MP ITI Vacancy 2022 Today 11678 New Vacancy जल्दी करें आवेदन

MP ITI Vacancy 2022 Today, MP ITI Vacancy 2022 Today 11678 New Vacancy जल्दी करें आवेदन,

आज की पोस्ट में हम आईटीआई वैकेंसी के बारे में चर्चा करने वाले हैं जिसमें 2022 के अंतर्गत 11678 पदों पर किस प्रकार भर्ती की जाएगी? इस भर्ती प्रक्रिया में क्या-क्या योग्यताएं कैंडिडेट के लिए मूल रूप से डॉक्यूमेंट कौन-कौन से आवश्यक है? कौन-कौन से विषय हैं जो परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण हैं। क्या-क्या सिलेबस रहेगा ?कैसे आईटीआई वैकेंसी कैंडिडेट को पद पर नियुक्त करेगी? आईटीआई की कौन सी ट्रेड के अनुसार कौन से पद पर कैंडिडेट नियुक्त हो सकता है, इसके बारे में भी विस्तार से चर्चा की जाएगी।

  • ✔आईटीआई से कैसे विद्यार्थी आसानी से रोजगार प्राप्त कर सकता है कितने अवसर आईटीआई के द्वारा कैंडिडेट के लिए उपलब्ध होते हैं सभी के बारे में विस्तार से बताया जाएगा ।
  • ✔11678 पदों पर किस प्रकार भर्ती होगी क्या इसकी प्रक्रिया होगी सभी के बारे में विस्तृत रूप से अध्ययन किया जाएगा । इस प्रकार के पदों के लिए कैंडिडेट के लिए किस प्रकार के सिलेबस का प्रावधान है सभी के बारे में बताया जाएगा ।
Vacancy 11678
Eligibility ITI 
Age 18–40
Country India 
Trade Stenographer,fitter,electrician,copa etc.
Previous year paper 2017 and others 
Exam duration 2 hours 

⬤ITI के बारे में ?

दोस्तों आईटीआई का फुल फॉर्म इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट होता है इसकी कई ट्रेड होती है अलग-अलग समय के अनुसार इस का कोर्स पूरा किया जाता है।

स्टेनोग्राफर जो कि कंप्यूटर का बहुत महत्वपूर्ण कोर्स है साथ ही हिंदी टाइपिंग शामिल होती है यह मात्र 1 वर्ष का होता है परंतु 1 वर्ष 6 महीने में पूरी तरीके से कंप्लीट होता है।

⬤फिटर ट्रेड–

दोस्तों इस प्रकार के पदों के लिए किसी विशेष ट्रेड का होना आवश्यक नहीं है और किस ट्रेड से आईटीआई कंप्लीट है यह भी आवश्यक नहीं है। दोस्तों अभी ऐसे व्यक्ति का नोटिस जारी नहीं किया गया है इसीलिए यह निश्चित नहीं किया जा सकता कि कौन सी ट्रेड से आईटीआई को प्राथमिकता दी जाएगी ।

दोस्तों इस ट्रेड का कोर्स भी 2 वर्ष का होता है जिसमें स्किल डेवलपमेंट पर विशेष ध्यान दिया जाता है। इस प्रकार की ट्रेड से संबंधित कैंडिडेट के लिए भी प्राथमिक रूप से इसी ट्रेड को ध्यान में रखकर वैकेंसी जारी की जाती है ।

⬤इलेक्ट्रीशियन कैंडिडेट–

दोस्तों इलेक्ट्रीशियन का कोर्स 2 वर्ष का होता है जिसमें स्किल नॉलेज को प्राथमिकता दी जाती है। विद्यार्थी इलेक्ट्रॉनिक्स वस्तुओं को भली-भांति जानने का प्रयास करता है यह किस प्रकार खराब होते हैं और किस प्रकार इनको सही किया जाता है इसके बारे में अच्छी जानकारी प्राप्त की जाती है।

इलेक्ट्रीशियन कैंडिडेट की वैकेंसी समय समय पर आती रहती है जिसकी जानकारी सरकारी रिजल्ट पर आ जाती है। किसी भी व्यक्ति जो मध्यप्रदेश में जारी की जाती है इसकी फाइनल जानकारी और सटीक जानकारी केवल सरकारी रिजल्ट की ऑफिशियल वेबसाइट पर ही जारी की जाती है ।

⬤सैलरी –

आईटीआई की किसी भी ट्रेड से कोई भी कैंडिडेट यदि सरकारी जॉब के लिए सिलेक्ट होता है तो उसकी मिनिमम सैलरी ₹22000 होती है। पद के अनुसार सैलरी का अध्यक्ष या कम होना निश्चित है यदि कोई बहुत बड़ा पद सौंपा जाता है तो उसकी सैलरी ₹39000 से शुरू हो रही है।

⬤COPA –

दोस्तों यह कंप्यूटर नॉलेज की आईटीआई की महत्वपूर्ण ट्रेड होती है जिसका कोर्स 1 वर्ष का होता है। इससे ट्रेड में हिंदी टाइपिंग हो इंग्लिश टाइपिंग को प्राथमिकता दी जाती है साथ ही कंप्यूटर का अच्छा नॉलेज दिया जाता है ।

इस ट्रेड वाले कैंडिडेट यदि स्किल डेवलपमेंट पर और कंप्यूटर पर अच्छी पकड़ रखते हैं तो वह कभी भी बेरोजगार नहीं रह सकते। यदि गवर्नमेंट जॉब हासिल नहीं होती है तो वह कुछ ना कुछ अपने जीवन में अवश्य कर लेते हैं ।

⬤परीक्षा का समय–

दोस्तों आईटीआई से संबंधित जितनी भी परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं जो सरकारी जॉब से रिलेटेड होती हैं उनका समय 2 घंटे का होता है जिसमें 100 प्रश्न दिए जाते हैं ।

पेपर का पूर्णांक 100 अंकों का होता है जिसमें सभी विकल्प वाले प्रश्न दिए जाते हैं ।

⬤परीक्षा की तैयारी–

आवेदन करने के बाद परीक्षा की तैयारी के लिए लगभग 3 महीने का समय दिया जाता है । परीक्षा की तैयारी के लिए आप ऑनलाइन सब्सक्रिप्शन ले सकते हैं ।

दोस्तों परीक्षा की तैयारी सिलेबस को ध्यान में रखकर ही करना चाहिए ।ताकि आपका समय पूरी तरीके से उपयोग हो सके और अन्य चीजें जो परीक्षा की दृष्टि से इंपोर्टेंट नहीं है उनको छोड़कर केवल वही चीजें पढ़ें जो सिलेबस में दी गई हैं ।

⬤परीक्षा का पैटर्न–

दोस्तों परीक्षा का पैटर्न में कैसा रहेगा अभी किसी भी प्रकार से यह निश्चित नहीं किया जा सकता । परीक्षा का कैसा पैटर्न रहेगा ?किस तरीके से प्रश्न पूछे जाएंगे ?कौन-कौन से अध्याय होंगे ? इसके बारे में नोटिफिकेशन जारी होने के बाद ही तय किया जा सकता है ।

Question paper 1
Skill test Qualified after first paper 
Typing Hindi and english 
Number of question 100
Total marks 100
Skill test accuracy According to Notification 

⬤सिलेबस–

दोस्तों नोटिफिकेशन अभी जारी नहीं किया गया है परंतु जल्द ही सितंबर के अंतिम सप्ताह से पहले जारी किया जा सकता है । इस नोटिफिकेशन में सिलेबस की संपूर्ण जानकारी को बता दिया जाएगा कौन-कौन से अध्याय परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण होंगे सभी के बारे में आ जाएगा । दोस्तों परीक्षा का पैटर्न लगभग एग्जाम की तरह होगा जिसमें मैथ ,रीजनिंग, करंट अफेयर्स और जनरल स्टडी के प्रश्न पूछे जाएंगे। साथ ही कंप्यूटर और विज्ञान के प्रश्न कंपलसरी होंगे ।

⬤आवेदन की तारीख–

दोस्तों अक्टूबर के अंतिम सप्ताह तक नोटिफिकेशन में ही बता दिया जाएगा कि आवेदन कब से किए जाएंगे । दोस्तों जहां तक मेरा अनुमान है इस वैकेंसी के लिए अक्टूबर महीने में आवेदन किया जा सकता है ।

⬤पेपर प्रश्न पत्र–

दोस्तों परीक्षा में केवल एक ही प्रश्न पत्र पूछा जाता है पहले प्रश्न पत्र में उत्तीर्ण होने के बाद किसी – किसी वैकेंसी में हिंदी अथवा अंग्रेजी टाइपिंग को प्राथमिकता दी जाती है जिसे स्किल टेस्ट कहा जाता है ।

⬤आवेदन फीस–

सामान्य वर्ग के अथवा अनारक्षित कैंडिडेट के लिए आवेदन फीस ₹500 रखी गई है।

अन्य पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वाले कैंडिडेट के लिए ₹350 फीस रखी गई है ।

⬤उम्र योग्यता—

दोस्तों इस प्रकार की वैकेंसी के लिए 18 से 28 साल की उम्र अनिवार्य रखी गई है । आवेदन करने के लिए दसवीं पास विद्यार्थी इस वैकेंसी के लिए पात्र माने जाते हैं।

⬤आईटीआई कब कर सकते हैं?

दोस्तों आईटीआई में प्रवेश लेने के लिए आपको कम से कम 10 वीं पास होना अनिवार्य है। कुछ हद तक अनुसूचित जनजाति के लिए इसमे आठवीं पास का प्रावधान दिया गया है ।

कक्षा 10वीं उत्तीर्ण करने के बाद विद्यार्थी स्टेनोग्राफर के लिए पात्र तभी माना जाता है जब फाइनल लिस्ट में उसका नाम आ जाता है क्योंकि स्टेनोग्राफर की सीट के लिए काउंसलिंग की जाती है । स्टेनोग्राफर प्राइवेट कॉलेज से तो हो ही जाती है परंतु सरकारी कॉलेज के लिए काउंसलिंग अति आवश्यक होती है । स्टेनोग्राफर के लिए विद्यार्थी का कक्षा दसवीं में 80% से अधिक अंक होना चाहिए ।

⬤आईटीआई में प्रवेश कैसे लें ?

दोस्तों आईटीआई में प्रवेश लेने के लिए आप कक्षा 10वीं के बाद भी योग्यता रखते हैं और कक्षा बारहवीं के बाद भी इसे किसी भी समय कर सकते हैं । गवर्नमेंट कॉलेज से आईटीआई करने के लिए आपको रजिस्ट्रेशन करवाना होता है इसके बाद काउंसलिंग लिस्ट में यदि आपका नाम आता है तो आपको गवर्नमेंट कॉलेज मिल जाएगा। गवर्नमेंट कॉलेज से आईटीआई करने का एक फायदा होता है कि विद्यार्थी को आईटीआई कोर्स की फीस नहीं लगती ।

⬤विद्यार्थी क्यों करते हैं आईटीआई?

दोस्तों वर्तमान में आपको आईटीआई के क्षेत्र में अधिक से अधिक विद्यार्थी देखने को मिलेंगे क्योंकि आईटीआई एक ऐसा सेक्टर है जहां से आप कभी भी खाली हाथ नहीं जा सकते। अर्थात कहने का तात्पर्य यह है कि आईटीआई का कोर्स करने के बाद आप कभी भी बेरोजगार नहीं रहते रोजगार के कई रास्ते आपके लिए खुल जाते हैं ।

रेलवे में लाखों वैकेंसी प्रतिवर्ष आईटीआई बेस पर होती हैं जिनमें टेक्निकल रेलवे नौकरी ज्यादातर आईटीआई वाले कैंडिडेट ही करते हैं। आईटीआई के माध्यम से कई विद्यार्थी प्राइवेट विभाग सेक्टर के अधीन भी मोटी रकम के साथ नौकरी कर सकते हैं ।

⬤आईटीआई 10वीं के बाद करें अथवा 12वीं के बाद?

दोस्तों आईटीआई करने वाले विद्यार्थी ज्यादातर कक्षा 10वीं से ही एडमिशन ले लेते हैं परंतु कक्षा 10वीं से एडमिशन लेने के बाद 11वीं और 12वीं एमपी बोर्ड की परीक्षा विद्यार्थी की इतनी अच्छी से नहीं जा सकती जितनी उनकी जरूरत होती है ।

  • ✅11वीं और 12वीं की परीक्षा विद्यार्थी के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होती है इसके लिए बहुत मेहनत की भी आवश्यकता होती है और अच्छी परसेंटेज की भी आवश्यकता होती है। कक्षा 12वीं के बाद मेरिट लिस्ट के आधार पर ही अथवा काउंसलिंग के आधार पर कॉलेज में एडमिशन मिलता है इसके लिए पढ़ाई करना अति आवश्यक होता है।
  • ✅यदि एवरेज अंक रहेंगे तो कॉलेज तो मिल सकता है परंतु यदि एवरेज से भी कम अंक आते हैं कक्षा ग्यारहवीं और बारहवीं के विद्यार्थियों के तो कॉलेज में एडमिशन मिलना कभी कभी मुश्किल हो जाता है।
  • ✅ज्यादातर विद्यार्थी 12वीं के बाद आईटीआई करने के लिए विचार करते हैं और इस प्रकार यह सही भी है साथ ही 12वीं के बाद विद्यार्थी की ग्रेजुएशन भी कंप्लीट हो जाती है और वह आरटीआई भी कर सकते हैं।

⬤क्या आईटीआई में प्रतिदिन कॉलेज जाना होता है?

दोस्तों आईटीआई में प्रवेश लेने के बाद कभी-कभी विद्यार्थी प्राइवेट घर बैठकर भी पढ़ाई कर सकते हैं इसके लिए कॉलेज जाने की आवश्यकता नहीं होती है।

यदि रेगुलर आईटीआई कोई करना चाहता है तो इसके लिए प्रतिदिन कॉलेज जाने की आवश्यकता होती है और स्किल डेवलपमेंट पर विशेष ध्यान देना होता है। आईटीआई कॉलेज में प्रतिदिन विद्यार्थियों को पढ़ाया जाता है और स्किल डेवलपमेंट कराया जाता है। आईटीआई के विद्यार्थी कॉलेज में जाकर पूर्ण रूप से प्रैक्टिकली सब कुछ सीखते हैं जो भी ट्रेड होती है सब के बारे में सिखाया जाता है।

⬤आईटीआई करने के फायदे–

दोस्तो आईटीआई करने वाले विद्यार्थियों का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि वे सरकारी जॉब के पास पहुंच पाया ना पहुंच पाए परंतु वे अपने जीवन में प्राइवेट जॉब कम से कम ₹30000 तक की आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं प्रतिवर्ष सरकारी नौकरी की संख्या घटती जा रही है और विद्यार्थियों की संख्या प्रतिवर्ष बढ़ती जा रही है जिसका असर बेरोजगारी पर बहुत तेजी से पड रहा है ।

आईटीआई करने वाले विद्यार्थियों के कुछ फायदे इस प्रकार हैं—

  • ➤आईटीआई के बहुत से कोर्स ऐसे होते हैं जो बहुत कम फीस में पूरे करा दिए जाते हैं ।
  • ➤कक्षा दसवीं में अच्छी प्रतिशत होने पर गवर्नमेंट कॉलेज के माध्यम से स्टेनोग्राफर का कोर्स भी फ्री में पूरा किया जा सकता है।
  • ➤आईटीआई का कोर्स ₹25000 में 2 साल तक का किया जा सकता है फिटर और इलेक्ट्रीशियन दोनों ही शामिल हैं ।
  • ➤आईटीआई का कोर्स करने के बाद विद्यार्थी आसानी से प्राइवेट कंपनी में कोई भी जॉब प्राप्त कर सकता है ।
  • ➤आईटीआई का कोर्स करने के बाद रेलवे टेक्निकल जॉब के लिए प्राथमिकता दी जाती है ।

यदि कोई भी विद्यार्थी आईटीआई का कोई भी कोर्स करना चाहता है तो उसके लिए सबसे सुंदर और सही सलाह है यह है कि उसे कक्षा 12वीं के बाद ही करना चाहिए ।

➤आईटीआई करने के बाद स्किल डेवलपमेंट बहुत अच्छा हो जाता है।

⬤आईटीआई करने के नुकसान—

दोस्तों अगर आपने कहीं से सुना है कि आईटीआई करने से कोई नुकसान होता है तो वह पूरी तरीके से गलत है क्योंकि जहां तक मेरा मानना है पढ़ाई करना कभी भी नुकसानदायक नहीं होता है। पढ़ाई कभी भी विद्यार्थी जीवन में करने के बाद आगे जीवन में बेकार नहीं जाती वह कहीं ना कहीं उपयोग में जरूर आ जाती है ।

  • ⏩आईटीआई करने का नुकसान तब हो सकता है जब आप उसे सही तरीके से नहीं करते जैसे कि आप यदि दसवीं के बाद आईटीआई में प्रवेश लेते हैं तो आप कक्षा 11वीं और 12वीं की अच्छी तैयारी नहीं कर पाएंगे।
  • ⏩कक्षा 11वीं और 12वीं में अच्छी तैयारी ना होने पर आपके परीक्षा परिणाम पर इसका दुष्प्रभाव भी हो सकता है । हालांकि कई विद्यार्थी बहुत होनहार और इंटेलिजेंट होते हैं जो दोनों ही कर लेते हैं ।

⬤हाईकोर्ट में प्राथमिकता–

दोस्तों हाईकोर्ट में कई सरकारी जॉब ऐसी होती है जिनमें केवल आईटीआई वाले छात्र को प्राथमिकता दी जाती है और वर्तमान में आईटीआई का प्रचलन बहुत ज्यादा मात्रा में है जिस कारण से विद्यार्थी हाईकोर्ट में आसानी से जो भी प्राप्त कर लेते हैं ।

आईटीआई में जॉब करने के लिए प्रथम पेपर पास करने के बाद स्किल टेस्ट में हिंदी अथवा इंग्लिश टाइपिंग किसी को भी लिया जा सकता है जिसके लिए विद्यार्थी की हिंदी अथवा इंग्लिश टाइपिंग दोनों ही कंप्लीट होना चाहिए।

⬤महत्वपूर्ण तथ्य/जानकारी—

दोस्तों आईटीआई की इस प्रकार की कोई भी वैकेंसी अभी नहीं आई है यह निश्चित है कि अक्टूबर के अंतिम सप्ताह तक 11678 पद आईटीआई के आधार पर देखने को मिलेंगे । इसका नोटिफिकेशन जल्दी ही आ सकता है। जिसके बारे में सभी प्रकार की जानकारी आपको प्रोवाइड करा दी जाएगी ।

Join telegram

Leave a Comment