WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

10 लाख लाडली बहनों के खाते में नहीं आया पैसा ?, (17जनवरी बड़ी खबर)

लाडली बहना योजना के अंतर्गत बहुत बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है। अभी हाल ही में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव जी ने 10 जनवरी को लाडली बहनों को आठवीं किस्त दी जिसमें 1576 का करोड़ की राशि लगभग 1.29 करोड़ लाडली बहनों को डायरेक्ट सिंगल क्लिक के माध्यम से ट्रांसफर की। मोहन यादव सरकार द्वारा लाडली बहनों की संख्या में 1.78 लाख की कमी बताइ है। शिवराज के राज में लाडली बहनों की संख्या 1.31 करोड़ थी लेकिन उम्र की वजह से लाडली बहनों की संख्या 1.29 करोड़ रह गई क्योंकि कुछ लाडली बहने 60 साल की हो चुकी हैं तो उन्हें लाडली बहना योजना से बाहर कर दिया है ऐसा कहना है मोहन यादव सरकार का।

अभी हाल ही में सोशल मीडिया पर कई ऐसे वीडियो वायरल हो रहे हैं जो यह दावा कर रहे हैं की लाडली बहनों की संख्या 1.78 लाख नहीं बल्कि 10 लाख लाडली बहने ऐसी हैं जिनके खाते में आठवीं किस्त नहीं आई है। सोशल मीडिया पर कई ऐसे वीडियो वायरल हो रहे हैं जिनमें यह दावा किया कि लाडली बहनों की संख्या 10 लाख कम हुई है। ऐसा दावा किया जा रहा है कि 10 लाख लाडली बहनों के खातों में आठवीं किस्त नहीं आई है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

सोशल मीडिया पर इन वीडियो में 25 से 40 साल की लाडली बहनों को दिखाया जा रहा है और दावा किया है कि प्रदेश भर में 10 लाख लाडली बहन ऐसी हैं जिनके खाते में आठवीं किस्त नहीं आई है। हालांकि मोहन यादव सरकार द्वारा बताया गया है कि लगभग 1.78 लाख लाडली बहनों के खाते में आठवीं किस्त नहीं आएगी क्योंकि उनको उम्र की वजह से लाडली बहना योजना से बाहर कर दिया गया है।

सोशल मीडिया में वायरल इन वीडियो में कितनी सच्चाई है जल्द से जल्द जनसंपर्क विभाग द्वारा इन वीडियो की जांच की जाएगी और सच्चाई सामने लाई जाएगी। इस बात की अभी तक कोई भी पुष्टि नहीं हुई है कि वाकई में 10 लाख लाडली बहनों के खाते में आठवीं किस्त नहीं आई है। कुछ लाडली बहनों के खातों में आठवीं किस्त ना आने का कारण यह रहा है कि उनकी जो केवाईसी है वह डी लिंक हो गई हो, साथ ही साथ कुछ लाडली बहनों ने लाभ परि त्याग कर दिया था। साथ ही साथ कुछ लाडली बहनों की मृत्यु भी हो गई, तो इस वजह से भी लाड़ली बहनों की संख्या में कमी आई।

मोहन यादव सरकार द्वारा लाडली बहनों की संख्या 10 लाख कम होने वाली वीडियो की जल्दी-से-जल्दी जांच की जाएगी और सच्चाई सभी के सामने लाई जाएगी।

इन्हें भी पढ़िए-

Join telegram

Leave a Comment