हेयर ट्रांसप्लांट की सम्पूर्ण जानकारी , लाभ हानि सावधानी

Table of Contents

बालों के लिए सबसे अच्छा डॉक्टर

बालों को झड़ने से बचाने के लिए आपको बहुत सारे डॉक्टर अलग-अलग शहरों में देखने को मिलते हैं। परंतु बहुत सारे डॉक्टर इसका इलाज नहीं कर पाते हैं। क्योंकि एक बार बाल झड़ने के बाद बहुत ही मुश्किलों के बाद दोबारा बाल उगने शुरू होते हैं। इसे आप बीमारी भी समझ सकते हैं। बहुत से लोगों के कम उम्र में ही बाल झड़ने शुरू हो जाते हैं। जो किसी बीमारी से कम नहीं है ।
रिचा पाठक ने बालों की एक बहुत ही अच्छी दवाई खोज निकाली है। जिसको निरंतर लगाने से आपके बालों में वृद्धि होती है। रिचा पाठक ने बताया कि दवाई से ज्यादा उसके इस्तेमाल और बचाव को ध्यान में रखना होगा। तभी आप अपने बालों को एक बार पुनः प्राप्त कर पाएंगे।अगर आपने ठीक तरह से दवाई का इस्तेमाल किया है, तब आपके बालों को आने में आसानी होगी, और आपके बाल आ जाएंगे। इसके अलावा बहुत से डाक्टर बालों का इलाज करते हैं, बालों के इलाज में अगर आपने ठीक तरह से परहेज कर लिया तो, आपके बाल निश्चित ही आ जाएंगे।लेकिन आपके जितने बाल पहले थे, उतने बाल आना असंभव है। कभी भी पूरे के पूरे बाल वापस नहीं आते हैं। वर्तमान समय में बहुत अधिक संख्या में कम उम्र में ही लोगों के बाल झड़ चुके हैं। इसे आप एक तरह से बीमारी भी समझ सकते हैं। हमारे शरीर में बहुत सारी कमी के कारण यह सभी लक्षण दिखाई पड़ते हैं। और लोग उम्र से पहले ही गंजे दिखाई देने लगते हैं।
आप सभी को अपने-अपने शहरों में बालों के इलाज के लिए बहुत सारे डॉक्टर मिल जाएंगे।आप उनकी सहायता से अपने बालों को एक बार फिर से प्राप्त कर सकते हैं। डॉक्टर की सलाह लें और अपने गंजेपन को आसानी से दूर करें।

बालों के डॉक्टर को क्या कहते हैं?

आप सभी को लगभग यह तो ज्ञात होगा  कि इस संसार में बीमारियों का भंडार लगा हुआ है। अब बात आती है कि इनका इलाज कौन करता है। इन सभी बीमारियों के लिए आपको एक कॉमन नाम दिया गया है, जिसे अपनी आसान भाषा में डॉक्टर कहा जाता है।डॉक्टर एक ऐसा शब्द है जो एक समूह को दर्शाता है, ना कि किसी पर्टिकुलर एक चीज को दर्शाता है।आप सभी ने यह भी सुना होगा कि यह  टीवी का डॉक्टर है,तो यह सर्दी ,खांसी, जुखाम का डॉक्टर है।और यह  त्वचा का डॉक्टर है, आंखों का डॉक्टर है और यह बालों का डॉक्टर है। इस तरह से अलग-अलग बीमारी के लिए अलग-अलग डॉक्टर का नाम दिया गया होता है।उसी तरह बालों के डॉक्टर को भी एक अलग नाम दिया गया है ।

बालों के डॉक्टर को विज्ञान की भाषा में डर्मटॉलजिस्ट कहते हैं। डर्मटॉलजिस्ट बालों के डॉक्टर को कहा जाता है।इन डॉक्टरों का काम बालों की देखरेख , किस तरह से बालों को वापस लाना है, इन्हीं सब चीजों को देखते हैं। इसके अलावा भी बालों के डॉक्टर को  हेयर स्पेशलिस्ट भी कहते हैं। इसके अलावा ट्राइकोलॉजिस्ट भी आपको कहीं कहीं सुनने को मिल जाएगा।

कौन से विटामिन की कमी से बाल झड़ते हैं ?

हमारे शरीर मैं कई प्रकार के विटामिन पाए जाते हैं। विटामिन की खोज FUNK के द्वारा की गई थी। हमारे शरीर में विटामिन की अधिकता और अल्पता के कारण कई तरह की बीमारियां सामने आती हैं। उन्हीं में से  एक बहुत ही जटिल समस्या है बालों का झड़ना।
  बालों का झड़ना हमारे शरीर में पाए जाने वाले विटामिनों पर भी निर्भर करता है।कि किस विटामिन की कमी से बाल झड़ने प्रारंभ हो गए हैं। इसके लिए मैं आपको बता देता हूं कि विटामिन डी की कमी हो जाने के कारण लोगों के  बाल झड़ने शुरू हो जाते हैं। विटामिन डी की मात्रा पूरी ना मिलने के कारण लोगों के बाल झड़ जाते हैं। और वह गंजेपन का शिकार हो जाते हैं। इसके अलावा विटामिन ई,विटामिन ए, विटामिन सी इन सभी की कमी के कारण भी बालों का झड़ना शुरू रहता है। अगर आपने विटामिनों में कमी कर दी है, तो आपके बाल झड़ने बंद नहीं होंगे आपको विटामिन डी की पर्याप्त मात्रा में सेवन करना चाहिए ताकि आप गंजेपन से बच सके। उम्र से पहले ही आप बूढ़े ना दिखाई दे इसके लिए आपको निरंतर विटामिनों का सेवन पूर्णता करते रहना चाहिए।

क्या बाल दोबारा उग सकते हैं?

जी हां बिल्कुल यह बात 100% प्रतिशत सही है कि आप बालों को दोबारा से उगा सकते हैं। उगाने से तात्पर्य कि आप अपने झड़े हुए बालों को एक बार फिर से प्राप्त कर सकते हैं। और अपने गंजेपन को दूर कर सकते हैं।
अगर आप भी अपने झड़े हुए बाल पुनः प्राप्त करना चाहते हैं।तो  इसके लिए आपको डॉक्टर की सलाह लेनी होगी और डॉक्टर के द्वारा जो भी ट्रीटमेंट दिया जाता है। उसको आपको जितने समय के लिए बोला गया है।उतने समय तक निरंतर करते रहना ही आपके झड़े हुए बालों को वापस ला सकता है। अगर आप डॉक्टर की सलाह मान लेते हैं, तब आपके बाल आसानी से आ जाएंगे। क्योंकि बालों का झड़ना कोई बड़ी बात नहीं है,लगभग सभी लोगों के बाल झड़ते हैं, परंतु किसी के ज्यादा झड़ जाते हैं जिसके कारण उन्हें देखने में अच्छा नहीं लगता।ऐसे लोगों को डॉक्टर की सलाह से ही ट्रीटमेंट लेना चाहिए। ताकि आपको बिना किसी नुकसान के हीं बालों को वापस लाया जा सके।

बालों को झड़ने से रोकने के लिए कौन सी औषधि उपयोगी है?

बालों को झड़ने से रोकने के लिए ऐसे तो बहुत सारे उपाय बताए गए हैं। परंतु उनमें से कुछ मे हीं सफलता प्राप्त हुई है। तो मैं उन्हीं फार्मूला को आपके सामने रख रहा हूं।ताकि मेरे द्वारा बताई गई हर चीज का इस्तेमाल करके आप झड़े हुए बालों को वापस आने में मदद और उन्हें उससे ज्यादा ना झड़े इससे बचा जा सकता है। वैसे दो बालों की समस्या हर किसी को है इसके लिए कोई खास औषधि नहीं है।जो पुनः वालों को ला सकें यह जरूर हो सकता है कि झड़ते हुए बालों को रोका जा सकता है।

1. आंवला में विटामिन सी  भरपूर मात्रा में पाई जाती है आंवला बालों को झड़ने से रोकने के लिए बहुत अधिक कारगर साबित हुआ है।आंवले का इस्तेमाल करके आप अपने झड़ते हुए बालों को रोक सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले आपको आंवला को इकट्ठा करके उनसे रस निकालना फिर उस रस को अपने बालों में जड़ों तक अच्छे से मालिश करना। और कुछ समय तक लगा रहने देना फिर आप बालों को अच्छी तरह धो ले  इस तरह करने से आपके झड़ते हुए बालों की समस्या दूर हो जाएगी।
2. इसी तरह प्याज के रस को भी लगाते रहने से झड़ते हुए बालों को रोका जा सकता है।और प्याज का इस्तेमाल आपको निरंतर करते रहना होगा 1 हफ्ते में तीन बार प्याज के रस का उपयोग करने से भी काफी हद तक झड़ते हुए बालों को गिरने से रोका जा सकता है।
3. आंवला , रीठा और शिकाकाई इन तीनों के मिश्रण को लगाने से भी झड़ते हुए बालों को रोका जा सकता है।

परंतु इनका इस्तेमाल ठीक तरह से करना होगा तभी आप इसमें सफल हो पाएंगे। इनका उपयोग करने के बाद आपको अपने बालों पर विशेष ध्यान देना होगा धूल, धुएं से बचना होगा। बाहर जाते समय आपको अपने बालों को ठीक तरह से ढकना होगा, तभी आप अपने बालों को झड़ने से रोक सकते हैं।

बाल उगाने की दवा कौन सी है?

लोगों की बहुत इच्छा होती है,कि हमारे भी घने बाल हो हम भी हैंडसम दिखें।क्योंकि बालों से ही मनुष्य का चेहरा अच्छा नजर आता है।अगर सिर पर बाल नहीं होते हैं तब व्यक्ति देखने में थोड़ा सा कम कॉन्फिडेंस नजर आता है। जिस व्यक्ति के बाल नहीं होते हैं, वे अंदर से ही अपने आप को अलग सा महसूस करने लगते है।
लंदन के शोधकर्ताओं ने इसके लिए एक दवाई को खोज निकाला है जो बालों की जड़ों को मजबूत करके झड़ने से रोकता है।और नए बाल उगाने में भी बहुत अधिक लाभकारी है।
बालों को उगाने वाली दवाई 316606 है। इसके इस्तेमाल से बालों को दोबारा से उगाया जा सकता है।यह प्रोडक्ट आपको महंगा पड़ सकता है, परंतु इससे आपकी समस्या का समाधान भी हो सकता है। इस दवाई को आप बिना डॉक्टर की सलाह के कभी भी इस्तेमाल ना करें। क्योंकि अलग-अलग लोगों को अलग-अलग दवाइयों की  आवश्कता होती है।
इसके अलावा बालों को उगाने में मदद करने के लिए कुछ और दवाइयां भी हैं। जिनके मैं आपको नाम बता देता हूं।
मिनोक्सीडिल और फिनास्टेराइड यह दोनों दवाइयां बालों को आने में मदद करती हैं। परंतु अब बात आती है कि यह दवाइयां सभी लोग इस्तेमाल करके अपने बालों को वापस ला सकते हैं।
तो मैं बता दूं कि इन  दवाइयों के सही इफेक्ट के साथ साइड इफेक्ट भी होते हैं। किसी किसी को यह दवाइयां वरदान साबित होती हैं। तो किसी किसी को यह दवाइयां अभिषाप बन जाती हैं। आपको इन दवाइयों का इस्तेमाल बिना डॉक्टर की सहायता से नहीं करना है।क्योंकि आपको इससे नुकसान भी हो सकते है।

हेयर ट्रांसप्लांट की सम्पूर्ण जानकारी , लाभ हानि सावधानी

क्या खाने से बाल घने होते हैं ?

बालों को घना करने के लिए आपको कई सारे उपाय मिल जायेगे।तो मैं आपको कुछ फॉर्मूलो को बता देना चाहता हूं ताकि आप अपने बालों को आसानी से घना रख सकते हैं।

1. अंडे का इस्तेमाल बालों को घना करने में बहुत अधिक उपयोगी है। अंडे में बहुत अधिक मात्रा में प्रोटीन की मात्रा पाई जाती है। जो बालों को घना करने में और चमक प्राप्त करने में बहुत अधिक आवश्यक है।
आपको दो अंडो को अच्छे से मिक्स करके बालों पर लगाना फिर उसे कुछ समय के लिए सूखने देना है। फिर गर्म पानी के साथ बालों को धो लेना है।उसके बाद आप शैंपू से बालों को धो सकते हैं।
2. मेथी के तेल का उपयोग भी आप बालों को घना करने के लिए उपयोग में ला सकते हैं। इसके अलावा मेथी का एक अलग उपाय भी है। सबसे पहले आपको मैथी को 10 से 12 घंटों के लिए भिगोकर रखना है। फिर उसे ठीक तरह से पीस लेना है, इसको लगाने से भी बाल घने होते हैं।
3. आंवला का भी इसी तरह उपयोग करने से बाल घने किए जा सकते हैं।
4. अरंडी के तेल का इस्तेमाल भी बालों को घना करने के लिए उपयोग में ला सकते हैं। परंतु अरंडी का तेल बहुत ही कम मात्रा में मिल पाता है।
5. एलोवेरा जेल को भी बालों को घना करने में इस्तेमाल किया जाता है।
6. अंतिम और सबसे उपयोगी आपको अगर बालों को घना करना है,तो सबसे पहले स्वस्थ आहार बहुत उपयोगी है। स्वस्थ आहार लेने से आपके बाल घने हो जाएंगे।

नए बाल उगाने के लिए कौन सा तेल लगाना चाहिए ?

नए बाल उगाने के लिए आपको ज्यादा कुछ करने की आवश्यकता नहीं है उसके लिए आपको किसी एक प्रोडक्ट को चलाना है। उसी के निरंतर इस्तेमाल से आपके नए बाल आने शुरू हो जाएंगे। और आप फिर घने बाल प्राप्त कर पाएंगे। घने बालों के लिए नए बाल उगने बहुत जरूरी है। इसके लिए आपको कैस्टर ऑयल का इस्तेमाल करना चाहिए।कैस्टर ऑयल को अपनी आसान भाषा में अरंडी का तेल ही कहा जाता है। यह सबसे अधिक फायदेमंद साबित होता है अरंडी का तेल सिर में लगाने से नए बाल उगने बहुत जल्दी शुरू हो जाते हैं। इसके अलावा भी बहुत सारे तेल आते हैं जिनका  उपयोग करके आप नए बालों को ला सकते हैं। जैसे कि नारियल का तेल, पुदीना का तेल, आंवला का तेल, मेथी का तेल इत्यादि इन तीनों का इस्तेमाल करने से भी आपके नए बाल आने आरंभ हो जाएंगे। इनके ना तो कोई साइड इफेक्ट है सिर्फ आपको किसी एक प्रोडक्ट को ही चुनना है और उसी को लंबे समय तक इस्तेमाल करना है। तभी आप नए बालों को उगा पाएंगे।

हेयर ट्रांसप्लांटेशन हुआ जानलेवा ?

बालों की जड़ों को एक जगह से उखाड़ कर दूसरी जगह लगाना हेयर प्लांटेशन कहलाता है। जहां पर घने बाल होते हैं वहां से बाल निकाल कर जहां पर नहीं होते हैं वहां पर लगाना ही हेयर  प्लांटेशन कहलाता है। लोगों के लिए यह बहुत आसान भी है और बहुत कठिनाई भरा भी, क्योंकि इसमें मौत का खतरा भी रहता है। प्लांटेशन में आपको 10 से 12 घंटे तक बेहोशी की हालत में रखा जाता है। डॉक्टरों के द्वारा इसका कार्य बड़ी ही सावधानी से किया जाता है, परंतु हेयर प्लांटेशन से कई तरह के इंफेक्शन फैलने का खतरा बना रहता है।विशेषज्ञों का कहना है कि हेयर प्लांटेशन बहुत ही आसान है परंतु किसी किसी को यह नुकसान भी कर जाता है।जिसके चलते इंसान की मृत्यु भी हो जाती है। इसके ट्रीटमेंट में काफी समय लगता है 6 से 7 दिनों तक आपको इसके लिए रुकना पड़ता है। जिसके चलते मौत का खतरा बना रहता है। हेयर प्लांटेशन कई लोगों के लिए अच्छा साबित हुआ है, तो कईयों की जिंदगी ले चुका है।

सबसे सस्ता हेयर ट्रांसप्लांट

हेयर ट्रांसप्लांट का क्रेज बहुत ज्यादा बढ़ गया है। बहुत सस्ता हो जाने के कारण अब लोगों के लिए हेयर ट्रांसप्लांट आम बात हो गई है। पहले हेयर ट्रांसप्लांट करना बहुत ही मुश्किल और महंगा था। आज के समय में लोगों के द्वारा आए दिन ही  हेयर ट्रांसप्लांट करवाए जा रहे हैं। भारत में हेयर ट्रांसप्लांट ₹3500 से प्रारंभ हुआ है।यह सबसे सस्ता हेयर ट्रांसप्लांट है। 3500रुपए में हेयर ट्रांसप्लांट आसानी से किया जाता है।जो भी हेयर ट्रांसप्लांट करवाना चाहता है वह ₹3500 में अपना हेयर ट्रांसप्लांट करवा सकता है। परंतु इसके लिए आपको बहुत समय तक इंतजार करना पड़ेगा। क्योंकि दिन प्रतिदिन केसों की संख्या बढ़ती रहती है। और डॉक्टर नहीं मिल पाते हैं, बिना अपॉयमेंट लिए आप  हेयर ट्रांसप्लांट नहीं करवा पाएंगे।क्योंकि इसमें बहुत ही सावधानी से हेयर ट्रांसप्लांट किया जाता है।बिना लापरवाही के हेयर ट्रांसप्लांट होता है, अगर इसमें थोड़ी सी भी लापरवाही हो जाती है, तब आपको बहुत सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

हेयर ट्रांसप्लांट 2022

अगर आप 2022 में हेयर ट्रांसप्लांट कराने की सोच रहे हैं तब आप इसे जरूर पढ़ें। क्योंकि इसमें आपको सभी जानकारी सटीक मिल जाएगी।
हेयर ट्रांसप्लांट आपके गंजेपन को देखते हुए ही बताया जा सकता है। कि आपका हेयर ट्रांसप्लांट कितने रुपए में किया जाएगा ।अलग-अलग लोगों का अलग अलग तरीके से गंजापन होना। इसके लिए आपको डॉक्टरों की सलाह से भी अपने खर्चे का सही अनुमान हो पाएगा। कि मेरे  हेयर ट्रांसप्लांट में कितना खर्च आएगा। बाकी मैं आपको एक मोटे तौर पर बता देता हूं,कि अगर आप के बाल काफी हद तक झड़ चुके हैं, तब आपको लगभग 70 हजार से लेकर 1.5 लाख रुपए तक खर्च करने होंगे। तब जाकर के आपका हेयर प्लांट सफलतापूर्वक हो पाएगा। एक बार हेयर ट्रांसप्लांट हो जाने के बाद आपको दोबारा हेयर ट्रांसप्लांट करवाने की आवश्यकता नहीं है।क्योंकि हेयर ट्रांसप्लांट में कभी भी बाल दोबारा नहीं झड़ते हैं। हेयर ट्रांसप्लांट आपके लिए बहुत ही अच्छा तरीका है,क्योंकि आप कितनी भी दवाइयां करवा लें, परंतु बाल वापस नहीं आते हैं।लेकिन एक बार बाल लग जाने के बाद वह कभी भी नहीं निकलते हैं।

हेयर ट्रांसप्लांट हेयर लाइफ

हेयर ट्रांसप्लांट हो जाने के बाद 7 से 10 दिनों के बाद बाल उगने प्रारंभ हो जाते हैं। इसके बाद आपके बाल निरंतर बढ़ते रहते हैं।आम लोगों की तरह आपके बाल भी समान रहते हैं। आप अपने बालों को कटवा भी सकते हैं।जैसे सभी लोगों के बाल होते हैं वैसे ही आपके बाल ट्रांसप्लांट हो जाने के बाद हो जाते हैं।इनको पूरी तरह बढ़ने के लिए कम से कम 1 वर्ष का समय लग जाता है।उसके बाद ही आपके बाल ठीक तरह से आ पाते हैं। जो कभी भी नहीं निकल सकते हैं फिर आप भी आम लोगों की तरह हेयर लाइफ  इंजॉय कर सकते हैं।

इस पोस्ट में मेरे द्वारा बालों से संबंधित लगभग सभी टॉपिक को कवर किया गया है। अगर आपने एक बार इस पोस्ट को पूरी तरह से पढ़ लिया।तो फिर आपको कहीं और जगह पर भटकने की आवश्यकता नहीं है।जो भी आपके मित्र,दोस्त,फैमिली वाले गंजेपन का शिकार हैं , बालों के झड़ने की समस्या को लेकर परेशान हैं, तो उन्हें इस पोस्ट को पढ़ने के लिए कहें। ताकि उन्हें सही जानकारी मिल सके। और वह भी अपना इलाज ठीक तरह से करवा सके। धन्यवाद

Website Home ( वेबसाइट की सभी पोस्ट ) – Click Here
———————————————————-
Telegram Channel Link – Click Here

हेयर ट्रांसप्लांट कितना सफल है?

दोस्तों हेयर ट्रांसप्लांट वर्तमान समय में बहुत ही सफल हो रहा है क्योंकि एक से एक सुविधाजनक तकनीक हेयर ट्रांसप्लांट में प्रयोग में लाई जाती है। हेयर ट्रांसप्लांट करना इतना आसान नहीं होता जितना अन्य किसी शरीर के भाग का ऑपरेशन करना या इलाज करना होता है हेयर ट्रांसप्लांट सर में होने के कारण यह प्रक्रिया बहुत ही जटिल होती है इसमें बहुत अधिक मात्रा में ध्यान देना होता है और एक अनुभवी डॉक्टर की जरूरत होती है। हेयर ट्रांसप्लांट करवाने के लिए अधिक मात्रा में धन की भी आवश्यकता होती है और शारीरिक रूप से पूर्ण तरीके से जांच करवाने के बाद यदि शारीरिक रूप से आप स्वस्थ हैं तो ही आपको हेयर ट्रांसप्लांट करवाना चाहिए । हेयर ट्रांसप्लांट वर्तमान में बहुत सी ऐसी हस्तियां करवा रही हैं जो अपने आप में सुपरस्टार हैं दुनिया में जिनके चर्चे ही चर्चे हैं। बॉलीवुड में एक से एक महान सुपरस्टार खुद को यंग दिखने के लिए सर में बाल ना होने के कारण हेयर ट्रांसप्लांट करवा रहे हैं। भारत के अलावा दुनिया के अन्य देशों में भी बहुत से ऐसे लोग हैं जो हेयर ट्रांसप्लांट को बहुत ही प्राथमिकता देते हैं और हेयर ट्रांसप्लांट करवाते हैं।

हेयर ट्रांसप्लांट करवाने के बाद एक NRI ने खोई आंख-

दोस्तों हेयर ट्रांसप्लांट करवाना इतना आसान भी नहीं होता और ना ही यह प्रक्रिया सरल होती है इस प्रक्रिया में कोई भी व्यक्ति अपनी जान भी गंवा सकता है यदि कोई सावधानी ना रखी तो। पहली प्रक्रिया में ध्यान रखना है जो भी व्यक्ति हेयर ट्रांसप्लांट करवाना चाहता है शारीरिक रूप से वह स्वस्थ होना चाहिए और किसी भी प्रकार की बीमारी से ग्रसित नहीं होना चाहिए यदि पहले बीमारी का पता नहीं लगाया और हेयर ट्रांसप्लांट करवा लिया तो हो सकता है आपको ब्लीडिंग हो जाए जिसमें मुख्य रुप से कान से नाक से शरीर के अन्य भाग से भी ब्लीडिंग हो सकती हैं। हेयर ट्रांसप्लांट करवाने के बाद कई व्यक्तियों के सर में सूजन आ जाती है और आंखों को भी बहुत जोर पड़ता है एक एन आर आई ने हेयर ट्रांसप्लांट करवाने के बाद सावधानी नहीं रखी जिस कारण से उसके सर में सूजन आ गई और उसकी आंख पूरी तरीके से खराब हो गई। दोस्तों सिर हमारे शरीर का वह भाग है जहां से पूरे शरीर का कंट्रोल होता है। दोस्तों हेयर ट्रांसप्लांट करवाने से कोई भी व्यक्ति किसी भी समस्या से ग्रसित हो सकता है इसीलिए हमेशा सावधानी रखें मुख्य रूप से हमारे शरीर का प्रमुख अंग आंख कभी-कभी नुकसान का पात्र बन जाती है जिसके लिए आपको हमेशा पछताना पड़ता है।

हेयर ट्रांसप्लांट करवाने वाले अभिनेता-

दोस्तों बॉलीवुड की सुपरस्टार जो खुद को बूढ़े होने के बाद भी पर्दे पर जवान देखने के लिए हेयर ट्रांसप्लांट जैसी समस्या से गुजर जाते हैं। बॉलीवुड के सुपरस्टार हेयर ट्रांसप्लांट करवा के पर्दे पर एकदम जवान नजर आते हैं। बॉलीवुड के सुपरस्टार में मुख्य रूप से अमिताभ बच्चन और कपिल शर्मा और सलमान खान के साथ साथ 10 से भी अधिक सुपर स्टारों ने हेयर ट्रांसप्लांट करवाया है । दोस्तों जहां एक तरफ सेलिब्रिटी हेयर ट्रांसप्लांट करवाते हैं और इनकी हेयर ट्रांसप्लांट को देखकर आम पब्लिक भी हेयर ट्रांसप्लांट को बहुत हल्के में ले लेती है जबकि हेयर ट्रांसप्लांट इतना आसान नहीं होता इसमें खर्चा तो ज्यादा आता ही है साथ ही बाल आएंगे या नहीं इस पर भी कोई पूर्ण विश्वास नहीं होता। दोस्तो अभीनेताओं ने हेयर ट्रांसप्लांट करवा के दोबारा अपने बालों को फिर से वैसा ही प्राप्त कर लिया।

हेयर ट्रांसप्लांट के लिए आदर्श उम्मीदवार कौन है?

दोस्तों हेयर ट्रांसप्लांट के लिए एक आदर्श उम्मीदवार वही होता है जिसके सर से बाल निकल गए हैं लेकिन उसकी उम्र 30 साल से ऊपर होना चाहिए यदि 30 साल से कम उम्र के किसी व्यक्ति को गंजापन हुआ है और वह गंजेपन से छुटकारा पाने के लिए हेयर ट्रांसप्लांट करवाना चाहता है तो उसे एक बार डॉक्टर से सलाह तो लेना ही चाहिए साथ ही जहां तक मेरी मानो तो आपको हेयर ट्रांसप्लांट नहीं करवाना चाहिए अर्थात हेयर ट्रांसप्लांट ऐसे व्यक्तियों को बिल्कुल भी नहीं करवाना चाहिए जिनकी उम्र 30 साल से कम है। हेयर ट्रांसप्लांट ऐसे व्यक्तियों को करवाना चाहिए जिनकी उम्र 30 साल से ऊपर जा चुकी है और वह खुद को जवान देखना चाहते हैं तो ऐसे लोग हेयर ट्रांसप्लांट करवा सकते हैं लेकिन हेयर ट्रांसप्लांट करवाने से पहले शारीरिक रूप से जांच करवा लेना चाहिए कि आपको कोई बीमारी तो नहीं है। दोस्तों हेयर ट्रांसप्लांट से संबंधित जितनी भी सावधानियां है पूरी सावधानियों को ध्यान में रखना चाहिए यदि कोई एक गलती आप से हो जाती है तो आप उस गलती की सजा बहुत बड़ी मात्रा में भुगत सकते हैं जिसके लिए आपको केवल पछताना पड़ सकता है।

हेयर ट्रांसप्लांट के लिए कौन सा डॉक्टर चुने –

दोस्तों हेयर ट्रांसप्लांट करवाने से पहले आपको ज्ञात होना चाहिए कि किस तरीके के डॉक्टर से संपर्क करें और किस तरीके के डॉक्टर से इलाज करवाएं। दोस्तों गंजेपन से छुटकारा पाने के लिए लोग हेयर ट्रांसप्लांट करवाते हैं लेकिन यदि गलती से आपने किसी कम अनुभव वाले डॉक्टर से संपर्क किया तो आपको कोई हानि भी हो सकती है। दोस्तों यदि कोई हेयर ट्रांसप्लांट करवाना चाहता है तो उसके लिए स्पेशलिस्ट डॉक्टर को चुने जो हेयर ट्रांसप्लांट से संबंधित स्पेशलिस्ट हो । दोस्तों हेयर ट्रांसप्लांट में त्वचा संबंधी स्पेशलिस्ट डॉक्टर भी शामिल होते हैं इनसे भी आप संपर्क कर सकते हैं क्योंकि यह त्वचा से संबंधित इलाज होता है जिसमें मुख्य रुप से सिर में इलाज होता है।

हेयर ट्रांसप्लांट में सर्जरी की रिकवरी का समय-

दोस्तों जैसा कि मैंने आपको बताया कि हेयर ट्रांसप्लांट एक बहुत ही जटिल प्रक्रिया है एक छोटी सी गलती हो जाने के बाद आप जिंदगी से भी हाथ धो सकते हैं अथवा आप की जिंदगी खतरे में पड़ जाएगी। हेयर ट्रांसप्लांट में ग्राफ्टिंग की प्रक्रिया होती है मुख्य रूप से पहली सर्जरी में 1 हफ्ते के बाद 5 से 6 घंटे का समय लगता है जिसमें बालों को ट्रांसप्लांट किया जाता है। दोस्तों ग्राफ्टिंग की प्रक्रिया और बालों को ट्रांसप्लांट करने के लिए गंजेपन की एरिया पर निर्भर करता है की कितनी ग्राफ्टिंग करनी होगी। ग्राफ्टिंग के दौरान ट्रांसप्लांट करने वाले डॉक्टर जो एनेस्थीसिया का प्रयोग करते हैं एनेस्थीसिया के प्रयोग करने के अलावा भी कई उपकरण ऐसे होते हैं जो हेयर ट्रांसप्लांट में प्रयोग में लाए जाते हैं उनको उपयोग में लाने वाले स्पेशलिस्ट भी ग्राफ्टिंग के दौरान उपस्थित रहते हैं ।

हेयर ट्रांसप्लांट में सर्जरी के पहले क्या होता है?

दोस्तों हेयर ट्रांसप्लांट में सर्जरी के पहले सर्वप्रथम आपको शारीरिक रूप से जांच किया जाएगा कि आपको कोई बीमारी तो नहीं है। आप की बीमारी चेक करने के बाद आपको हेयर ट्रांसप्लांट के लिए तैयार किया जाएगा इसके बाद जब आपका हेयर ट्रांसप्लांट होगा तो हेयर ट्रांसप्लांट करने से पहले आपके सिर के बालों को शैंपू से धो लिया जाता है इसके बाद हेयर ट्रांसप्लांट की आसान विधियों के द्वारा हेयर ट्रांसप्लांट किया जाता है जिसमें मुख्य रुप से एनेस्थीसिया का भी प्रयोग किया जाता है । कई डॉक्टर सर्जन की FUT , विधि और FUE विधि के द्वारा हेयर ट्रांसप्लांट का सर्जन किया जाता है ।

हेयर ट्रांसप्लांट की सर्जरी के दौरान क्या होता है?

दोस्तों हेयर ट्रांसप्लांट की सर्जरी के दौरान जब किसी व्यक्ति का हेयर ट्रांसप्लांट किया जाता है तब उसको कुछ समय के लिए बेहोश भी कर दिया जाता है क्योंकि इस प्रक्रिया में बहुत समय लगता है और सर्जन के दौरान मरीज को दर्द भी बहुत तेजी से हो सकता है। हेयर ट्रांसप्लांट में बहुत सी ऐसी मशीनों को विकसित किया गया है कि जिन के प्रयोग के दौरान हेयर ट्रांसप्लांट में किसी भी प्रकार का दर्द नहीं होगा लेकिन कहीं ना कहीं यह दर्द जरूर होता है कि आखिर हेयर ट्रांसप्लांट के दौरान दर्द कितना होगा।

हेयर ट्रांसप्लांट में जोखिम-

दोस्तों जैसा कि मैंने आपको बताया हेयर ट्रांसप्लांट बहुत ही खतरनाक होता है इसमें बहुत ज्यादा सावधानी बरतनी पड़ती है यदि कोई व्यक्ति हेयर ट्रांसप्लांट के दौरान कोई सावधानी नहीं रखता है तो वह अपने प्रमुख अंग शरीर की आंखों को भी खो सकता है। कई बार हेयर ट्रांसप्लांट के बाद कई व्यक्तियों को सर में सूजन आने के कारण सर बहुत तेजी से फटना अथवा सर में बहुत तेजी से दर्द होना। हेयर ट्रांसप्लांट में सर्वप्रथम आपको पैसे का जोखिम उठाना पड़ता है क्योंकि इसका खर्च अन्य बीमारी के इलाज की तुलना में थोड़ा अधिक होता है इसका कम से कम इलाज ₹50000 से स्टार्टिंग है इसके बाद आप आगे जाते- जाते एक लाख ,दो लाख तक के इलाज करवा सकते हैं। गंजेपन को दूर करने के लिए हेयर ट्रांसप्लांट जैसा इलाज करवाने के लिए आपके बजट के ऊपर भी निर्भर करता है आपका जितना बजट होगा आप उसी हिसाब से हेयर ट्रांसप्लांट करवा सकते हैं।

हेयर ट्रांसप्लांट के रिजल्ट-

हेयर ट्रांसप्लांट के दौरान बहुत ही ऐसी समस्याएं होती हैं जिनके बिल्कुल करीब से होकर गुजरना पड़ता है जो हमारे शरीर के लिए बहुत ही घातक सिद्ध हो सकती हैं यहां तक कि हमारी कभी-कभी जान भी जा सकती है । हेयर ट्रांसप्लांट के बाद आप के सर में बाल तो उग आते हैं लेकिन रूप से कहा नहीं जा सकता कि आपके बाल उसी तरीके से उग आएंगे जिस तरीके से प्राकृतिक रूप से बाल निकलते हैं। हेयर ट्रांसप्लांट के बाद आपके बाल पुरे आ भी सकते हैं और नहीं भी आ सकते हैं इसकी केवल संभावना बताई जा सकती है।

हेयर ट्रांसप्लांट खर्च in Jaipur – Hair Transplant Cost In Jaipur

दोस्तों वैसे तो हेयर ट्रांसप्लांट पूरे भारत भर में चल रहा है लेकिन भारत के अन्य -अन्य शहरों में हेयर ट्रांसप्लांट की फीस अलग-अलग होती है ।ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हेयर ट्रांसप्लांट में बहुत ही प्रक्रिया शामिल होते हैं यदि आप उन्हीं  क्रियाओं में बहुत ही क्रियाओं को नहीं करवाते हैं तो आप का खर्च कम भी हो सकता है यदि आप पूरी सुविधाओं को उपयोग में लाना चाहते हैं तो आप का खर्च बढ़ भी सकता है। हेयर ट्रांसप्लांट के मामले में जयपुर हेयर ट्रांसप्लांट केंद्र बहुत ही चर्चित और मशहूर है क्योंकि यहां पर एक से एक बेहतरीन स्पेशलिस्ट डॉक्टर उपस्थित रहते हैं आप कभी भी अगर जयपुर जाएंगे और हेयर ट्रांसप्लांट करवाने के बारे में सोचेंगे तो आपको ज्यादा इंतजार नहीं अपना होता है यहां पर डॉक्टर हमेशा अवेलेबल रहते हैं। 

गंजापन क्यों होता है?

दोस्तों गंजापन होने के पीछे बहुत से ऐसे कारण है जिन से गंजापन होता है जिनमें मुख्य रुप से अनुवांशिक रूप से भी गंजापन होता है शरीर में पोषक तत्वों की कमी के कारण दुबलेपन के कारण भी कभी-कभी गंजापन होता है और शारीरिक रूप से मजबूत ना होने के कारण भी गंजापन जैसी बीमारियों का शिकार होना पड़ता है। कुछ लोगों का मानना है कि गंजापन ज्यादातर अधिक तनाव लेने के कारण भी हो जाता है। गंजापन के कुछ महत्वपूर्ण कारण इस प्रकार हैं-

1. आनुवांशिक कारण या बढ़ती उम्र-

दोस्तों कभी-कभी हमारे पारिवारिक रूप से यानी हमारे किसी परिवार में पहले किसी बुजुर्ग के बाल अगर झड़े होंगे और परिवार में कोई भी पुरुष यदि गंजेपन का शिकार हुआ होगा तो ज्यादातर संभावना है कि उसकी अगली पीढ़ी गंजेपन का शिकार हो सकती है। बढ़ती उम्र भी गंजेपन का कारण बनती है क्योंकि कभी-कभी और बढ़ती उम्र के साथ साथ तनाव भी बहुत ज्यादा हो जाता है और हमारे शरीर के बहुत से अंग काम करने के लिए थक जाते हैं वहीं दूसरी तरफ हमारे बाल भी कमजोर हो जाते हैं इसीलिए हमारे शरीर के साथ-साथ समय पर हमारे बाल भी बूढ़े हो जाते हैं और झड़ना शुरू हो जाते हैं।

2.  बीमारी के कारण

दोस्तों कभी कभी क्या होता है जब कोई व्यक्ति 20 -25 साल की उम्र के बाद कई प्रकार की ऐसी बीमारी होती हैं जिन से छुटकारा पाना बहुत ही मुश्किल होता है और एक लंबी बीमारी के शिकार हो जाते हैं परिणाम स्वरूप शारीरिक रूप से बहुत ही कमजोर हो जाते हैं जिस कारण से भी बाल झड़ने जैसी समस्या उत्पन्न हो जाती है।

3. विटामिन की कमी के कारण-

दोस्तों हमारे शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता को बढ़ाने के लिए विटामिन बहुत ही महत्वपूर्ण होते हैं साथ ही हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए और बहुत से अंगों के विकास के लिए विटामिन बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। अगर हम बालों की बात करें तो बालों के लिए विटामिन b3 बहुत ही महत्वपूर्ण होता है विटामिन b3 के कारण हमारे बाल मजबूत होते हैं और घने होते हैं यदि विटामिन b3 की कमी हो जाएगी तो हमारे बाल कमजोर हो जाएंगे और सफेद भी हो सकते हैं और पतले भी हो सकते हैं। हमारे शरीर में विटामिन b3 के अलावा विटामिन बी से संबंधित जितने भी विटामिन है यदि इनकी कमी हो जाएगी तो हमारे बाल सफेद हो जाएंगे और झाड़ भी सकते हैं अर्थात आप ऐसा कह सकते हैं कि विटामिन बी की कमी के कारण हमारे बाल कमजोर हो जाते हैं।

4. तनाव अथवा डिप्रेशन-

दोस्तों कभी-कभी क्या होता है कई समस्याएं ऐसी होती हैं जिन से छुटकारा हमें मिल ही नहीं पाता जिस कारण से हम तनाव मुक्त नहीं हो पाते हमारे शरीर में बहुत ही तनाव और डिप्रेशन जैसी समस्याएं पैदा हो जाती हैं और हम इन समस्याओं से बाहर नहीं जा पाते। दोस्तों यही तनाव हमारे शरीर के लिए बहुत ही घातक सिद्ध होता है जब हम अधिक मात्रा में डिप्रेशन की ओर चले जाते हैं तो हमारा शरीर संतुलन खो बैठता है और हमारे शरीर मैं कमजोरी आ जाती है वहीं दूसरी तरफ हमारे बाल कमजोर पड़ जाते हैं और हमारे बाल झड़ भी सकते हैं इस प्रकार हमें गंजेपन जैसी समस्या से भी जूझना पड़ता है।

Website Home ( वेबसाइट की सभी पोस्ट ) – Click Here
———————————————————-
Telegram Channel Link – Click Here
Join telegram

Leave a Comment