एमपी व्यापम पटवारी सिलेबस 2022 MP Patwari Syllabus 2022 PDF

एमपी व्यापम पटवारी सिलेबस pattern 2022, एमपी व्यापम पटवारी सिलेबस 2022, MP Patwari Syllabus 2022, (All Queries Covered)

नमस्कार दोस्तों!

आज की पोस्ट में हम बात करने वाले हैं मध्यप्रदेश पटवारी के सिलेबस के बारे में जिसमें हम आज आपको बताएंगे । आखिर पटवारी का सिलेबस किस तरीके से होता है । इसके प्रश्न परीक्षा में किस तरीके से पूछे जाते हैं? ऐसी कौन सी रणनीति है जिससे पटवारी की बेहतर से बेहतर तैयारी की जा सके? पटवारी की परीक्षा कौन करवाता है? पटवारी सिलेबस के अंतर्गत कौन-कौन से विषय आते हैं? मध्य प्रदेश पटवारी चयन परीक्षा का सिलेबस पैटर्न क्या है?

एमपी पटवारी की सिलेबस में क्या – क्या बदलाव किया गया है किस तरीके से पूछा जाएगा इसके बारे में महत्वपूर्ण चर्चा की जाएगी? पटवारी का कार्य क्या होता है? किस तरीके से व्यापम के द्वारा पटवारी का चयन किया जाता है । पटवारी में पूछे जाने वाला पंचायती राज कितने अंको का होता है किस तरीके से यह पूछा जाता है जो कि एक गंभीर विषय है इसके बारे में भी विस्तार से चर्चा की जाएगी ।

☯ सामान्य ज्ञान से पूछे जाने वाले विषय–

पद मध्यप्रदेश पटवारी
परीक्षामध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा 2022
परीक्षा एजेंसीव्यापम
एग्जाम कंडक्टप्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड

✔️ इतिहास –

दोस्तों इतिहास के बहुत से अध्याय ऐसे होते हैं जो प्रत्येक परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण होते हैं जैसे भारत में होने वाले ऐतिहासिक आंदोलन और उनका वार्षिक समय ।

इतिहास में होने वाली घटनाएं बहुत ही ऐसी होती हैं जो सामान्य ज्ञान की दृष्टि से बहुत महत्वपूर्ण होती हैं अर्थात भारत में निवास करने वाले प्रत्येक कैंडिडेट के लिए उन घटनाओं की थोड़ी बहुत जानकारी होना अति आवश्यक होता है । घटनाओं से संबंधित सभी प्रकार के प्रश्न परीक्षा में प्रमुख रूप से बनते हैं ।

एमपी पटवारी में ज्यादातर 1915 से लेकर 1947 तक होने वाली सभी प्रकार की घटनाओं का जिक्र होता है । इन घटनाओं में बहुत सी घटनाएं गांधीजी से जुड़ी होती हैं जो ज्यादातर प्रमुख रूप से पूछी जाती है ।

✔️ भूगोल–

दोस्तों यह एक ऐसा विषय है जो हमें हमारे देश की भौगोलिक स्थिति के बारे में जानकारी देता है । इस प्रकार के प्रश्न पर्वत ,पठार ,चोटी , नदियां वन और वनों में रहने वाले जीव जंतुओं से बनने वाले प्रश्न होते हैं ।

भारत में पाए जाने वाले तटीय मैदान ,नदियों के मुहाने महत्वपूर्ण बांध जलाशय आदि के बारे में पूछा जा सकता है । नदी तंत्र से ज्यादातर प्रश्न बनते रहते हैं ऐसी नदियां शामिल होती हैं जो भौगोलिक रूप से काफी बड़ी क्षेत्रफल में बहती हैं जैसे हिमालय से बहने वाली नदियां।

✔️ संविधान–

दोस्तों संविधान कोई बहुत बड़ा विषय नहीं है परंतु यह कॉन्पिटिटिव एग्जाम के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है इसमें ऐसे– ऐसे महत्वपूर्ण फैक्ट होते हैं जो परीक्षा की दृष्टि से तो ठीक है हमारे जीवन के लिए भी जानना बहुत महत्वपूर्ण होता है ।

संविधान से ज्यादातर प्रश्न संविधान निर्माण प्रक्रिया संविधान में पाए जाने वाले आर्टिकल और उनमें संशोधन इस प्रकार के प्रश्न बन सकते हैं । संविधान के भाग और अनुसूचियों से संबंधित कोई ना कोई प्रश्न परीक्षा में अवश्य पूछा जाता है जिसमें से भाग 3 के अंतर्गत आने वाले सभी प्रश्न कई बार परीक्षा में दोहराए जाते हैं ।

✔️ मध्य प्रदेश सामान्य ज्ञान–

एमपी जीके के अंतर्गत मध्यप्रदेश में पाई जाने वाली भौगोलिक स्थिति के बारे में भी पूछा जा सकता है जिसमें मध्य प्रदेश में नदियों के उद्गम और उनका विस्तार प्रमुख है ।

मध्यप्रदेश के ऐतिहासिक धरोहर स्थल जो विश्व विरासत सूची में शामिल हैं इनके बारे में महत्वपूर्ण प्रश्न बन सकते हैं। मध्य प्रदेश में स्थित ऐसी इमारतें जो बहुत ही प्रसिद्ध है उनकी स्थिति तथा निर्माण समय आदि के बारे में पूछा जा सकता है ।

✔️ विज्ञान–

मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा में विज्ञान बहुत ही कम मात्रा में पूछी जाती है अर्थात आपको 1–2 प्रश्न ही देखने को मिलते हैं । विज्ञान के अंतर्गत इस प्रकार के प्रश्नों में ऐसे प्रश्न शामिल हैं जो ज्यादातर हमारे दैनिक जीवन से संबंधित होते हैं ।

विज्ञान के अंतर्गत ज्यादातर किसी रोग के बारे में पूछा जा सकता है और उनका संपूर्ण वर्णन जैसे कैसे फैलता है क्या इसका वाहक है सभी के बारे में किसी भी एक जगह से पूछा जा सकता है ।

✔️Mathematics –

मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा के अंतर्गत केवल गणित के प्रश्न पूछे जाते हैं इसमें से कुछ प्रश्न तार्किक रूप से होते हैं।

मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा के अंतर्गत रीजनिंग बिल्कुल भी नहीं पूछी जाती केवल गणित के प्रश्न होते हैं।

गणित के कुछ अध्याय एमपी पटवारी के लिए बहुत महत्वपूर्ण होते हैं जिनसे ज्यादातर प्रश्न बनते हैं–

  • 🛑प्रतिशत
  • 🛑लाभ हानि
  • 🛑औसत
  • 🛑मिश्रण
  • 🛑अलजेब्रा
  • 🛑त्रिकोणमिति
  • 🛑साधारण ब्याज
  • 🛑चक्रवृद्धि ब्याज–
  • 🛑त्रिभुज
  • 🛑क्षेत्रफल
  • 🛑आयतन
  • 🛑कार्य तथा समय
  • 🛑रेलगाड़ी
  • 🛑चाल, दूरी और समय
  • 🛑ऊंचाई एवं दूरी
  • 🛑संख्या पद्धति
  • 🛑LCM and HCF
  • 🛑पाइप और टंकी
  • 🛑अनुपात समानुपात
  • 🛑रेखा गणित

✔️ सामान्य हिंदी के प्रश्न–

हिंदी अध्याय से बहुत ही सरल और कठिन प्रश्न दोनों ही शामिल होते हैं हिंदी के प्रश्न ज्यादातर विद्यार्थी सॉल्व कर लेते हैं क्योंकि अधिकांश विद्यार्थियों का विषय भी हिंदी होता है ।

हिंदी के कुछ प्रमुख अध्याय हैं जिनसे ज्यादातर प्रश्न बनते हैं जो इस प्रकार हैं–

  • ⏩संधि
  • ⏩समास
  • ⏩गद्य साहित्य का इतिहास
  • ⏩पद्य साहित्य का इतिहास
  • ⏩रस
  • ⏩छंद
  • ⏩अलंकार
  • ⏩भाषा
  • ⏩काव्य
  • ⏩कवि और उनकी रचनाएं

आदि जितने भी अध्याय हैं सभी से प्रश्न आते हैं परंतु इन अध्याय से ज्यादातर प्रश्न पूछे जाते हैं ।

✔️ कंप्यूटर विज्ञान के अध्याय–

कंप्यूटर विज्ञान के अंतर्गत ऐसे प्रश्न आते हैं जो हमारे दैनिक जीवन से भी जुड़े होते हैं जिनको हम सूचना प्रौद्योगिकी के अंतर्गत पढते हैं । दोस्तों वर्तमान में इंटरनेट बहुत तेजी से उपयोग हो रहा है कोई व्यक्ति बना इंटरनेट के किसी भी दिन की शुरुआत नहीं करता है यह अध्याय भी परीक्षा की दृष्टि से बहुत महत्वपूर्ण होता है ।

कंप्यूटर विज्ञान के अंतर्गत कंप्यूटर के इतिहास से संबंधित 1–2 प्रश्न प्रमुख रूप से पूछे जाते हैं इसके बाद कंप्यूटर मेमोरी अध्याय बहुत महत्वपूर्ण होता है।

✔️ पंचायती राज एवं अर्थव्यवस्था–

पंचायती राज व्यवस्था का इतिहास और इसका विकास प्रमुख रूप से पूछा जाता है । पंचायती राज व्यवस्था से जितने भी प्रश्न बन सकते हैं सभी को पटवारी परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण माना जाता है ।

अर्थव्यवस्था से जुड़े हुए प्रश्न पंचायती राज व्यवस्था की अपेक्षा कम आते हैं ज्यादातर प्रश्न पंचायती राज व्यवस्था से ही पूछे जाते हैं ।

☯ एमपी पटवारी सिलेबस 2022–

दोस्तों मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा के लिए 100 अंकों का मात्र एक पेपर लिखित रूप से कैंडिडेट के लिए निर्धारित है। इस परीक्षा में प्रत्येक प्रश्न के लिए 1 अंक निर्धारित किया गया है।

विषय वार परीक्षा में निम्नलिखित विषय पूछे जाएंगे–

  • ✔️ ग्रामीण अर्थव्यवस्था और पंचायती राज –20 अंक
  • ✔️ कंप्यूटर विज्ञान –20 अंक
  • ✔️ सामान्य हिंदी –20 अंक
  • ✔️ सामान्य गणित और सामान्य अभिरुचि –20 अंक
  • ✔️ सामान्य ज्ञान – 20 अंक

☯ नेगेटिव मार्किंग–

दोस्तों कई परीक्षाएं ऐसी होती हैं जिनमें नेगेटिव मार्किंग होती है अर्थात यदि आप कोई प्रश्न गलत करते हैं तो उसका मिलने वाला अंक कुछ प्रतिशत रूप से कम हो जाता है । इस प्रकार की परीक्षा में किसी भी प्रकार से अंकों की कटौती नहीं की जाती ।

  • ✔️ पेपर हल करने का तरीका और शुद्धता दोनों ही पेपर के रिजल्ट पर निर्भर करते हैं ।
  • ✔️ यदि कोई कैंडिडेट प्रत्येक प्रश्न का उत्तर एग्जैक्ट समय से देता है तो परीक्षा परिणाम अच्छा आने के ज्यादा चांस होते हैं ।

☯ मध्यप्रदेश पटवारी परीक्षा आवेदन फीस–

  • General –

अनारक्षित विद्यार्थियों को मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा के लिए ₹500 फीस का प्रावधान है ।

  • OBC,एससी,एसटी–

मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा के लिए पिछड़ा वर्ग के कैंडिडेट और अनुसूचित जाति के कैंडिडेट तथा अनुसूचित जनजाति के कैंडिडेट के लिए ₹250 का प्रावधान है

विकलांग रूप से कोई भी कैंडिडेट इसमें आवेदन कर सकता है ऐसी कैंडिडेट की फीस भी ₹250 है ।

✔परीक्षा  पूर्णांक100अंक 
✔सामान्य गणित अभिरुचि20 अंक
✔कंप्यूटर विज्ञान20 अंक
✔ग्रामीण अर्थव्यवस्था और पंचायती राज20 अंक
✔सामान्य ज्ञान/जीएस20 अंक
✔सामान्य हिंदी20 अंक
✔उम्र18–40

☯ प्रश्न पत्र की संख्या –

मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा के लिए केवल एक बार ही परीक्षा होती है जिसमें केवल एक ही पेपर लिखित रूप से पूछा जाता है । परीक्षा आयोजित होने के बाद कोई भी प्रक्रिया चयन के लिए नहीं होती है परीक्षा परिणाम की घोषणा होने के बाद सीधी मेरिट लिस्ट आती है । मेरिट लिस्ट आने के बाद जॉइनिंग लेटर आता है ।

☯ पटवारी के लिए आयु योग्यता–

मध्यप्रदेश पटवारी के लिए आवेदन करने वाले कैंडिडेट की आयु 18 वर्ष से 40 वर्ष तक के मध्य होना चाहिए । 18 वर्ष से कम वाले विद्यार्थी को मध्यप्रदेश पटवारी के लिए योग्य नहीं माना जाता ।

☯ पद हेतु कार्यभार –

दोस्तों परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद और कैंडिडेट की जॉइनिंग के बाद आवेदन के अनुसार जो जिला सिलेक्ट किया जाता है वह जिला कार्य पद के लिए नहीं दिया जाता । आवेदन में आप जिस जिले को सेलेक्ट करते हैं उसके विपरीत कोई अन्य जिला पद कार्य के लिए दिया जाता है।

☯ जिले के अनुसार आवेदन–

दोस्तों यह परीक्षा प्रमुख रूप से पूरे मध्यप्रदेश की नहीं होती है बल्कि पूरे मध्यप्रदेश में होने के साथ-साथ प्रत्येक जिले को सिलेक्ट करके ही आवेदन किया जाता है। परीक्षा परिणाम घोषित जिले के अनुसार ही होता है और प्रत्येक जिले की मेरिट भी तैयार होती है उसके बाद फाइनल लिस्ट जारी होती है ।

किसी भी जिले को सेलेक्ट करने के पहले आप आवेदन नहीं कर सकते इसका अर्थ यह माना जाएगा कि आप किसी जिले में अपना पद नहीं चाहते हैं यदि आपको पटवारी के लिए आवेदन करना है तो आप एक से अधिक जिलों को सेलेक्ट कर सकते हैं ।

☯ क्या सीपीसीटी अनिवार्य है?

दोस्तों कंप्यूटर प्रोफिशिएंसी सर्टिफिकेशन टेस्ट मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा के लिए आवेदन के समय महत्वपूर्ण नहीं होता और ना ही इसकी कोई जरूरत होती है। यदि किसी विद्यार्थी को यह लगता है कि आवेदन करने के समय ही सीपीसीटी की जरूरत है तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है।

मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा 2022 के आवेदन के बाद पटवारी चयन परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद और जॉइनिंग होने के बाद 2 साल तक का समय दिया जाता है जिस बीच कोई भी कैंडिडेट सीपीसीटी को कंप्लीट कर सकता है ।

मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा के लिए कैंडिडेट का ग्रेजुएट होना बहुत आवश्यक होता है यह परीक्षा बिना ग्रेजुएट कैंडिडेट को देने को नहीं मिलती ।

🔥निवासमध्य प्रदेश
🔥ग्रेजुएशनकोई भी किसी भी विषय से
🔥तैयारीऑनलाइन एजुकेशनल प्लेटफार्म
🔥प्रैक्टिस सेटटेक्स्ट बुक अथवा अन्य प्लेटफार्म
🔥प्रीवियस ईयर पेपर2017 और 2017 से पहले
🔥मध्यप्रदेश पटवारी जॉइनिंगफाइनल लिस्ट आने के बाद
🔥मध्यप्रदेश पटवारी कार्यभारनिवास जिले के अतिरिक्त कोई भी जिला
🔥एडमिट कार्डMPPEB 
🔥एमपी पटवारी ट्रेनिंगनजदीकी ट्रेनिंग सेंटर 9 महीना या इससे अधिक

☯ मूल निवास–

मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा 2022 के लिए आवेदन करने वाले प्रत्येक के कैंडिडेट का मूल निवास मध्य प्रदेश ही होना चाहिए अन्य किसी राज्य का विद्यार्थी मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा के लिए योग्य नहीं माना जाता ।

मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा के लिए कोई भी कैंडिडेट किसी भी जिले को सेलेक्ट करके इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकता है परंतु मध्य प्रदेश का निवास होना आवश्यक है ।

☯ ग्रेजुएशन –

मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा के लिए प्रत्येक कैंडिडेट के लिए आवश्यक होगा कि वह किसी भी विषय से ग्रेजुएट हो चुका हो इसके बाद ही वह आवेदन कर सकता है ।

ग्रेजुएशन से संबंधित इस प्रकार का कोई भी प्रावधान नहीं है कि किसी एक विषय से महत्वपूर्ण हो किसी भी विषय से ग्रेजुएशन कंप्लीट होना चाहिए । यह भी जरूरी नहीं है कि कौन सा ग्रेजुएशन आवश्यक है कोई भी ग्रेजुएशन जो पूर्ण हो चुका हो आवेदन करने के लिए पर्याप्त होता है।

☯ आवेदन के बाद परीक्षा का समय–

दोस्तों नोटिफिकेशन के द्वारा ही बता दिया जाता है कि आवेदन के कितने दिन बाद परीक्षा आयोजित की जाएगी । मध्यप्रदेश Vyapam पटवारी चयन परीक्षा के लिए लगभग 3 महीने का समय दिया जाता है जिसके पश्चात यह है परीक्षा आयोजित की जाती है ।

कभी-कभी यह परीक्षा किसी कारण से 6 महीने के लिए स्थगित भी हो सकती है। परंतु आवेदन होने के बाद परीक्षा निश्चित रूप से आयोजित होती है।

☯ परीक्षा का आधार–

दोस्तों परीक्षा ऑनलाइन आयोजित की जाती है जिसमें कंप्यूटर के माध्यम से वैकल्पिक प्रश्नों को करना होता है और सबमिट करना होता है । प्रत्येक प्रश्न के लिए चार विकल्प दिए जाते हैं जिसमें से किसी एक को सिलेक्ट करना होता है ।

☯ आवेदन देने से पहले इन बातों पर विशेष ध्यान देना चाहिए–

  • ☛आवेदन करने से पहले ग्रेजुएशन कंप्लीट होना चाहिए इसके पश्चात ही आवेदन के लिए कोई कैंडिडेट योग्य होता है ।
  • ☛मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा के लिए जॉइनिंग से पहले सीपीसीटी अनिवार्य नहीं होती है जॉइनिंग के बाद सीपीसीटी करने का कंप्लीट टाइम दिया जाता है ।
  • ☛आवेदन करते समय किसी भी प्रकार की गलती ना हो इसका जरूर ध्यान रखें क्योंकि आपकी एक गलती पटवारी परीक्षा के लिए अयोग्य कर सकती हैं ।
  • ☛आवेदन करने के लिए अपना निजी जिला सिलेक्ट नहीं करना चाहिए ज्यादातर पड़ोसी जिले को सिलेक्ट करके आवेदन करना चाहिए ताकि जोइनिंग में आपको खुद का जिला संभवत मिल सके ।
  • ☛परीक्षा का शहर कौन सा होगा इस बात की जानकारी परीक्षा तारीख के 1 महीने पहले पता चल जाती है । इसके लिए व्यापम की ऑफिशियल वेबसाइट पर पता कर सकते हैं ।

☯ सिलेबस को कैसे समझें–

दोस्तों मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा के लिए सिलेबस के बारे में मैंने आपको बता ही दिया है और इसमें समझने वाली कोई विशेष बात नहीं होती है । इसको आप बड़ी ही आसानी के साथ समझ सकते हैं अलग-अलग विषय के प्रमुख अंक निर्धारित किए गए हैं और प्रमुख अध्याय भी दिए गए हैं जिनसे प्रश्न पूछे जा सकते हैं ।

  • 🔥मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा 2022 के लिए आवेदन कब से होगा?
  • 🔥मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा के लिए आवेदन नोटिफिकेशन आने की 1 महीने के अंदर ही शुरू हो जाते हैं ।

मध्यप्रदेश पटवारी चयन परीक्षा 2022 के लिए कंप्यूटर डिप्लोमा का होना आवश्यक नहीं माना जाता परंतु आए नोटिफिकेशन के अनुसार ही पता किया जा सकता है कि योग्यताओं में क्या-क्या मांगा जाएगा ।

Join telegram

Leave a Comment