WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

बेरोजगारी भत्ता योजना 2024 का लाभ कैसे मिलेगा? फॉर्म भरने लगे जल्दी करें

हमारे देश में बेरोजगारी के कई कारण हो सकते हैं जिसमें सबसे पहला कारण शिक्षा को ही समझा जा सकता है और इसके बाद अगर दूसरे कारण की बात करें तो वह जनसंख्या हो सकता है क्योंकि अगर ज्यादा जनसंख्या होगी तो निश्चित रूप से भरण पोषण में परेशानी जाती है और न जाने कितनी तरह की परेशानियां जाती हैं जिनसे रोजगार मिल पाना बहुत मुश्किल हो जाता है । एमपी में सरकार के द्वारा बेरोजगारी भत्ता को शुरू किया गया है जो युवाओं के लिए बहुत ही परफेक्ट है क्योंकि एमपी में ऐसे ही युवा जो पढ़े लिखे हैं परंतु कोई भी नौकरी नहीं मिली है अथवा बेरोजगार है उनके लिए आर्थिक सहायता देने के लिए सरकार के द्वारा यह चलाई गई एक छोटी सी योजना है जिसके बारे में आज के आर्टिकल में हम समझेंगे।

पूर्व मुख्यमंत्री ने शुरू की थी बेरोजगारी भत्ता योजना!

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा एमपी के युवाओं के लिए बेरोजगारी भत्ता योजना को शुरू किया गया था जिसमें यह निश्चित किया गया था कि ऐसे युवा जो मूल निवास एमपी के हैं और उनके पास अच्छी शिक्षा है मगर वह किसी कारण से बेरोजगार हैं तो ऐसे युवाओं को ₹1500 की आर्थिक सहायता सरकार के द्वारा प्रदान की जाएगी ।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी 2024 के समय अथवा विधानसभा चुनाव 2023 के बाद मुख्यमंत्री नहीं रहे हैं मगर उनके द्वारा चलाई गई योजना को नई मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव जी के द्वारा आगे ले जाया जाएगा। केवल बेरोजगारी भत्ता योजना ही नहीं बल्कि शिवराज सरकार के द्वारा जितनी भी योजनाएं चलाई गई हैं उन सभी को पूरा किया जाएगा किसी को भी बंद नहीं किया जाएगा ।

बेरोजगारी भत्ता के लिए फॉर्म भरने की लास्ट डेट–

मध्य प्रदेश में बेरोजगारी भत्ता को पानी के लिए युवाओं के लिए सबसे सुनहरा मौका है अगर इसके लिए आवेदन करना है तो आपको समय से आवेदन करना चाहिए इसकी अंतिम तारीख 24 दिसंबर 2023 है इसके बाद कोई भी युवा इसके लिए आवेदन नहीं कर सकता । बेरोजगारी भत्ता युवाओं के लिए बहुत ही लाभदायक है क्योंकि इससे जिन युवाओं के पास रोजगार नहीं है उनकी आर्थिक सहायता हो सकती है ।

नौकरी न मिलने तक मिलेगा बेरोजगारी भत्ता –

एमपी के युवाओं के लिए किसी भी तरह से अगर सरकार ने सहयोग किया है तो यह भी काम नहीं है क्योंकि ₹1500 प्रति महीना वैसे तो आज के समय में बहुत कम होता है मगर कहा जाता है कि जितना मिले उतना ही बहुत है। मध्य प्रदेश सरकार की तरफ से ₹1500 प्रति महीना हर युवाओं के लिए आर्थिक सहायता राशि का भुगतान किया जाना सुनिश्चित किया गया है और यह राशि तब तक प्रदान की जाएगी जब तक इस प्रकार के युवाओं को रोजगार नहीं मिल जाता।

कितने साल तक मिलेगा बेरोजगारी भत्ता–

वैसे तो बेरोजगारी भत्ता का समय 3 साल तक रखा गया है लेकिन इतना समय भी बहुत कम नहीं होता यह बहुत ही अधिक होता है अगर 3 साल में सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के बाद भी किसी युवा को रोजगार न मिले तो यह बहुत ही बेकार बात होती है। युवाओं को उनकी स्किल के आधार पर कोई ना कोई नौकरी तो मिल ही जाती है इसीलिए ऐसी योजना की जो लाभान्वित राशि है वह 3 साल तक ही रखी गई है इसके बाद नहीं दी जाएगी।

Join telegram

Leave a Comment