WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

मप्र खेत तालाब योजना 2024 में 1 लाख तक की पाएं सब्सिडी: पंचायत स्तर पर करें आवेदन

खेत तालाब योजना के लिए सरकार के द्वारा ₹100000 तक की सब्सिडी प्रदान की जाती है जिसके बारे में आज के आर्टिकल में हम बात करेंगे । किसानों के लिए खेती की पैदावार में सबसे बड़ी भूमिका सिंचाई की होती है और अगर खेती में सिंचाई ढंग की नहीं हुई तो निश्चित तौर पर खेती की पैदावार में कमी हो जाती है । सरकार के द्वारा यह प्रयास किया गया है कि खेत तालाब योजना के माध्यम से किसानों को सिंचाई की व्यवस्था कराई जाएगी और उनको सब्सिडी के तौर पर कुछ आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी जिसके माध्यम से वह है खेत में ही तालाब का निर्माण कर पाएंगे । आज के आर्टिकल में हम जानेंगे कि खेत तालाब योजना में किस तरह से किसानों को सब्सिडी मिलेगी ?

क्या है खेत तालाब योजना?

किसानों के लिए जल संरक्षण बहुत ही बड़ी भूमिका होती है जिसके लिए कुएं जैसी और तालाबों जैसी व्यवस्थाएं होना बहुत ही आवश्यकता वाली चीज हैं । सरकार के द्वारा खेत तालाब योजना के माध्यम से किसानों को प्रोत्साहित किया जाता है कि वह अपने खेत में ही तालाब का निर्माण करवाए इसके लिए सरकार एक लाख रुपए तक की आर्थिक सहायता प्रदान करती है। सरकार का उद्देश्य है कि इस योजना के माध्यम से किस जल संरक्षण कर पाएंगे और खेती के लिए समय-समय पर जल की आपूर्ति को पूरा कर पाएंगे ।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

खेत तालाब योजना में मिलने वाली राशि–

किसानों को प्राप्त होने वाली आर्थिक सहायताश्रेणी
₹100000 तकसभी किसानों
प्राथमिकता वाले किसानों के लिएअनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति

सरकार के द्वारा सब्सिडी के तौर पर तालाब बनवाने के लिए किसानों को लगभग ₹100000 तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है जिसमें सबसे पहले उनके किसानों को प्रायोरिटी दी जाती है जो अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के अंतर्गत आते हैं । अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के अधिकतर लोग मध्यम वर्गीय परिवार के होते हैं और इस वर्ग के लोगों के पास बहुत ही बड़ी समस्या यह होती है कि यह आर्थिक रूप से ज्यादा कमजोर होते हैं। इसके अलावा मध्यम वर्गीय परिवार के लोगों को₹80000 तक की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है जिसके माध्यम से वह खेत तालाब योजना का लाभ ले सकते हैं और अपने खेत में ही जल संरक्षण कर सकते हैं और सिंचाई के लिए पर्याप्त जल की व्यवस्था कर सकते हैं ।

खेत तालाब योजना से किसानों को लाभ

स्थितिसिंचाई का साधन नहरे के माध्यम से उपलब्धसिंचाई के लिए जल की बड़ी समस्याआर्थिक सहायता द्वारा सरकार की पहुंच
जिन इलाकों में सिंचाई का साधन नहरे के माध्यम से उपलब्ध होता हैहांनहीं
जिन किसानों के पास नहरे का पानी नहीं पहुंच पातानहींहांहां, आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है

जब से सरकार के द्वारा खेत तालाब योजना को शुरू किया गया तब से किसानों को खेती करने में बहुत ही आसानी हुई है क्योंकि सबसे बड़ी समस्या किसानों को जल की ही होती है । जिन इलाकों में सिंचाई का साधन नहरे के माध्यम से उपलब्ध होता है उनके किसानों को बहुत ज्यादा समस्या नहीं होती लेकिन जिन किसानों के पास नहरे का पानी नहीं पहुंच पाता उनको सिंचाई के लिए जल की बहुत ही बड़ी समस्या पैदा हो जाती है । इस तरह की किसानों को सरकार के द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है ताकि वह अपने खेत में ही किसी ऐसी जगह पर तालाब का निर्माण करवा दें जहां पर उपजाऊ मिट्टी ना हो या फिर खेत के उसे कोने में तालाब का निर्माण करवायें जहां पर खेती की पैदावार नहीं होती ।

Join telegram

Leave a Comment