WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

युवा स्वाभिमान योजना के अंतर्गत युवाओं को 100 दिन का रोजगार दे रही मोहन यादव सरकार

मध्य प्रदेश युवा स्वाभिमान योजना के तहत प्रदेश के जितने भी नगरीय निकाय हैं वहां पर 21 से 30 वर्ष के युवाओं को जो बेरोजगार है उनका रोजगार देने का प्रयास किया जाता है। साथ ही इस योजना के अंतर्गत पूरे 1 वर्ष में 90 दिन का रोजगार अथवा 100 दिन का रोजगार उपलब्ध करवाना सबसे बड़ी जिम्मेदारी है । इस रोजगार के अंतर्गत युवाओं को इस क्षेत्र में कौशल और प्रशिक्षण देना जिस क्षेत्र में उनकी रुचि है। इस तरह से इस योजना का उद्देश्य है कि आगे चलकर युवा कौशल और प्रशिक्षण में मजबूत हो जाएंगे तो स्थाई रोजगार प्राप्त कर पाएंगे। आज के आर्टिकल में हम समझेंगे की मध्य प्रदेश युवा स्वाभिमान योजना के अंतर्गत युवाओं को क्या-क्या लाभ प्रदान किया जाता है।

एमपी युवा स्वाभिमान योजना की शुरुआत–

बीते काफी समय से अर्थात लगभग 2015 से पूरे प्रदेश में बेरोजगारी बहुत ही तेजी से बढ़ी है ऐसे में स्वयं मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा 2019 के समय मध्य प्रदेश युवा स्वाभिमान योजना की शुरुआत की थी। माननीय मुख्यमंत्री जी ने इस योजना के लिए सबसे पहला उद्देश्य यह रखा की एमपी के जितने भी युवा हैं जो अपनी कुशलता और काबिलियत पर आगे बढ़ते हैं उनको कौशल और प्रशिक्षण मिलना चाहिए इसके साथ ही उनका रोजगार दिया जाना चाहिए ताकि वह आगे चलकर परमानेंट रोजगार प्राप्त कर सके ।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

कितने दिन मिलेगा इस योजना के तहत रोजगार–

मध्य प्रदेश युवा स्वाभिमान योजना के तहत 365 दिन में से 100 दिन रोजगार मिलना तय किया गया है और यह रोजगार निश्चित रूप से अनिवार्य किया गया है अर्थात एमपी के युवाओं के लिए शोध का रोजगार दिया जाना हर सरकार का कर्तव्य रहेगा ।

इस योजना के तहत मध्य प्रदेश सरकार के द्वारा युवाओं की स्किल के आधार पर उन्हें प्रशिक्षण दिया जाना सुनिश्चित किया गया है और उसके अनुसार ही आगे जाकर रोजगार दिया जा सकता है अथवा उनका प्राप्त हो सकता है इसके बारे में ज्यादा अच्छा किया गया है। 100 दिन का रोजगार मिलने के पीछे सबसे बड़ा कारण यह है कि इन 100 दिनों में ट्रेनिंग भी दे दी जाती है कि किस क्षेत्र में कौन सा काम करना है और ट्रेनिंग इस क्षेत्र में दी जाती है जिस क्षेत्र में उम्मीदवार की सबसे ज्यादा रुचि हो।

युवा स्वाभिमान योजना के लिए आवश्यक पात्रता–

इस योजना का लाभ लेने के लिए एमपी के युवा की उम्र 21 वर्ष से लेकर 30 वर्ष के अंतर्गत होना चाहिए।

मध्य प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए अगर आवेदक एमपी का मूल निवासी नहीं होगा तो इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा।

एमपी युवा स्वाभिमान योजना के लिए डॉक्यूमेंट–

  1. आधार कार्ड
  2. स्थाई निवास प्रमाण पत्र
  3. आय प्रमाण पत्र
  4. पासपोर्ट साइज फोटो
  5. मोबाइल नंबर
  6. बैंक पासबुक
  7. समग्र आईडी
Join telegram

Leave a Comment