WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

मालदीव और भारत के बीच बहुत तनाव का माहौल : लक्ष्यद्वीप जाएंगे भारतीय लेकिन मालदीव नहीं

गाजा और इजरायल युद्ध को लेकर के पूरा विश्व दो भागों में बांटा हुआ है। एक तरफ विश्व के सभी मुस्लिम देश हैं तो दूसरी तरफ जो मुस्लिम देश नहीं है वह। भारत और मालदीव्स के बीच तनाव दिन प्रतिदिन पड़ता ही जा रहा है। क्योंकि भारत को इसराइल का हरदम पक्ष करते देखा गया है और मालदीव्स में इस समय चीन को पक्ष करने वाली सरकार सत्ता में है।

मालदीव की सरकार चीन या भारत की तरफ

मालदीप में जो भी सरकार बनती है वह या तो चीन को पक्ष करती है या फिर भारत को, मालदीव में दो पार्टियां हैं एक पार्टी की सरकार आती है तो वह भारत को पक्ष करती है और दूसरी पार्टी की सरकार आती है तो वह चीन को पक्ष करती है। मालदीव में सबसे ज्यादा पर्यटक भारत से ही जाते हैं लगभग 23 प्रतिशत पर्यटक मालदीप में भारतीय होते हैं । बॉलीवुड की कई फिल्मों की शूटिंग भी मालदीप में होती है मालदीप को आय का स्रोत है वह टूरिज्म/ पर्यटन है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

भारत के प्रधानमंत्री को कहे अपशब्द

मालदीव में जो वर्तमान सरकार है उसमें से एक मंत्री ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इजरायल का Puppit कहा । इसी को लेकर भारतीयों के मन में मालदीप को लेकर के काफी गुस्सा देखने को मिल रहा है। भारत की तरफ से मालदीप जाने वाली सब पर्यटन प्लेनों को कैंसिल कर दिया गया है। सभी भारतीय टूरिस्ट, मालदीप को बायकाट करने लगे हैं।

बॉलीवुड से लेकर के राजनीतिक गलियारों तक, राजनीतिक गलियारों से लेकर के पर्यटन के क्षेत्र तक हर क्षेत्र में मालदीप को बायकाट किया जा रहा है।

जल्द से जल्द मालदीप की जगह लक्षद्वीप को पर्यटन स्थल का केंद्र बनाया जाएगा। मालदीप की जगह है भारतीय पर्यटक लक्ष्यदीप जाएंगे। लक्षद्वीप में इन्फ्रास्ट्रक्चर डिवेलप किया जाएगा होटल से लेकर के विभिन्न पर्यटन स्थल डेवलप किए जाएंगे।

इन्हें भी पढ़ें –

Join telegram

Leave a Comment