WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

विक्रमादित्य नि:शुल्क शिक्षा योजना 2024, शिक्षा शुल्क में 25000 रुपए तक की अधिकतम छूट

शिक्षा एक ऐसा सशक्त माध्यम है जिसके द्वारा हर किसी का शारीरिक और मानसिक विकास होता है लेकिन अगर इसमें कोई कमी रह जाती है तो यह निश्चित मान लीजिए कि वह पूरे जीवन में कमी रह जाती है। शिक्षा की कमी होना अर्थात हमारे जीवन का आधा अधूरा विकास होता है क्योंकि अगर शिक्षा पूरी नहीं हुई तो निश्चित तौर पर हमें वह समझा कभी नहीं आ सकती जो असल में आना चाहिए। शिक्षा एक ऐसा हथियार है जिस समय पर ही प्राप्त किया जा सकता है अगर समय निकल जाता है तो इसे फिर प्राप्त नहीं किया जा सकता ।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा शिक्षा को लेकर कई योजनाओं को शुरू किया गया जिसमें से एक योजना विक्रमादित्य निशुल्क शिक्षा योजना भी है जिसमें ₹25000 की आर्थिक सहायता सरकार की तरफ से होती है अर्थात ₹25000 की शिक्षा में छूट प्रदान की जाती है जो विद्यार्थियों के लिए बहुत ही सहायता प्रद रहती है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

विक्रमादित्य निशुल्क शिक्षा योजना की शुरुआत–

विक्रमादित्य निशुल्क शिक्षा योजना की शुरुआत मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा आर्थिक स्थिति से कमजोर परिवारों के लिए शुरू की गई थी जो शिक्षा के खर्चों को कम करती है ।
विक्रमादित्य निशुल्क शिक्षा योजना की शुरुआत करने के पीछे सरकार का सबसे बड़ा उद्देश्य यह है कि गरीब परिवार के अंतर्गत आने वाले सभी विद्यार्थी निशुल्क तरीके से शिक्षा प्राप्त कर पाए और कक्षा 12वीं के बाद शिक्षा बहुत महंगी हो जाती है जिसका खर्चा उठा पाना गरीब परिवारों के लिए बहुत ही मुश्किल हो जाता है।

मुख्यमंत्री विक्रमादित्य निशुल्क शिक्षा योजना के आवेदन के लिए विद्यार्थी की पात्रता–

विक्रमादित्य निशुल्क शिक्षा योजना के लिए आवेदन करना विद्यार्थियों के लिए बहुत ही आसान है लेकिन आवेदन करने से पहले इस योजना के कुछ शर्तें लागू होते हैं जिनके आधार पर ही आवेदन किया जाता है।

  1. विद्यार्थी का मूल निवासी होना चाहिए अर्थात निवास प्रमाण पत्र के बाद ही आवेदन करने के लिए उचित समझा जाएगा ।
  2. आवेदन करने वाले विद्यार्थी के परिवार की वार्षिक आय 54 हजार से अधिक नहीं होना चाहिए अगर वार्षिक आय 54000 से अधिक होगी तो ऐसा विद्यार्थी इस योजना के लिए आवेदन नहीं कर पाएगा ।
  3. इस योजना का आवेदन करने के लिए वही विद्यार्थी पात्र माने जाते हैं जिनके पास बीपीएल कार्ड होता है अर्थात जो विद्यार्थी गरीबी रेखा के नीचे होते हैं।
  4. जो छात्र-छात्राएं कक्षा 12वीं में 60% से अधिक अंक एमपी बोर्ड के माध्यम से हासिल करते हैं केवल उन्हीं को इस योजना का लाभ दिया जाना सुनिश्चित किया गया है और यही सरकार की शर्त है।

आवेदन करने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट–

विक्रमादित्य निशुल्क शिक्षा योजना के लिए आवेदन करने वाले विद्यार्थी के पास बीपीएल कार्ड सबसे पहले होना चाहिए अगर विद्यार्थियों के पास बीपीएल कार्ड नहीं होगा तो इस योजना के लिए आवेदन नहीं किया जा सकता। इसके बाद स्थाई निवास प्रमाण पत्र और आय प्रमाण पत्र होना बहुत जरूरी है क्योंकि अगर विद्यार्थी के परिवार की वार्षिक आय 54 हजार से अधिक पाई जाती है तो उसका आवेदन नहीं हो सकता। आधार कार्ड और समग्र आईडी के साथ पासपोर्ट साइज फोटो कैसे योजना के आवेदन के लिए निर्धारित की गई है।

ये खबरें भी पढ़िए-

Join telegram

Leave a Comment