WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

पटवारी गांव में ही रहेगा घर किराए से लेकर, शहर से आने वाले पटवारी को बर्खास्त करेगी मोहन यादव सरकार

गांवों में सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार एवं घूसखोरी के मामले देखने को मिलते हैं। किसानों को सबसे ज्यादा ठगी का शिकार होना पड़ता है। प्रदेश में गांव कस्बों के अधिकारियों को लेकर सख्ती दिखाने की पूरी तैयारी मोहन यादव सरकार ने करदी है। प्रदेश में पटवारियों के लिए सबसे बड़ी कार्यवाही करने की तैयारी प्रदेश सरकार ने करदी है।

हल्का का पटवारी, गांव में ही रहेगा दिन रात

आये दिन बहुत ख़बरें न्यूज़ में देखने को मिलती है की पटवारी अपने दफ्तर में ही नहीं मिलता है | पटवारी अपने काम को लेकर बहुत लापरवाह हो गए है | किसानो को अपने गांव हल्का के जगह जमीन के काम को लेकर दर दर भटकना पड़ता है | सीएम हेल्पलाइन नंबर 181 पर भी पटवारियों की कई शिकायतें आती है | इसी को देखते हुए मोहन यादव पटवारियों को लेकर सख्त हो गए है |

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

पटवारी को बर्खास्त करेगी मोहन यादव सरकार

थोड़ी थोड़ी बातो पर पटवारी हड़ताल पर चले जाते है इसी लिए उनके काम को और सख्त करने पर मोहन यादव सरकार ने कमर कस ली है | यदि कोई पटवारी शहर से आकर गाँव में अपने हल्का में रोज अप डाउन करता है तब उसके लिए मुश्किलों का सामना करना होगा क्युकी अब सरकार ने उनको गाँव में ही रहने के निर्देश दे दिए है |

निर्देशकार्रवाई
सीएम के निर्देश आदेश जारी
नामपटवारी गांव में ही रहेगा
आवासघर किराए से लेकर
नगरशहर से आने वाले पटवारी को बर्खास्त

Latest posts –

शहर से आने वाले पटवारियों पर गिरी गाज

जो पटवारी शहर से रोज आते थे और अपने हल्का में काम करते थे और शाम होते ही फिर से शहर चले जाते थे उनके लिए अब गाँव में रहने के शख्त निर्देश है | यदि कोई पटवारी इस निर्देश का पालन करते हुए नहीं पाया जाता है तब उसको ससपेंड कर दिया जायेगा |

राजस्व विभाग को लेकर मोहन यादव सरकार सख्त

नामांतरण का निर्णय सरकार का सराहनीय काम रहा है। रजिस्ट्री करने के 15 दिन के अंदर ही पटवारी को स्वयं ही नामांतरण की प्रक्रिया पूर्ण करनी होगी | नामांतरण में लापरवाही दिखने वाले अधिकारिओ पर मोहन यादव सरकार सख्ती बरतने वाली है |

Join telegram

Leave a Comment