिया में महिलाओं को सर्वप्रथम लाभ दिया जाना सुनिश्चित किया जाता है ।

हमारे देश में एक समय महिलाओं को घृणा के तौर पर देखा जा रहा था और लड़की के जन्म पर लोग नाखुश नजर आते थे और कई तरह की बातें किया करते थे और कई तरह के अपराध वाले मामले भी सामने निकल कर आ रहे थे। अब सरकार के द्वारा लड़कियों से संबंधित कई तरह की योजनाओं को शुरू किया गया है जिससे परिवार को बहुत ही आर्थिक सहायता प्राप्त होती है ऐसी ही एक योजना लाडली लक्ष्मी योजना पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा शुरू की गई थी जिसके बारे में हम आज चर्चा करने वाले हैं ।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

लाड़ली लक्ष्मी योजना के काम करने का तरीका–

यह योजना किसी लड़की के जन्म के शुरू होने के बाद से ही उसे परिवार को लाभान्वित करती है और उसे लड़की को भी लाभान्वित करती है । लाड़ली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत जब किसी महिला को जन्म के समय लकड़ी प्राप्त होती है तो उसे आशा कार्यकर्ता के माध्यम से कुछ आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है । जब बालिकाएं छठवीं कक्षा में प्रवेश लेती है तो उनको ₹2000 आर्थिक सहायता के तौर पर दिए जाते हैं इसके बाद जब वह आगे हाई स्कूल की परीक्षा पास करने के लिए नौवीं कक्षा में प्रवेश लेती है तब उनको ₹4000 की आर्थिक सहायता दी जाती है। आगे चलकर 11वीं की परीक्षा में जब प्रवेश लेती है तो 7500 दिए जाते हैं ।

जब बालिका 11वीं और 12वीं की पढ़ाई कर रही होती है तब उनको हर महीना ₹200 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है जो की पढ़ाई के खर्च के लिए दिया जाता है।

लाड़ली लक्ष्मी योजना की शुरुआत–

लाड़ली लक्ष्मी योजना की शुरुआत मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा 2 मई 2007 को शुरू की गई थी इसके बाद यह कभी बंद नहीं हुई समय-समय पर इसमें थोड़ी बहुत नियमों का बदलाव किया गया लेकिन यह योजना प्रदेश में बहुत ही प्रभावित रही । वर्तमान समय में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जगह है डॉक्टर मोहन यादव को बनाया गया है जिन्होंने शुरुआत में पुरानी योजनाओं के बंद करने का प्लान बनाया था लेकिन अब कोई भी योजना बंद नहीं की जाएगी सभी योजनाएं आगे बढ़ाई जाएंगी।

योजना से गरीब परिवार को हुई आर्थिक सहायता–

मध्य प्रदेश में यह योजना गरीबों के लिए बहुत ही लाभदायक रही क्योंकि गरीब वर्ग से आ रहे लोग लड़कियों के खर्च को अफोर्ड नहीं कर पा रहे थे जिसको सरकार ने अपने कर ले लिया। इस योजना के शुरू होने के बाद से महिलाओं की प्रगति आगे बढ़ी और उन्होंने इसमें भरपूर सहयोग दिया धीरे-धीरे यह योजना पूरे प्रदेश में फैल गई और सभी लोगों ने इसका लाभ लेना शुरू कर दिया।

Join telegram

Leave a Comment