Top 5 Medical Colleges In MP In 2022 एमपी टॉप 5 मेडीकल कॉलेज

हेलो दोस्तों आज हम आपको मध्य प्रदेश के टॉप 5 मेडिकल कॉलेज के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं और आज हम आपको बताएंगे मध्य प्रदेश की मेरिट सूची किस प्रकार से बनाई जाती है और  मेडिकल कॉलेज में काफी उच्च स्तर पर सूची को उठाया जाता है जिसमें की गिने चुने हुए बच्चों का ही इस में सिलेक्शन हो पाता है।

दोस्तों आपको पता है कि वर्तमान स्थिति में हमारा देश कोरोना जैसी गंभीर बीमारी से लड़ रहा है जिसके लिए हमारे देश में काफी मात्रा में डॉक्टरों की जरूरत भी है दोस्तों मेडिकल लाइन का काफी महत्व बढ़ गया है जब से हमारे देश में कोरोना जैसी गंभीर बीमारी पैदा हुई है  और हर मेडिकल कॉलेज की यह इच्छा होती है कि अधिक से अधिक संख्या में हम अपने यहाँ से डॉक्टरों को बना सके। मेडिकल कॉलेज का एंट्रेंस एग्जाम देने वाले बच्चों की संख्या काफी बढ़ गई है और पिछले कुछ सालों से मेडिकल की पढ़ाई का स्तर काफी बढ़ गया है इसके लिए आपको सबसे पहले नीट यूजी 2022- 23 का एंट्रेंस एग्जाम निकालना होगा।

  • मध्य प्रदेश में टॉप 5 मेडिकल कॉलेज निम्न प्रकार से दिए गए हैं
  • 1. गांधी मेडिकल कॉलेज भोपाल ।
  • 2. गजरा राजा मेडिकल कॉलेज ग्वालियर ।
  • 3. महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज इंदौर (MGMMC इंदौर) ।
  • 4. नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज जबलपुर ।
  • 5. श्याम शाह मेडिकल कॉलेज रीवा ।

गांधी मेडिकल कॉलेज भोपाल मध्यप्रदेश

गांधी मेडिकल कॉलेज भोपाल की स्थापना सन 1955 में राज्य सरकार के द्वारा की गई थी। इस कॉलेज को   जीएमसी भोपाल के नाम से भी जाना जाता है। गांधी मेडिकल कॉलेज  मध्य प्रदेश का सबसे पुरानी चिकित्सा संस्थानों में से एक है। गांधी मेडिकल कॉलेज भोपाल मध्य प्रदेश की चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर से संबंद्ध है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा 26 जनवरी को यह घोषणा की गई की मध्यप्रदेश के गांधी मेडिकल कॉलेज भोपाल में हिंदी में एमबीबीएस की पढ़ाई शुरू की जाएगी।

Gandhi medical college

इसके बारे में मेडिकल एजुकेशन मिनिस्टर विश्वास  कैलाश नारंग ने बताया कि इसके लिए कार्य अपने चरम पर है और जल्द ही यह मुकाम हासिल कर लिया जाएगा। इसके लिए अटल बिहारी हिंदी विश्वविद्यालय के  विशेषज्ञ शिक्षकों के सहयोग से पहले की किताबों को इकट्ठा किया जा रहा है। और जल्द ही इस पाठ्यक्रम को हिंदी में शुरू किया जाएगा।
गांधी मेडिकल कॉलेज के प्रमुख पाठयक्रम जैसी एमबीबीएस, एमडी ,एमए।

गजरा राजा मेडिकल कॉलेज ग्वालियर मध्यप्रदेश

गजरा राजा मेडिकल कॉलेज ग्वालियर की स्थापना भारत के मध्य प्रदेश राज्य में सन 1946 में की गई था। गजरा राजा मेडिकल कॉलेज ग्वालियर मध्य प्रदेश की चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर से संबंद्ध है। गजरा राजा मेडिकल कॉलेज में प्रमुख पाठ्यक्रम है जैसे एमबीबीएस ,एमडी ,एमएस।
गजरा राजा मेडिकल कॉलेज ग्वालियर मध्य प्रदेश के प्रसिद्ध मेडिकल कॉलेजों में से एक है।
गजरा राजा मेडिकल कॉलेज जो भारत का पहला मेडिकल कॉलेज था। गजरा राजा मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन 1 अगस्त 1946 को जीवाजीराव सिंधिया के द्वारा किया गया था। गजरा राजा मेडिकल कॉलेज के भवन का उद्घाटन भारत के उस समय के उप प्रधानमंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल ने 5 दिसंबर 1948 को किया था।

गजरा राजा मेडिकल कॉलेज ग्वालियर मध्यप्रदेश

गजरा राजा मेडिकल कॉलेज को जी आर एम सी ग्वालियर के नाम से भी जाना जाता है। गजरा राजा मेडिकल कॉलेज मे हर साल एमबीबीएस के लिए 180 छात्रों को प्रवेश दिया  जाता है। और स्नातकोत्तर डिग्री में 155 छात्रों को प्रवेश दिया जाता है। और साथ ही डिप्लोमा  में 36 छात्रों को प्रवेश दिया जाता है। गजरा राजा मेडिकल कॉलेज में आधुनिक सुविधाओं से भरपूर 1100 बेड की उत्तम व्यवस्था की गई है गजरा राजा मेडिकल कॉलेज आधुनिक सुविधाओं से लैस है गजरा राजा मेडिकल कॉलेज में खेल मैदान,  पुस्तकालय, कॉफी हाउस, रक्त बैंक ,आपातकालीन सेवाएं आदि की सुविधाएं दी गई है।

महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज इंदौर मध्य प्रदेश

महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज इंदौर की स्थापना मध्य प्रदेश राज्य के इंदौर में सन 1948 में की गई थी। यह मेडिकल कॉलेज मध्य प्रदेश के चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर से संबंद्ध है। महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग या एनएमटी द्वारा अनुमोदित किया गया है। महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज इंदौर में प्रमुख पाठ्यक्रम जैसे एमबीबीएस, एमडी ,एमएस आदि।
महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज इंदौर भारत के सबसे पुराने सरकारी मेडिकल कॉलेजों में से एक है। इसके पहले एक मेडिकल स्कूल हुआ करता था। नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज इंदौर में एमडी और एमएस डिग्री की शुरुआत सन 1953 में हुई थी। यहां पर बाल रोग, सामान्य चिकित्सा, सर्जरी और ऐसी कई क्षेत्रों में यह मेडिकल कॉलेज अग्रणी रहा है। महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज इंदौर सन 1959 में कार्डियोलॉजी डिवीजन की शुरुआत की गई जो गरीब लोगों की ह्रदय की सर्जरी करता था।

महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज इंदौर मध्य प्रदेश

नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज जबलपुर मध्य प्रदेश

नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज जबलपुर की स्थापना सन 1955 में भारत के मध्य प्रदेश राज्य के जिले जबलपुर में की गई थी। यह मेडिकल कॉलेज चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर से संबद्ध है। नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज जबलपुर को चिकित्सा राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग द्वारा अनुमोदित किया गया है । नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज जबलपुर मध्य प्रदेश राज्य का दूसरा सबसे पुराना मेडिकल कॉलेज है। नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज जबलपुर में प्रतिवर्ष डेढ़ सौ छात्रों को प्रवेश दिया जाता है। नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज का नाम भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के समय रहे प्रमुख नेता नेताजी सुभाष चंद्र बोस के नाम पर रखा गया था। नेताजी सुभाष चंद्र मेडिकल कॉलेज जबलपुर जबलपुर के गढ़ा क्षेत्र के अंतर्गत आता है। यह इलाका चारों ओर से पहाड़ियों से घिरा हुआ है।

नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज जबलपुर मध्य प्रदेश

श्याम शाह मेडिकल कॉलेज रीवा मध्य प्रदेश

श्याम शाह मेडिकल कॉलेज रीवा स्थापना सन 1963 में मध्य प्रदेश के रीवा जिले में की गई थी। श्याम शाह मेडिकल कॉलेज रीवा ए पी सिंह विश्वविद्यालय से संबंद्ध है। श्याम शाह मेडिकल कॉलेज रीवा संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल और गांधी मेमोरियल अस्पताल से जुड़ा हुआ है। श्याम शाह मेडिकल कॉलेज का नाम 19वीं शताब्दी के ब्रिटिश इंडिया कंपनी के विद्रोही अमर शहीद श्री श्याम सिंह के नाम पर इस कॉलेज का नाम रखा गया था। यह मध्य प्रदेश के पुराने मेडिकल कॉलेजों में से एक है। इसका पूरा पता हरी भूषण नगर रीवा मध्य प्रदेश है।

श्याम शाह मेडिकल कॉलेज रीवा मध्य प्रदेश
Website Home ( वेबसाइट की सभी पोस्ट ) – Click Here
———————————————————-
Telegram Channel Link – Click Here
Join telegram

Leave a Comment