MP Board Class 10th Math Paper Leak टेलीग्राम से 2 घंटे पहले ही पेपर लीक – सबूत देखें एमपी बोर्ड परीक्षा

कक्षा 10th गणित का पेपर टेलीग्राम पर 2 घंटे पहले हुआ लीक –

दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं हाल ही में अभी 10वीं और 12वीं की परीक्षा चल रही है | दोस्तों एमपी बोर्ड परीक्षा 2022 कक्षा 10वीं और 12वीं के पेपर परीक्षा के पहले हुए वायरल जानें पूरी खबर कहां से पेपर लीक हो गए हैं |

MP board exam- 2022 पेपर लीक –

दोस्तों जब किसी राज्य का एजुकेशन सिस्टम मजबूत नहीं होता है तब ज्यादातर संभावना होती है कि वहां पेपर परीक्षा से पहले ही लीक हो जाते हैं | दोस्तों पेपर को लिखकर आने में नकल माफिया जिम्मेदार होते हैं | नकल माफिया कमजोर एजुकेशन सिस्टम का फायदा उठाकर कई बार विद्यार्थियों के जीवन के साथ खिलवाड़ कर देते हैं | ठीक है वैसा ही इस बार देखने को मिला है कि परीक्षा से पहले 10वीं और 12वीं के पेपर लीक हो गए हैं |

कक्षा 10वीं और 12वीं 2022 के पेपर कहां से लीक हो रहे हैं ??

दोस्तों पेपर लीक होने में टेलीग्राम का बहुत बड़ा हाथ है | telegram.web सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स जहां पर एक चैनल पर ना जाने कितने लोग एक साथ एक खबर को देख सकते हैं | ठीक उसी प्रकार से टेलीग्राम के द्वारा बोर्ड परीक्षा कक्षा 10वीं  और 12वीं का पेपर लीक हो गया है |

कक्षा 12 मैरिट में आए छात्रों को लैपटॉप मिलेगा या नहीं – पढ़ें आदेश

           दोस्तों ऐसा सुना जा रहा है कि नकल माफिया 2 दिन पहले बच्चों को पेपर उपलब्ध कराने का दावा कर रहे हैं | पेपर को बच्चों में 2 दिन पहले देने का दावा कर रहे हैं और प्रति पेपर ₹400 स्कूली बच्चों से वसूले जा रहे हैं | सोशल मीडिया पर पेपर लीक होने की तमाम खबरें जारी हैं लेकिन हमारे यहां का एजुकेशन सिस्टम इतना ढीला है कि अगर सोशल मीडिया पर इतनी खबरें खेल रही है तो स्वाभाविक है कि प्रशासन तक यह बात पहुंच चुकी होगी कि पेपर लीक हो गए हैं | लेकिन हमारे यहां का प्रशासन अपनी आंखों में पट्टी बांध कर बैठा है | सोशल मीडिया पर इस प्रकार की जानकारी यदि वायरल होती है तब प्रशासन के पास ऐसी जानकारी का पहुंचना बहुत आसान बात है | परंतु समस्या यह है कि सरकार किसी प्रकार का ठोस कदम नहीं उठा रही है |

आखिर क्या है? पेपर लीक होने की पूरी जानकारी(mp board exam 2022 Paper Leak)

दोस्तों इन दिनों टेलीग्राम पर मैसेज बहुत तेजी से वायरल हो रहा है कि कक्षा 10वीं और 12वीं के पेपर लीक हो गए हैं | कुछ विद्यार्थियों का मानना है कि टेलीग्राम पर ओरिजिनल पेपर लीक हो गया है ऐसे में हमारा क्या होगा? हमारे भविष्य का क्या होगा? दोस्तों आपको बता दें कि mp board exam 2022 ,17 फरवरी से शुरू हो चुकी है | पेपर लीक होने की खबर ने मध्य प्रदेश के शिक्षा विभाग को झकझोर कर रख दिया है | पूरे विभाग पर तरह-तरह की गंदे कमेंट सुनने को मिल रहे हैं | दोस्तों ऐसा पेपर यदि लीक होगा तो बच्चों का क्या होगा उनके भविष्य पर तो ताला ही लग जाएगा | वहीं दूसरी ओर प्रशासन कोई एक्शन नहीं ले रहा  है ,जबकि प्रशासन जानता है कि पेपर लीक हो गए|

            दोस्तों जब विभागीय कर्मचारियों से पूछा गया कि पेपर लीक कैसे हो गया है इतनी ज्यादा सिक्योरिटी होने के बावजूद प्रशासन इतना लापरवाह कैसे हो सकता है | प्रशासन से पूछा गया कि आप कोई कार्यवाही क्यों नहीं कर रहे हैं तब उनका कहना है कि जो लोग टेलीग्राम पर अथवा सोशल मीडिया पर जो भी पोस्ट डाल कर पैसे वसूल रहे हैं उनकी पहचान नहीं हो पा रही है | ऐसे में उनकी कैसे कार्यवाही कर सकते हैं पहचान ना हो पाने के कारण प्रशासन अपने समय को खर्च नहीं करना चाहता | इसी बात का फायदा उठाकर नकल माफियाओं ने स्कूली बच्चों को लूटना शुरू कर दिया | यहां तक कुछ पोस्ट में तो यह भी देखने को मिल रहा है कि पेपर के 2 दिन पहले ओरिजिनल पेपर बच्चों को उपलब्ध करा दिया जाएगा और प्रति पेपर ₹400 तक वसूले जा रहे हैं |

नकल माफिया कैसे कमाते हैं पैसे?

दोस्तों नकल माफियाओं ने पहले पेपर को मुफ्त में बांट कर बच्चों का विश्वास जीत लिया | अब अगले पेपर के द्वारा स्कूली बच्चों से पैसे वसूलने का काम किया जा रहा है| दोस्तों अगर आपको मालूम हो आज से 6 महीने पहले इसी तरीके से परीक्षा से पहले पेपर लीक हो गए थे | अर्धवार्षिक परीक्षा में जब पेपर से पहले पेपर लीक हो गए थे |तब उस समय भी प्रशासन को इस बात का पता चल गया था कि पेपर लीक हो गए हैं तब भी विभागीय कर्मचारियों ने कोई एक्शन नहीं लिया |

एमपी बोर्ड कक्षा 10 एवं 12 Results बोनस अंक मिलना अनिवार्य – पढ़ें आदेश

             दोस्तों नकल माफियाओं ने तू जो बच्चे पैसे देकर परीक्षा से 2 दिन पहले पेपर लेना चाहते हैं उनका अलग से ग्रुप भी बना लिया है | फिर दोस्तों आप तो जानते ही हैं जमाना कितना डिजिटल हो गया है | वर्तमान समय में ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के मामले में दुनिया बहुत आगे निकल चुकी है लेन-देन में मात्र कुछ ही पलों में लेनदेन किया जा सकता है |

पेपर लीक होने पर टेलीग्राम की भूमिका-

दोस्तों पेपर लीक होने में सोशल मीडिया में टेलीग्राम की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका है | टेलीग्राम पर बहुत लोग जुड़े होते हैं यहां पर ग्रुप में लोग लाखों की संख्या में भी जुड़ सकते हैं इस प्रकार कोई भी जानकारी अथवा सूचना मात्र कुछ ही पलों में वायरल हो जाती है | वर्तमान समय में विद्यार्थी ज्यादातर पढ़ाई के दौरान टेलीग्राम का सहारा जरूर लेते हैं | खासकर जब से ऑनलाइन पढ़ाई का प्रचलन आया है तब से टेलीग्राम का उपयोग बहुत ज्यादा मात्रा में बढ़ गया है | दोस्तों अब टेलीग्राम पर लाखों विद्यार्थी ऑनलाइन रहते हैं वहीं पर पेपर लीक हो गया तो विद्यार्थी कहीं ना कहीं टेलीग्राम से फसे जा रहे हैं | टेलीग्राम पर नकल माफियाओं ने तो अपना ग्रुप बनाकर उन बच्चों को एकत्रित किया है जिनको परीक्षा से 2 दिन पहले पेपर चाहिए |  अब आप समझ सकते हैं की पेपर किस तरह से लीक हो रहा है |

क्या पेपर लीक होने की वजह से दोबारा परीक्षा हो सकती है??

दोस्तों यह जरूरी नहीं है कि परीक्षा दोबारा होगी लेकिन यदि प्रशासन को इस बात की पुष्टि हो जाती है, कि पेपर लीक हो गया है तो परीक्षा के दोबारा होने की पूरी संभावना जताई जा सकती है | पेपर लीक होने की खबर हर परीक्षा मैं आ रही है जैसा कि आपने 6 महीने पहले इसी तरह अर्धवार्षिक परीक्षा में पेपर लीक होने की खबर सुनी थी लेकिन अब भी सरकार ने कोई ठोस कदम नहीं उठाया था ना ही इस पर किसी प्रकार की बातचीत की गई |

          दोस्तों अभी तो वार्षिक परीक्षा चल रही है और यहां पेपर लीक हो गए हैं | दोस्तों यदि ऐसा चलता रहा तो उन बच्चों का क्या होगा जो पूरे वर्ष मेहनत और लगन से तैयारी करते रहे | कुछ विद्यार्थियों का कहना है कि पेपर लीक हो गया है तो हमारे भविष्य का क्या होगा | उनका कहना है कि हमारी तैयारी का कोई मतलब ही नहीं निकलता क्या होता है ऐसी तैयारी का जब परीक्षा से 2 दिन पहले पैसे देकर पेपर को खरीद सकते हैं तो फिर विद्यार्थी का पढ़ना जरूरी क्यों है? इस तरीके से कहीं ना कहीं पेपर लीक होने की वजह से विद्यार्थियों में आक्रोश की भावना भी पैदा होती है और कहीं ना कहीं निराश हो जाते हैं |

क्या नकल माफिया को रोका जा सकता है?

दोस्तों नकल माफिया को रोकना वर्तमान समय में बहुत ही मुश्किल हो गया है नकल माफिया को रोकने में अभी तक कोई सफल नहीं हो पाया | नकल माफिया कोई ना कोई तरकीब निकाल कर हर परीक्षा में अपना काम निकाल ही लेता है |

परीक्षा की सुरक्षा पर सवाल?

दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं कि मध्य प्रदेश बोर्ड परीक्षा 2022 में परीक्षा को ध्यान में रखते हुए इतनी ज्यादा सुरक्षा होने के बाद भी पेपर लीक कैसे हो सकते हैं | लोग कर्मचारियों से सवाल पूछ रहे हैं कि बोर्ड परीक्षा का क्या मतलब है क्या होता है ऐसी बोर्ड परीक्षा का जब पेपर ही लिख हो जा रहा है | लोगों का कहना है कि यदि इस तरीके से पेपर लीक हुए तो उन बच्चों का क्या होगा जो पूरे वर्ष भर मेहनत करता रहा तैयारी करता रहा | लोगों का कहना है कि यदि परीक्षा से 2 दिन पहले पैसे देकर पेपर को खरीदा जा सकता है तो फिर कोई भी विद्यार्थी टॉप कर सकता है |
लोगों का मानना है कि प्रशासन से अनुरोध है की परीक्षा की दृष्टि से सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए नकल माफियाओं पर कठिन से कठिन कार्यवाही की जाए |

पेपर लीक होने से बच्चों की पढ़ाई बर्बाद-

दोस्तों जब पेपर लीक हो गया तो बच्चों का कहना है कि हमारी पढ़ाई पूरी तरीके से चौपट हो गई है | इस प्रकार तो कोई भी पेपर खरीद कर टॉप कर सकता है|  जब पता है कि पैसे देकर परीक्षा से 2 दिन पहले पेपर मिल सकता है तो बच्चे क्यों पढ़ना चाहेंगे ? ऐसे ना कहीं ना कहीं बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है उनका भविष्य पूरी तरीके से बर्बाद हो रहा है |

            हमारी प्रशासन से विनती है कि बच्चों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए जल्द से जल्द कोई ना कोई ठोस कदम उठाएं और नकल प्रकरण में लिप्त लोगों पर कठोर से कठोर कार्यवाही करें |

Website Home ( वेबसाइट की सभी पोस्ट ) – Click Here
———————————————————-
Telegram Channel Link – Click Here
Join telegram

Leave a Comment