WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना 2024 मध्य प्रदेश, योजना में शामिल होने के लिए भरें 20 जनवरी से पहले ये फॉर्म

मुख्यमंत्री मोहन यादव जी के द्वारा भी शिवराज सरकार की तरह धार्मिक तीर्थ स्थलों के दर्शनों के लिए जनता को मौका दिया गया है । जो भी इच्छा को उम्मीदवार दर्शन के लिए जाना चाहते हैं उनके लिए बहुत ही सुनहरा अवसर है कि वह 20 जनवरी 2024 से पहले योजना में शामिल होने के लिए आवेदन कर दें । आज के आर्टिकल में हम जानेंगे कि मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना क्या है और इसके लिए आवेदन कैसे किया जा सकता है।

क्या है मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना?

मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री मोहन यादव जी के द्वारा मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत हुजूर साहब के लिए 4, श्री पटना साहिब के लिए 3, वाराणसी के लिए दो और मथुरा वृंदावन के लिए तीन साथ ही अजमेर शरीफ के लिए एक ट्रेन की व्यवस्था की गई है। मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के द्वारा इन दर्शनों में कई अन्य दर्शनों को भी शामिल किया जा सकता है ।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
योजनामुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना 2024 मध्य प्रदेश
फॉर्म भरने की अंतिम तारीख20 जनवरी
फॉर्म भरने का आरंभये फॉर्म 20 जनवरी से पहले भरें

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के लिए आवेदन–

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के लिए आवेदन करने के लिए सबसे पहले किसी उम्मीदवार के लिए यह समझना जरूरी है कि आवेदन कहां जमा करना है तो मुख्यमंत्री मोहन यादव जी के द्वारा आवेदक को जमा करने के लिए तहसील उपयुक्त स्थल बताया है जहां से मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के लिए सभी प्रक्रिया पूरी की जाएगी ।

डॉक्यूमेंटप्रति तहसील में जमा करने की संख्याआवेदन जमा करने का समयआवश्यकता
तीर्थ दर्शन का इच्छुक उम्मीदवार का आवेदनदो प्रति तहसीलआवेदन कंप्लीट होने के बादहर उम्मीदवार को आवेदन जमा करना होगा
एड्रेस प्रूफनिश्चित रूप से जमा करना हैआवेदक का पता सत्यापित करने के लिए आवश्यक

इसके अलावा एक एक प्रति अपने पास भी डॉक्यूमेंट की हर उम्मीदवार को रखना है। आवेदन में पासपोर्ट साइज फोटो को चिपका देना है इसके बाद आवेदक को अपनी तहसील में जमा करना है।

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना में शामिल होने के लिए आवश्यक उम्र सीमा–

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना में शिक्षक उम्मीदवार की उम्र सीमा को 60 वर्ष के अंतर्गत रखा गया है इसके अलावा महिलाओं के लिए उम्र सीमा में 2 वर्ष कम रखा गया है अर्थात अगर महिलाएं 2 वर्ष इधर-उधर रहेंगे तो उनको इस योजना का लाभान्वित समझ जाएगा।

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन की पात्रता–

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना में ऐसी महिलाएं पात्र मानी जाएगी जो मध्य प्रदेश की मूल निवासी हैं और किसी सरकारी पद पर निवासरत नहीं है। मध्य प्रदेश सरकार के द्वारा केवल उन लोगों को इस योजना का लाभ दिया जा रहा है जो बहुत बड़ी आय प्राप्त नहीं करते अर्थात जिनकी लाखों में आए नहीं है यानी कुल मिलाकर गरीब परिवार से आते हैं।

यात्रियों के लिए सरकार के द्वारा व्यवस्था–

मध्य प्रदेश सरकार के द्वारा यात्रियों के लिए यात्रा के दौरान स्वच्छ भोजन और रहने बैठने की पर्याप्त व्यवस्था रहती है साथ ही जहां पर बस के द्वारा यात्रा की जरूरत महसूस हो तो उसे भी सरकार के द्वारा ही पूरा किया जाता है कुल मिलाकर यात्रियों को किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत होने वाली नहीं है । सरकार के द्वारा यात्रा काफी साल से शुरू की गई जिसका प्रभाव मध्य प्रदेश की जनता पर अनुकूल पड़ा है ।

Join telegram

Leave a Comment