WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

दंदरौआ धाम कहां है?, दंदरौआ धाम बागेश्वर धाम में क्या समानता है ?

दंदरौआ धाम मध्य प्रदेश के भिंड जिले के अंतर्गत आता है और भिंड जिले के पड़ोसी जिले ग्वालियर से लगभग 50 किलोमीटर की दूरी पर पड़ता है लेकिन यह भिंड से और कम दूरी पर पड़ता है लगभग 30 किलोमीटर के आसपास । दंदरौआ धाम जाने के लिए ग्वालियर और भिंड जिला दोनों ही उपयुक्त है क्योंकि आवागमन की सुविधा दोनों जगह से बेहतर है। आज के आर्टिकल में हम जानेंगे कि दंदरौआ धाम जाने के लिए कौन सा मार्ग बेहतर है और बागेश्वर धाम से दंदरौआ धाम कितना अलग है?

स्थानजिलादूरी भिंड से (किलोमीटर)दूरी ग्वालियर से (किलोमीटर)
दंदरौआ धामभिंडलगभग 30लगभग 50

दंदरौआ धाम की स्थिति–

भिंड जिले के अंतर्गत आने वाला दंद्रगुआ धाम धार्मिक तीर्थ स्थल है जो वर्तमान समय में लाखों लोगों की आस्था का केंद्र बन चुका है जहां पर प्रति सप्ताह लाखों की संख्या में लोग डॉक्टर हनुमान के रूप में और सखी के रूप में बालाजी श्री हनुमान जी महाराज के दर्शन करने के लिए आते हैं। इनको डॉक्टर हनुमान इसीलिए बोला जाता है क्योंकि यहां पर लाखों लोग आते हैं जो अपनी किसी ने किसी समस्या लेकर बालाजी श्री हनुमान जी महाराज की परिक्रमा लगाते हैं और उनको यहां पर अपने दुखों से छुटकारा मिलता है और काम में सफलता मिलती है। इसीलिए इनका डॉक्टर हनुमान भी कहा जाता है ।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

दंदरौआ धाम और बागेश्वर धाम में क्या समानता है?

दंदरौआ धाम और बागेश्वर धाम में बहुत ही बड़ी समानता है लेकिन दोनों में एक सबसे बड़ी बड़ा समानता यह है कि यहां पर बड़ी आसानी से कैंसर ठीक होता है और बागेश्वर धाम में बड़ी आसानी से पप्रेत बढ़ाओ को दूर किया जाता है । बागेश्वर धाम में धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री जी के द्वारा दिव्या दरबार लगाया जाता है जिसके माध्यम से यह पता किया जाता है कि आपका सवाल क्या होंगे और आपको कौन सी बीमारी है। दूसरा दंदरौआ धाम में कोई पर्चा नहीं बनाया जाता यहां पर केवल एक पुजारी के द्वारा भभूति दी जाती है दो हनुमान की परिक्रमा यात्री को स्वयं करनी पड़ती है और परिक्रमा लगाने के बाद इन

दंदरौआ धाम की कथा–

दंदरौआ धाम एक छोटा सा तीर्थ स्थल है जिस तरह से बागेश्वर धाम हैं मगर बागेश्वर धाम में दंदरौआ धाम से कहीं ज्यादा लोग दर्शन करने के लिए आते हैं लेकिन दंदरौआ धाम में भी कम लोग नहीं आते वहां भी लाखों की संख्या में लोग डॉक्टर हनुमान के दर्शन करने के लिए जाते हैं। दंदरौआ धाम में कैंसर जैसी समस्या को दूर करने के लिए दावा किया जाता है मगर कई बार लोगों को अंधविश्वास से बचना चाहिए और बिना सोचे समझे कोई भी कदम नहीं उठाना चाहिए । हर बार कोई भी चीज चमत्कार नहीं हो सकती कई बार लोगों को भूल हो जाती।

धामप्रकारलोगों की संख्यामुख्य देवता
दंदरौआ धामतीर्थ स्थलकमडॉक्टर हनुमान
बागेश्वर धामतीर्थ स्थलज्यादाबालाजी सरकार
Join telegram

Leave a Comment